Connect with us

बलिया

एक ही इलाके में हत्या की दो वारदातों से दहला बलिया, दहशत का माहौल

Published

on

बलिया डेस्क: होली के एक दिन बाद ही जिले के एक ही थाना क्षेत्र के अंतर्गत अलग-अलग जगह पर हत्या के दो वारदात के कारण क्षेत्र में दहशत का माहौल पैदा हो गया है। पहला मामला बांसडीहरोड थाना क्षेत्र में आसचौरा-राजपुर मार्ग पर पुलिया के पास मंगलवार की सुबह दुर्गेश (19) पुत्र कामेश्वर पासवान निवासी छोटकी सेरियां थाना बांसडीह का खून से लथपथ शव मिला।

शरीर पर धारदार हथियार से कई जगह वार किया गया था। पुलिस अधीक्षक डा. विपिन ताडा ने घटना स्थल का निरीक्षण किया। पुलिस आशनाई से जोड़कर मामले को देख रही है। पूछताछ के लिए पुलिस ने तीन लोगों को हिरासत में लिया है।

पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतक के पिता कामेश्वर ने बताया कि उसके मोबाइल पर होली की रात करीब 9 बजे दुर्गेश के मोबाइल फोन पर एक काल आया। इसके बाद वह बात करते हुए घर से निकल गया। काफी देर तक उसे लौट के नहीं आने पर परिवार वाले उसकी तालाश शुरू कर दिए। कुछ देर बाद ही उसका मोबाइल फोन भी बंद हो गया।

 

परिवार वालों के काफी प्रयास के बाद भी उसका कोई पता नहीं चल सका। अगले दिन सुबह आसचौरा-राजपुर मार्ग पर स्थित पुलिया पर युवक के शव मिलने की सूचना पर परिवार के सदस्य पहुंच गए। इसके बाद वह अपने बेटे के शव को देखकर अवाक हो गए। सीने से लेकर पीठ तक चाकूओं से कई वार के निशान थे।

पुलिस की तलाशी में उसका मोबाइल फोन भी नहीं मिला। पुलिस अधीक्षक डा. विपिन ताडा ने घटना स्थल का निरीक्षण किया। उन्होंने अपर पुलिस अधीक्षक संजय कुमार, सीओ बांसडीह अशोक तिवारी व बांसडीह कोतवाल राजेश सिंह को आवश्यक निर्देश दिए।

वहीं दूसरी घटना बांसडीह रोड थाना क्षेत्र के ही अंतर्गत सराक गांव में राजभर बस्ती की एक युवती की गला काटकर हुई हत्या के बाद खेत से उसका शव मिलने से सनसनी फैल गयी। सोमवार की दोपहर गांव की राजभर बस्ती के समीप खेतों में गये कुछ लोगों ने युवती का शव वहां पड़ा देखा तो शोर मचाकर आस पास के लोगों को बुलाया।

इसके बाद मौके पर धीरे धीरे काफी संख्या में लोगों की भीड़ जमा हो गयी। युवती की पहचान सिंधु (18) पुत्री बबन राजभर निवासी सराक के रूप में हुई। घटना की खबर फैलते ही मौके पर काफी संख्या में ग्रामीणों की भीड़ लग गई। सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने शव का पंचनामा कर उसे पोस्टमार्टम के लिए भेजा।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

code

बलिया

सीएम योगी का बलिया दौरा; सपा नेता रहे दिन भर गिरफ्तार!

Published

on

बलिया। शुक्रवार को बलिया में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दौरे पर आए।उनके आगमन को लेकर बलिया पुलिस प्रशासन अलर्ट पर था। सीएम योगी के आगमन से पहले पुलिस ने रात से ही विपक्षी दल के नेताओं के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी थी। जबकि विपक्षी नेता योगी सरकार द्वारा जो वादे किए गए थे वो नहीं होने पर विरोध कर रही थे।

इसीलिए जिले में सीएम योगी के दौरे को लेकर विरोध प्रदर्शन की आशंका के चलते सपा नेताओं को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल में दिन भर बैठाए रखा। समाजवादी पार्टी के जिन नेताओं को विरोध करने के चलते गिरफ्तार किया गया उनमें सपा नेता राघवेन्द्र प्रताप सिंह, रोहित चौबे, बलिया के लोहिया वाहिनी के अध्यक्ष आशुतोष ओझा, लोहिया वाहिनी के प्रदेश सचिव धनंजय सिंह विशेन, पूर्व उपाध्यक्ष छात्रसंघ टीडी कॉलेज अंकित मिश्रा, सपा के छात्र नेता सिंटू यादव और प्रियांशु तिवारी, इम्तियाज़ अहमद हैं।

योगी आदित्यनाथ के बलिया दौरे के चलते समाजवादी पार्टी के सभी युवा नेता उनका विरोध कर रहे थे। सपा नेता राघवेन्द्र प्रताप सिंह को जिला अस्पताल से उस वक़्त गिरफ्तार किया गया जब सीएम योगी के खिलाफ नारेबाजी की तैयारी कर रहे थे। वहीं यूथ कांग्रेस के प्रदेश सचिव अभिजित सत्यम तिवारी के घर से पुलिस ने सुबह हिरासत में लेकर कर थाने भेज दिया। बाद में सीएम योगी के जिले से जाने के बाद सभी नेताओं को रिहा किया गया।

