Connect with us

बलिया स्पेशल

बलिया में पनीर के नाम पर बेचा जा रहा है ज़हर!

Published

on

बलिया डेस्क : सावधान! सेहत ठीक करने के लिए आप जो पनीर खा रहे हैं या फिर मेहमानों के लिए जो पनीर मंगवाकर आप उन्हें शाही पनीर का स्वाद चखवा रहे हैं वह दरअसल जहर है। यही हाल लगभग सभी होटलों, रेस्टूरेंट का है यहां जो आप पनीर के तरह-तरह के पकवान आर्डर करते हैं वह सब जहर है।

जिले में आज कल मिलावटी मावा-पनीर का धंधा जोरों से चल रहा है। मिलावटखोर आपकी सेहत से खिलवाड़ कर रहे हैं। बलिया में भी इन दिनों सप्रेटा दूध से पनीर तैयार कर लोगों की सेहत से खिलवाड़ किया जा रहा है। चूंकि जनपद में फूड विभाग निष्क्रिय है। लिहाजा इसी का फायदा उठाकर मिलावटखोर धड़ल्ले से अपना धंधा चला रहे हैं।

वहीँ इस मामले पर जब फूड इंस्पेक्टर संतोष कुमार का कहना है कि हम लोग समय-समय पर जांच करते हैं तथा कार्रवाई भी करते हैं, यदि इस तरह की बात है तो हमारे पास कोई शिकायत दर्ज कराएं, हम निश्चित तौर पर कार्रवाई करेंगे।

ऐसे कर सकते हैं मिलावटखोरों की शिकायत
उपभोक्ताओं को फूड सेफ्टी एंड स्टैंडर्ड अथॉरिटी आफ इंडिया की वेबसाइट पर जाना होगा। वेबसाइट पर सिटीजन कनेक्ट के नाम से एक सिंबल बना हुआ है। वहां पर उपभोक्ता को क्लिक करना होगा। उससे नया पेज खुल जाएगा। उसके बाद दिए गए निदेर्शों के मुताबिक कॉलम भरना होगा। फोटो अपलोड कीजिए और उसे भेज दीजिए। 15 दिन के भीतर स्थानीय अफसर शिकायत पर कार्रवाई कर देगा। इसकी जानकारी भी शिकायतकर्ता को दी जाएगी।

ऐसे करें असली पनीर की पहचान
पनीर का एक छोटा सा टुकड़ा अपने हाथ पर मसल कर देख ले अगर यह टूट कर बिखरने लग जाए तो समझ लीजिए पनीर मिलावटी होता है क्योंकि इसके अंदर जो केमिकल होता है वह ज्यादा दबाव सह नहीं पाता और वह बिखरने लग जाता है। हमेशा एक बात और ध्यान रखें कि नकली पनीर हमेशा ही टाइट होगा वह एक रबर की तरह नहीं होता है।

अगर आप कभी भी गलती से पनीर घर ला चुके हैं तो उसको थोड़ा सा पानी में उबालकर ठंडा कर लें जब वह ठंडा हो जाए उसके बाद कुछ बूंदें उसके ऊपर आयोडीन की कूछ बूंदे डाल दें अगर पनीर का रंग नीला पडऩे लग जाए तो समझ लीजिए कि यह बहुत मिलावटी है। जब भी आप मिलावटी पनीर खाएंगे रबर की तरह खींचता चला जाएगा, इसलिए मिलावटी पनीर से बचें क्योंकि हमारे शरीर को बहुत ज्यादा नुकसान पहुंचा सकती है।

