Connect with us

बलिया

बलिया में प्राइवेट चिकित्सा व निर्सिंग होम पर छापेमार कार्यवाई, कई अस्पताल सील

Published

on

बलिया में जिलाधिकारी सौम्या अग्रवाल के निर्देश पर प्राइवेट अस्पताल व नर्सिंग होम की सघन जांच की जा रही है। इनमें से कई अवैध रुप से संचालित हो रहे हैं तो कई मानक के अनुरुप मिले। उप जिलाधिकारी के नेतृत्व में अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी तथा चिकित्सा अधिकारी की टीम अब ऐसे क्लीनिकों पर कार्यवाई कर रही है।

अभियान के तहत ऋषि हॉस्पिटल, रसड़ा के आकस्मिक निरीक्षण में पाया गया कि दो मरीजों का ऑपरेशन डॉक्टर सुशील कुमार सिंह, आयुष चिकित्सक द्वारा किया गया जो सर्जरी के लिए अधिकृत नहीं है। ऑपरेशन थिएटर में ओ0टी0 टेबल तथा सक्शन मशीन तथा ओ0टी0 लाइट की व्यवस्था नहीं पाई गई। डॉक्टर देवेंद्र प्रसाद सरोज, एम0बी0बी0एस0, एम0एस0 तथा डॉक्टर देवेंद्र रजक एम0बी0बी0एस0 के नाम पर हॉस्पिटल का पंजीकरण कराया गया है। दोनों डॉक्टर अनुपस्थित पाए गए। परिणाम स्वरूप उप जिलाधिकारी रसड़ा, सर्वेश यादव, अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी, डॉ0 विजय यादव तथा अधीक्षक सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रसड़ा, बब्बन यादव द्वारा ऋषि हॉस्पिटल को सील कर दिया गया।

इसी क्रम में सदर एसडीएम जुनैद अहमद टीम के साथ जीवन रेखा चिकित्सालय महिला चिकित्सालय रोड, बलिया का निरीक्षण करने पहुंचे। इस दौरान काफी अनियमितता मिली। जहां चिकित्सालय के पंजीकरण से संबंधित कोई अभिलेख उपलब्ध नहीं है। बी0ए0एम0एस0 चिकित्सक द्वारा मरीजों का उपचार एलोपैथ विद्या से किया जा रहा है। भर्ती महिला का सिजेरियन प्रसव शोभा, बी0ए0एम0एस0 चिकित्सक द्वारा किया गया था परंतु प्रसव के अभिलेख पर डॉ0 एस0के0 उपाध्याय का नाम दर्ज था। चिकित्सालय तथा ओ0टी0 में साफ-सफाई की स्थिति खराब पाई गई। जिसके बाद हॉस्पिटल को सील किया गया।

निराला नगर,गढ़वार रोड स्थित आकांक्षा हॉस्पिटल का भी निरीक्षण उप जिलाधिकारी जुनैद अहमद, जिला सर्विलांस अधिकारी डॉ0 अभिषेक मिश्रा, प्रभारी चिकित्सा अधिकारी, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र वैना, डॉ0 धर्मेंद्र कुमार द्वारा किया गया। चिकित्सालय के निरीक्षण के दौरान पाया गया कि इस चिकित्सालय में पंजीकृत 10 शैया युक्त चिकित्सालय के रूप में करने हेतु आवेदन किया गया है। निरीक्षण के समय उक्त चिकित्सालय में कोई भी चिकित्सक उपलब्ध नहीं पाया गया।

चिकित्सालय में पैरामेडिकल स्टाफ शोभा एवं पुष्पा पाई गयी। श्रीमती पुष्पा द्वारा बताया गया कि उनके पास जे0एन0एम0 की शैक्षणिक योग्यता है। तथा शोभा ,स्टाफ नर्स 12वीं पास है। निरीक्षण के समय चिकित्सालय में एक महिला मरीज भर्ती पाई गई जिसकी हिस्टरेक्टमी की गई थी परंतु चिकित्साकीय आकस्मिकता के प्रबंधन हेतु आवश्यक औषधि एवं उपकरण उपलब्ध नहीं पाए गए। भर्ती मरीज के उपचार से संबंधित किसी भी चिकित्सकीय अभिलेख का रखरखाव चिकित्सालय द्वारा नहीं किया जा रहा था और नहीं मरीज के ऑपरेशन से पहले कोई लिखित कंसेंट प्राप्त किया गया था।