Continue Reading

बलिया

बलिया- मुख्यमंत्री के साथ कोर कमेटी की बैठक में मेडिकल कालेज की मांग

Published

on

बलिया। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज बलिया जनपद में स्वास्थ्य सुविधाओं एवं विकास कार्यों का स्थलीय निरीक्षण किया। वैक्सीनेशन अभियान का जायजा लेने के लिए उन्होंने ट्रामा सेंटर में चल रहे वैक्सीनेशन सेंटर का भी निरीक्षण किया। इसके बाद कलेक्ट्रेट सभागार में विकास कार्यक्रमों, कानून व्यवस्था एवं कोविड नियंत्रण की समीक्षा बैठक की और पुलिस-प्रशासन के कार्याें पर संतोष व्यक्त किया। इस दौरान मुख्यमंत्री के साथ हुई कोर

कमेटी की बैठक में जिले जनप्रतिनिधियों ने अपने-अपने क्षेत्र में योजनाओं को लेकर बात रखी।इसमें सभी ने गेहूं क्रय केंद्र की समस्या का प्रमुखता से रखा। मुख्यमंत्री के सामने गंगा पर बने जनेश्वर मिश्र सेतु का चालू करने की मांग की मांग की। जिले में मेडिकल कालेज बनाने, बैरिया में रोडवेज डिपो खोलने समेत  ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य सुविधा बढ़ाने के मुद्दे को रखा। मुख्यमंत्री ने जनप्रतिनिधियों की मांगों को पूरा करने का आश्वान दिया।

जिलाध्यक्ष जय प्रकाश साहू ने बताया कि जल्द ही जिले में कई योजनाएं संचालित होगी। वहीँ बेलथारा रोड विधायक धनंजय कन्नौजिया ने बलिया में मेडिकल कालेज की चर्चा के दौरान इब्राहिमपट्टी में मौजूद पूर्व पीएम चंद्रशेखर सिंह के परिवार के देखरेख में संचालित ट्रस्ट इब्राहिमपट्टी अस्पताल भवन को ही मेडिकल कालेज के रुप में विकसित करने का प्रस्ताव रखा।

मुख्यमंत्री ने जयप्रकाशनगर व इब्राहिमपट्टी में स्थित अस्पताल को अपग्रेड कर वहां स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर करने की भी बात कही। उन्होंने बताया कि जिन विभागों में किन्हीं कारणों से कार्य लम्बित है तो सम्बन्धित विभागाध्यक्ष तत्काल अपने मुख्यालय से सम्पर्क कर उनका समाधान करा

Continue Reading

बलिया

बलिया डीएम ने इस बड़े गैंग लीडर की अवैध संपत्ति कुर्क करने का आदेश दिया

Published

on

बलिया डीएम ने गैंग लीडर विशम्भर यादव द्वारा अर्जित 2 करोड़ 13 लाख 14 हजार की अवैध संपत्ति कुर्क करने का आदेश दिया है। प्रभारी निरीक्षक गड़वार बलिया की तहरीर और पुलिस अधीक्षक बलिया की संस्तुति पर गैंगलीडर विशम्भर यादव की संपत्ति को कुर्क करने का आदेश दिया है। विशम्भर टकरसन गांव का रहने वाला है। इसका बलिया में एक संगठित गिरोह है। विशम्भर द्वारा आर्थिक, भौतिक, दुनियाबी लाभ के लिए संगठित तरीके से हत्या, हत्या के प्रयास, लूट, डकैती और अन्य अपराधों को अंजाम दे चुका है।

विशम्भर का लोगों में डर इस कदर है कि कोई भी व्यक्ति उसके खिलाफ आवाज उठाने की हिम्मत नही करता। यही नहीं विशम्भर ने अपनी आपराधिक गतिविधियों के बल पर अवैध तरिके से चल और अचल सम्पत्तियां अर्जित कर रखी हैं। अभियुक्त के विरुद्ध गैंगैस्टर एक्ट अपराध के अतिरिक्त बलिया के विभिन्न थानों व जनपद लखनऊ सहित अन्य जिलों में कुल 14 मामले दर्ज हैं। विशम्भर के विधिक तरीके से आय का कोई ठोस स्त्रोत नहीं है।

इसके द्वारा 2 करोड़ 13 लाख 14 हजार की चल-अचल सम्पत्तियाँ अवैधानिक ढंग से बनाई गई है। कुछ संम्पतियाँ विशम्भर ने शिवनारायण और नीतू के नाम से अर्जित की हैं। पुलिस ने जांच में उसके आय के स्त्रोत के कानून सम्मत नहीं पाया। जिलाधिकारी बलिया ने उ0प्र0 गिरोहबन्द व समाजविरोधी क्रियाकलाप (निवारण) अधिनियम 1986 की धारा 14(1) के अन्तर्गत उक्त सम्पत्ति को कुर्क करने का आदेश दिया है।

Continue Reading

TRENDING STORIES