Connect with us

बेल्थरा रोड

समाजवादी पार्टी ने बेल्थरा रोड की नगर कार्यकारिणी का किया गठन

Published

on

बेल्थरा रोड। समाजवादी पार्टी बेल्थरा रोड की नई नगर कार्यकारिणी का गठन हो गया है। विधानसभा अध्यक्ष इरफान अहमद ने इसे अनुमोदित कर दिया है, जिसके बाद नगर अध्यक्ष शिवम बरनवाल ने सोमवार को प्रेस कांफ्रेंस कर कार्यकारिणी के पदाधिकारियों के नामों की घोषणा करने के साथ ही मनोनयन पत्र भी वितरित किया।

नगर अध्यक्ष शिवम बरनवाल ने कहा कि प्रदेश में बढ़ते अपराधों पर शासन नियंत्रण पाने में विफल है। किसान खाद, बीज, पानी, विद्युत आदि मूलभूत सुविधाओं से वंचित है। इन्हीं विफलताओं के चलते किसान आंदोलन को विवश है। वर्तमान सरकार जाति और धर्म की राजनीति करती है। जबकि भारतीय संविधान धर्म निरपेक्ष है।

नई कार्यकारिणी में चार उपाध्यक्ष, एक महासचिव, एक कोषाध्यक्ष और छह सचिवों के अलावा चौदह सदस्यों को जगह मिली है। इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष इरफान अहमद समेत सपा के वरिष्ठ नेता रुद्र प्रताप यादव, अमन बरनवाल, राजू जायसवाल, अतुल तिवारी सहित तमाम समाजवादी कार्यकर्ता उपस्थित रहें।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

code

बलिया

बलिया में कानून व्ययवस्था फेल? बेल्थरा रोड में व्यक्ति की हत्या, जिले में लगातार हो रही वारदात से सवालों में पुलिस

Published

on

बलिया में कानून व्यवस्था बेपटरी हो गई है। जिले में हत्या, चोरी, किडनैपिंग और खुलेआम गुंडागर्दी आम बात हो गई है। बदमाशों के हौंसले बुलंद हैं और पुलिस के हाथ खाली। ताजा मामला बेल्थरा रोड से सामने आया जहां डेरे में सो रहे व्यक्ति की धारदार हथियार से गला रेतकर हत्या कर दी गई।

घटना बेल्थरा रोड की है, जहां फरसाटार निवासी 50 वर्षीय भागीरथी शुक्रवार रात घर से थोड़ी दूर नगरा बेल्थरारोड मार्ग स्थित डेरे पर सोने गए। शनिवार सुबह चार बजे उनकी पत्नी धनवती उसे उठाने के लिए डेरे पर पहुंची तो पति की खून से सनी लाश देखी। पति का शव देखकर पत्नी के होश उड़ गए, उसने शोर मचाया। जिसके बाद आसपास के लोग मौके पर पहुंचे। मामले की सूचना पुलिस को दी।

मौके पर पहुंची पुलिस ने घटनास्थल की जांच की। जहां भागीरथी का सिर चारपाई के पायदान की तरफ था। गर्दन, बाएं कंधे और कमर से ऊपर खून के निशान और काले धब्बे थे। घटना के बाद ग्रामीणों में खौफ का माहौल है। भागीरथी के आसपास भी लोग अपने डेरे पर सोए थे, लेकिन किसी ने कोई शोर नहीं सुना। ऐसे में आशंका जताई जा रही हैं कि आरोपियों ने व्यक्ति की हत्या कहीं और करने के बाद उसका शव वापस खटिया पर रख दिया। मृतक के दो पुत्र और तीन पुत्रियां हैं, जिसमें एक पुत्री की शादी हो चुकी है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। उभांव एसएचओ अविनाश कुमार सिंह ने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही स्थिति और स्पष्ट हो सकेगी।

वहीं इससे पहले गुरुवार को सहतवार के महाराजपुर गांव में देर रात एक अधेड़ की गला रेत कर हत्या का मामला सामने आया था। महाराजपुर निवासी केशव यादव एक झोपड़ी किराये पर लेकर लोगों के यहां गाय-भैंस पालकर गुजर करता था। गुरुवार रात करीब 9.30 बजे केशव गांव के पूर्व प्रधान राधेश्याम राम के दरवाजे पर सो गया। इसी बीच किसी ने रात में उसकी धारदार हथियार से हत्या कर दी। सुबह पूर्व प्रधान के घर के सदस्य घर से बाहर निकले तो केशव का शव दिखा। मौके पर पहुंची पुलिस ने पूर्व प्रधान के घर के सदस्य अमीर राम की तहरीर पर अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।

गौरतलब है कि बलिया में लगातार लूट-हत्या के मामले सामने आ रहे हैं। कई मामलों में पुलिस आज तक अपराधियों तक नहीं पहुंच पा रही हैं। ऐसे में जिले के लोग असुरक्षित महसूस कर रहे हैं वहीं लगातार सामने आ रही अपराधिक घटनाओं के बाद लोगों की रक्षा का दम भरने वाली पुलिस भी सवालों के घेरे में हैं।

Continue Reading

featured

बेलथरा रोड में ईडी की एंट्री से हड़कंप, इस शख्स के घर चस्पा किया नोटिस, जानिए पूरा मामला

Published

on

बलियाः करीब दस वर्ष पुराने प्रदेश के बहुचर्चित एनआरएचएम (राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन) घोटाले के मामले में ईडी (Enforcement Directorate) ने पूर्व सीएमओ कन्हैया लाल पर शिकंजा कसा है। कन्हैया लाल के बेल्थरारोड वार्ड सात स्थित मकान पर ईडी ने जमानती वारंट नोटिस चस्पा किया है।