चिकित्सालय द्वारा संचालित ओ0टी0 में निरीक्षण के समय ताला बंद पाया गया तथा मौके पर मौजूद पैरामेडिकल स्टाफ द्वारा चाबी न होने का हवाला देते हुए ओ0टी0 का निरीक्षण नहीं कराया गया। चिकित्सालय में मरीजों / शिशुओं को टीकाकरण संबंधी सुविधा भी प्रदान की जा रही थी परंतु कोल्ड चेन आदि की कोई व्यवस्था चिकित्सालय में उपलब्ध नहीं थी। चिकित्सालय द्वारा उत्सर्जित जैविक अवशिष्ट (बायो मेडिकल वेस्ट) का समुचित निस्तारण एवं प्रबंधन नहीं किया जा रहा था।

मौके पर उपस्थित पैरामेडिकल स्टाफ द्वारा इस संबंध में कोई संतोषजनक उत्तर नहीं दिया गया एवं जैविक अपशिष्ट प्रबंधन से संबंधित कोई अभिलेख प्रस्तुत नहीं किए गए। प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड का अनापत्ति प्रमाण पत्र अनुउपलब्ध था। अग्निशमन की समुचित व्यवस्था नहीं थी। चिकित्सालय द्वारा ओ0पी0डी0, आई0पी0डी0, सामान्य तथा सिजेरियन प्रसव एवं अन्य चिकित्सकों को क्रियाओं को किया जा रहा था परंतु प्रसव से संबंधित कोई भी अभिलेख मौके पर उपस्थित पैरामेडिकल स्टाफ द्वारा नहीं दिखाया गया। चिकित्सालय द्वारा प्रयोग किए जाने वाले पर्चे एवं चिकित्सालय के बोर्ड पर किसी की शैक्षणिक योग्यता नहीं पाई गई। मुख्य चिकित्सा अधिकारी द्वारा अवगत कराया गया कि यह अभियान जारी रहेगा तथा ऐसे अनधिकृत चिकित्सालयो के विरुद्ध नियमानुसार कार्यवाही की जाएगी।

बलिया

बलियाः फोरलेन लिंक रोड के लिए 238 फुट चौड़ी जमीन का होगा अधिग्रहण

Published

on

बलियाः ग्रीनफील्ड एक्सप्रेस वे के नए अलाइनमेंट के लिए 238 फुट चौड़ी जमीन अधिगृहित की जाएगी। इसको लेकर किसान काफी परेशान हैं क्योंकि फोरलेन का निर्माण होने से कई खेतों के दो टुकड़े हो जाएंगे। ऐसे में किसानों की खेती प्रभावित होगी।

वहीं खेत कटने से सड़क के दूसरे ओर जाना भी मुश्किल होगी। दूसरी ओर 100 से अधिक पेड़ भी काटने होंगे। इस एक्सप्रेस वे के बनने से गड़हांचल के भरौली, बघौना, एकौनी, टुटुवारी आदि गांवों के किसानों की चिंता भी बढ़ गई है। बघौना गांव के किसानों का कहना है कि कई जमीनें के आधे से अधिक हिस्सा अधिग्रहण के दायरे में आ रहे हैं ऐसे में शेष जमीनों पर खेती करना काफी मुश्किल होगा।

क्योंकि खेतों दो टुकड़ों में बंट जाएंगे। किसानों के खेत के बीच से सड़क गुजरेगी। चकमार्ग और नाली भी खत्म हो जाएंगे। इसके अलावा भरौली से करीमुद्दीनपुर तक बनने वाले फोरलेन के बीच 100 से अधिक पुराने पेड़ों को काटना भी पड़ेगा।

