एनएच 31 पर सड़कें हुई गायब, ब’लिया के साथ इस’से बु’रा और क्या होगा

0

बलिया डेस्क: एनएच 31 कई जगहों पर अब पूरी तरह से गड्ढों में तब्दील हो चुका है और सबसे बुरा हाल बैरिया का है, जहाँ पर गड्ढे इस हद तक सड़कों पर आ गए हैं, जिसमे से गाड़ी निकालने ख’तरे से खाली नहीं है. आलम यह है कि यहाँ से गुजरने वाली कमोबेश हर गाड़ी गड्ढों में फंस जाती है और अगर ज़रा सी भी बारिश हो गयी तो स्थिति और ख’राब हो जाती है. जाम तो अक्सर लगा ही रहता है. आपको बता दें कि इन गड्ढों की वजह से अब तक कई हाद’सा हो चुका है जिसमे कई जा’नें भी जा चुकी हैं और सैकड़ों लोग घायल हो चुके हैं.


लेकिन कोई इसकी सुध लेने वाला नहीं है. बहरहाल, अब ऐसी स्थिति में सुधार लाने के लिए समाजसेवी दुर्ग विजय सिंह झल्लन आगे आये और उन्होंने अपने साथियों के साथ मिलकर अनशन किया. गुरुवार की रात लोगों ने एनएच 31 की मरम्मत की मांग को लेकर प्रदर्शन किया. इस दौरान ओझा कटरा के पास भारी जाम लग गया. यह जाम 17 घंटे तक बना रहा और शुक्रवार करीब दो बजे के बाद जाम खुल सका.


प्रदर्शन करने वाले लोगों का कहना था कि प्रशासन इस तरफ ध्यान नहीं दे रहा है. हालाँकि मौके पर पहुंचे बैरिया थाने के एसएचओ संजय त्रिपाठी ने प्रदर्शन कर रहे लोगों को समझाने की कोशिश की और रास्ते से हटने को कहा ताकि रास्ता बहाल हो सके और जाम न लगे लेकिन लेकिन लोग नहीं मानें. बाद इसके आखिरकार प्रशासन ने सड़क के गड्ढों में गिट्टी दलवाई, जिसके बाद लोगों का गुस्सा शांत हुआ.


लोगों का कहना है कि यहाँ इतने बड़े बड़े गड्ढे हैं जिसकी वजह से बैरिया से मांझी तथा बैरिया से दलपतपुर चट्टी तक बीस बीस किलोमीटर तक जाम लग जाता है. बहरहाल, अब लोगों की नाराज़गी देखते हुए प्रशासन का कहना है कि जल्द ही गड्ढों को ईंट के टुकड़ों से भरा जाएगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here