रिपोर्ट- तिलक कुमार 

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

code

बलिया स्पेशल

झमाझम बारिश से पानी-पानी बलिया, सड़कें लबालब, चौकी में भी भरा पानी

Published

on

बलिया। उत्तरप्रदेश के कई जिलों में भारी बारिश का अलर्ट है।बलिया जिले में भी बारिश का दौर जारी है। शुक्रवार को हुई झमाझम बारिश से जलभराव के चलते नगर की सड़कें और स्कूल तालाब में तब्दील हो गए। जलभराव की वजह से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा।इतना ही नहीं भारी बारिश की वजह से सीयर चौकी में तक पानी घुस गया। जहां पुलिसकर्मी बारिश का पानी बाहर निकालते दिखे। बारिश के अलर्ट की वजह से सभी से सावधान रहने की अपील की जा रही है। बारिश के कारण जलभराव से बीमारियों का खतरा भी बढ़ रहा है।
बता दें खराब मौसम को देखते हुए मुख्यमंत्री ने स्कूल- कॉलेज को दो दिन के लिए बन्द कर दिया है। रात से हुई लगातार तेज बारिश से नगर की नालियों और सड़कों पर पूरा पानी भर गया। जिससे आने जाने में लोगो की परेशानियों का सामना करना पड़ा। नगर स्थित पुलिस चौकी सीयर के कार्यालय में तेज बारिश के चलते पानी भर जाने से वहां के पुलिसकर्मी पानी को बाहर बर्तन से फेकते नजर आये। वहीं नगर के मिडिल स्कूल और प्राथमिक तथा कस्तूरबा गांधी विद्यालय सीयर के प्रांगण में भी लगभग एक फीट जल जमाव हो गया है।

स्कूल परिसर में पानी इतना भर गया है कि पूरा स्कूल परिसर तालाब का रूप ले लिया है। जलभराव के चलते ड्यूटी कार्य के लिए कर्मचारियों को पानी से होकर कार्यालय में जाना पड़ा। जल निकासी की समस्या के चलते कई दिनों तक पानी लगा रहेगा। जिसके चलते मच्छरों और संक्रामक रोगों के फैलने की आशंका प्रबल हो गयी है। बारिश के बाद बीमारियों का खतरा बढ़ जाएगा। जिलें में डेंगू और मलेरिया के मरीज भी बढ़ रहे हैं। ऐसे में स्वास्थ्य विभाग के लिए भी चिंता बढ़ गई है।

Continue Reading

बलिया स्पेशल

UP में भारी बारिश के चलते इतने दिन स्कूल-कॉलेज रहेंगे बंद, CM योगी का निर्देश

Published

on

उत्तर प्रदेश के 40 जिलों में 24 घंटे से लगातार हो रही बारिश के चलते योगी सरकार ने दो दिन स्कूल-कॉलेजों बंद रखने का फैसला किया है। इस तरह बलिया समेत पूरे प्रदेश में शुक्रवार, शनिवार और फिर रविवार सहित तीन दिन स्कूल बंद रहेंगे। सीएम ने कहा कि इस आपदा के चलते जिलों में राहत कार्य प्रभावी रूप से कराने का आदेश दिया है। सीएम ने जनता से सावधानी बरतने की अपील की है। सीएम का कहना है कि इस मुश्किल घड़ी में सरकार जनता के साथ है। हर संभव मदद की जा रही है। राहतकार्य लगातार जारी है। सरकार की ओर से कोई कमी नहीं रहने दी जाएगी।

बताया जा रहा है कि कई जिलों में तो लगातार दो दिन यानी 48 घंटे से बारिश थमने का नाम नहीं ले रही है। जिसके चलते मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी मण्डलायुक्तों तथा जिलाधिकारियों को पूरी तत्परता से राहत कार्य संचालित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि वरिष्ठ अधिकारीगण क्षेत्र का भ्रमण कर राहत कार्यों पर नजर रखें। उन्होंने अगले 02 दिन 17 और 18 सितम्बर 2021 को प्रदेश में स्कूल-कॉलेजों सहित सभी शिक्षण संस्थानों को बन्द रखने के निर्देश दिए हैं। बलिया समेत पूरे प्रदेश में रविवार सहित दिन 3 तक स्कूल-कॉलेज बंद रहेंगे।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने लोगों से सावधानी बरतने की अपील की है। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस आपदा के दृष्टिगत जनपदों में राहत कार्य प्रभावी रूप से कराए जाएं। आपदा से प्रभावित लोगों को तत्काल राहत पहुंचायी जाए। जल जमाव की स्थिति में प्राथमिकता पर जल निकासी की व्यवस्था करायी जाए। उन्होंने सम्बन्धित जनपदों के अधिकारियों को इस आपदा से हुए नुकसान का आकलन करने के निर्देश दिए हैं।