बता दें कि बिहार से यूपी को जोड़ने के लिए यह कवायद शुरु हुई है। पहले गंगा पुल के बाद भरौली से हैदरिया तक फोरलेन लिंक रोड बनाकर पूर्वांचल एक्सप्रेस वे से जोड़ने की तैयारी थी लेकिन अब भरौली से फोरलेन लिंक रोड ग्रीनफील्ड से जोड़ने की तैयारी है। इसके लिए कुल 8 लेन बननी है, इसमें 238 फुट चौड़ाई में जमीन अधिग्रहण होगा। हालांकि अभी इसका खुलासा विभाग की ओर से नहीं किया जा रहा है।

Continue Reading

featured

बलिया में सनसनीखेज वारदात, थप्पड़ मारने पर युवती की हत्या, आरोपी ने किया सरेंडर

Published

on

बलिया की कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत बहेरी में युवती की चाकू मारकर हत्या का मामला सामने आया है। जहां 19 वर्षीय सोनू उर्फ दिलशाद ने युवती को मौत के घाट उतार दिया। हत्या करने के बाद आरोपी खुद कोतवाली पहुंच गया और पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया। आरोपी सनकी दिमाग का बताया जा रहा है। पुलिस के सभी आलाधिकारी घटनास्थल पर पहुंचे और मामले की छानबीन में जुट गए है।

जानकारी के मुताबिक घटना रविवार अलसुबह की है। बहेरी का रहने वाला सोनू पुलिस भर्ती की तैयारी कर रहा था। लेकिन युवती ने उसको थप्पड़ मारकर मुकदमे में फंसा कर जीवन खराब करने की धमकी दी थी। तभी से युवक युवती की हत्या की फिराक में था।

रविवार सुबह सोनू ने युवती की चाकू घोंपकर हत्या कर दी और खुद कोतवाली पहुंच गया। यहां उसने पुलिस वालों से कहा कि वह हत्या करके आया है। जिसके बाद कोतवाली में हड़कंप मच गया। आलाधिकारियो को सूचना देने के साथ ही शहर कोतवाल घटना स्थल पर पहुंचने के बाद जिला अस्पताल पहुंच गये। सीओ सिटी प्रीति त्रिपाठी और अपर पुलिस अधीक्षक डीपी त्रिपाठी भी जिला अस्पताल पहुंच गये। आरोपी युवक से पूछताछ की जा रही है।

Continue Reading

बलिया

बलिया- केपी मेमोरियल महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं एवं एनसीसी कैडेट्स ने निकाली तिरंगा यात्रा

Published

on

बलिया: आजादी का अमृत महोत्सव के अंतर्गत केपी मेमोरियल महाविद्यालय, सुहवां रतसर की ओर से शनिवार तिरंगा यात्रा निकाली गई। प्रबंधक अमित कुमार यादव के नेतृत्व में महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं और एनसीसी कैडेट्स ने उत्साह से हाथ में तिरंगा लिए इस यात्रा में प्रतिभाग किया। देशभक्ति नारे के उद्घोष के साथ पूरे रतसर कस्बे में भ्रमण किया गया।

प्रबन्धक अमित यादव ने कहा कि पूरा देश आजादी का अमृत महोत्सव बना रहा है। यह सौभाग्य की बात है कि हम सब स्वतंत्रता सप्ताह और हर घर तिरंगा अभियान के माध्यम से हम आजादी की लड़ाई में बलिदान हुए अमर सेनानियों व वीर सपूतों को याद करते हुए उनको सच्ची श्रद्धाजंलि अर्पित कर रहे हैं। इस अवसर पर एनसीसी कैडेट्स ऑफिसर मो.असलम, धर्मेंद्र यादव, सोनू यादव, जयराम सहित सभी स्टाफ शामिल थे।

Continue Reading

TRENDING STORIES

error: Content is protected !!