यह नोटिस प्रवर्तन निदेशालय के असिस्टेंट डायरेक्टर अंकुर जायसवाल के हस्ताक्षर से जारी किया गया है। नोटिस चस्पा करने के साथ ही ईडी ने सख्त रुख अपनाना शुरु कर दिया है। माना जा रहा है कि पूर्व सीएमओ पर बड़ी कार्यवाही हो सकती है।

इससे पहले भी ईडी ने 30 जुलाई तक हाजिर होने की मोहलत दी थी। अब ईडी ने जमानती वारंट नोटिस चस्पा किया है। बताया जा रहा है कि कन्हैया लाल का लोकेशन चित्रकूट मिल रहा है, जहां वे अपने बेटे सुभ्रांशु के साथ रह रहे हैं। करीब ढ़ाई माह पहले मोहल्लेवासियों ने उन्हें इस घर में देखा था, उसके बाद से यहां ताला लगा हुआ है।

बता दें कि एनआरएचएम घोटाले के समय कन्हैयालाल गोरखपुर में सीएमओ के पद पर पदस्थ थे। 2012 में वह कुशीनगर के स्वास्थ्य विभाग के एडी पद पर रह चुके थे। 2011 में केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की चार सदस्यीय टीम ने यूपी में राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन (एनआरएचएम) में हुए हजारों करोड़ के घोटाले की जांच शुरू किया था। 17 जिलों के तत्कालीन सीएमओ और 22 निजी फर्मों के खिलाफ चार मुकदमे भी दर्ज किए थे। इनमें बहराइच के तत्कालीन सीएमओ हरिप्रकाश, गोंडा के पूर्व सीएमओ एसपी पाठक, गोरखपुर के पूर्व सीएमओ कन्हैयालाल जांच के घेरे में रहे।

2012 में ही सीबीआई ने उन्हें हिरासत में लेकर बेल्थरारोड पहुंची थी और उनके आवास पर छापेमारी की थी। कई दस्तावेजों को जब्त कर सीबीआई कन्हैया को बेल्थरारोड में ही छोड़कर वापस लौट गई थी। इसके बाद सीबीआई ने लंबी जांच की। सीबीआई ने  22 जिलों में दवा आपूर्ति में 22 करोड़ रुपये की अनियमितता भी पकड़ी थी। इस चर्चित एनआरएचएम घोटाले में स्वास्थ्य विभाग के उच्च पदस्थ तीन चिकित्सकों की हत्या हो चुकी है, जबकि एक ने खुदकुशी कर ली थी। वहीं एक चिकित्सक की सड़क हादसे में मौत हो गई है। इस एक दशक में कन्हैयालाल हमेशा जांच के घेरे में रहे। अब सीबीआई के बाद ईडी ने उनपर जांच बैठाई है।

Continue Reading

बलिया

बलिया- सीयर CHC में नए अधीक्षक ने संभाला कार्यभार, एक महीने बाद सुधरेंगे हालात !

Published

on

बलिया। CHC सीयर में डा. राकेश कुमार सिंह ने अधीक्षक का कार्यभार संभाला। कार्यभार संभालने के बाद मीडिया से बातचीत में कहा कि मरीजों को अस्पताल में बेहतर इलाज उपलब्ध कराना ही प्राथमिकता है। साथ ही शासन के निर्देशों का अनुपालन सुनिश्चित कराना है। बता दें कि  एक साथ 2 डाक्टरों के ट्रांसफर के बाद अस्पताल की व्यवस्था चरमरा गई थी। जिसे पटरी पर लाने के लिए सीएमओ जयन्त कुमार ने अधीक्षक की तैनाती की है।

मरीजों को इलाज दिलाना प्राथमिकता- अधीक्षक डा. राकेश कुमार सिंह ने कहा कि अभी वह अस्पताल की व्यवस्था परख रहे हैं। अस्पताल में सरकार की ओर से दी गई सुविधाओं का लाभ मरीजों को मुहैया कराया जाएगा। साथ ही कहा कि एक्सरे और लैब का निरीक्षण किया है। वहां जांच की अच्छी व्यवस्था है। मेरी कोशिश रहेगी कि यह सुविधा मरीजों को उपलब्ध कराई जाएं।

एक महीने बाद सुधरेंगे हालात– बता दें जुलाई के पहले सप्ताह में ही CHC सीयर के अधीक्षक डा. तनवीर आजम और चिकित्साधिकारी डा. साजिद हुसैन का तबादला हुआ था। कार्यकारी अधीक्षक डा. एलसी शर्मा और बीएएमएस डाक्टर के सहारे ही अस्पताल था। 3 जनपदों देवरिया, मऊ और बलिया की सरहद पर स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सीयर में रोज 400 मरीजों की ओपीडी होती है। चिकित्सकों के ट्रांसफर से अस्पताल की व्यवस्था चरमरा गई थी।

वहीं CHC सीयर में लम्बे समय के बाद बाल रोग विशेषज्ञ के रूप में डा. नरेश कुमार गौरव की नियुक्ति हुई है। इसके अलावा वरिष्ठ चिकित्सक और नवनियुक्त अधीक्षक डा. राकेश कुमार सिंह के साथ  डा. त्रिलोकीनाथ, डा. रफत कमाल और डा. संजय जायसवाल के अनुभव का लाभ भी क्षेत्रीय लोगों को मिलेगा।

Continue Reading

TRENDING STORIES

error: Content is protected !!