Continue Reading

बलिया स्पेशल

बीजेपी में कार्यकर्ता ही प्रेरणास्रोत, प्रबुद्ध सम्मेलन में बोले कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य

Published

on

बलिया। उत्तरप्रदेश में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारी सभी पार्टियों ने तेज कर दी है। बीजेपी भी मतदाताओं से संवाद करने के लिए प्रबुद्ध सम्मेलन कर रही है। इसी कड़ी में बलिया की सिकंदरपुर विधानसभा क्षेत्र में भी प्रबुद्ध सम्मलेन का आयोजन किया गया। सिकंदरपुर के जूनियर हाई स्कूल के सभागार में आयोजित सम्मेलन में कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य मुख्य अतिथि रहे। जिन्होंने कार्यकर्ताओं में जोश भरते हुए पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को याद किया। और पिछली सरकारों को भी आड़े हाथ लिया। इसके अलावा सांसद रवींद्र कुशवाह और विधायक संजय यादव ने प्रदेश सरकार की तारीफ करने के साथ ही पिछली सरकार की नाकामी गिनाई। और प्रदेश सरकार की योजनाओं की जानकारी दी।

भाजपा की ओर से आयोजित प्रबुद्ध सम्मेलन में मुख्य अतिथि कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य रहे। जिन्होंने पंडित दीनदयाल उपाध्याय और डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के चित्र पर माल्यार्पण कर सम्मेलन की शुरूआत की। अपने संबोधन में स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा कि भाजपा अपने एक-एक कार्यकर्ता को पार्टी का प्रेरणास्रोत मानकर काम करती है। डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी और पंडित दीनदयाल उपाध्याय का त्याग और बलिदान हर कार्यकर्ता के रग-रग में ऊर्जा प्रवाहित करता है। कार्यकर्ताओं का दायित्व है कि देश और समाज की भलाई के लिये खुद ही सरकार की योजनाओं की जानकारी आमजन तक पहुंचाएं और उन्हें लाभान्वित कराने में भी योगदान दें। मोर्य ने आगे कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार में, चाहे वह देश हो या प्रदेश, जनता खुशहाल है, किसान खुशहाल हैं। रोजगार के बड़े-बड़े अवसर उपलब्ध हुए हैं, वहीं पिछली सरकारों में सारी सुविधाएं जनता के सामने आने से पहले ही भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ जाती थी।

कार्यक्रम में शामिल हुए सांसद रवींद्र कुशवाहा ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार में सबका साथ सबका विकास का नारा बुलंद हुआ है। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा दी जाने वाली योजनाएं जन-जन तक पहुंच रही हैं। विधायक संजय यादव ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार में हर प्रकार की योजनाओं को गरीबों तक पहुंचाया गया है। चाहे वह आवास की योजना हो, चाहे रोजगार की हो, चाहे पेंशन की हो। उन्होंने कहा कि पूर्ववर्ती सरकारों में इन योजनाओं का लाभ गरीबों को नहीं मिलता था। भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ जाता था। कार्यक्रम में प्रमुख रूप से पूर्व मंत्री राज धारी सिंह, पूर्व विधायक भगवान पाठक, विधानसभा प्रभारी योगेंद्र नाथ राय, रवि राय, अक्षय लाल यादव, गणेश सोनी, प्रयाग चौहान, चेयरमैन डॉ रविंदर वर्मा आदि लोग मौजूद रहे।

Continue Reading

TRENDING STORIES

error: Content is protected !!