Connect with us

बलिया

कैसा रहा शिवपाल यादव का ‘बलिया शो’, किसे चुनाव लड़ाने का कर गए वादा?

Published

on

बलिया में शिवपाल सिंह यादव के सामाजिक परिवर्तन रथयात्रा की तस्वीर

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव उत्तर प्रदेश में समाजिक परिवर्तन रथयात्रा लेकर निकले हैं। शिवपाल सिंह यादव पूरे प्रेदश में घूम रहे हैं। उनकी यह यात्रा गत शुक्रवार को बलिया जिले में पहुंची। शनिवार यानी आज भी शिवपाल सिंह यादव बलिया के बांसडीह विधानसभा क्षेत्र में रहे। उन्होंने यहां प्रदेश की भारतीय जनता पार्टी की सरकार पर जमकर निशाना साधा। ृ

बलिया में शिवापाल सिंह यादव के समाजिक परिवर्तन रथयात्रा को लेकर जिले के प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के कार्यकर्ता बीते कई दिनों से तैयारियों में लगे थे। फेफना विधानसभा क्षेत्र में उनकी रथयात्रा होने वाली थी। इसे लेकर पार्टी के कार्यकर्ता जबरदस्त भीड़ जुटाने की जुगत कर रहे थे। क्षेत्र में प्रचार गाड़ी से समाजिक परिवर्तन रथयात्रा को लेकर जानकारी दी जा रही थी। किसी तरह से लोगों की भीड़ जुटाकर बलिया से एक संदेश देने की कवायद की गई थी।

शिवपाल सिंह यादव की इस समाजिक परिवर्तन रथयात्रा में बलिया में लोगों की जुटान ठीक-ठाक रही। हजारों की संख्या में लोग शिवपाल सिंह यादव को देखने और सुनने पहुंचे थे। उन्होंने यहां लोगों को संबोधित करते हुए समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन की बात भी कही। अब लगने लगा है कि शिवपाल यादव और अखिलेश यादव एक साथ उत्तर प्रदेश चुनाव में उतर सकते हैं। लेकिन बड़ा सवाल है कि क्या जो भीड़ शिवपाल यादव की यात्रा में आई थी वह वोट में परिवर्तित होगी।

शिवपाल सिंह यादव समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता रहे हैं। समाजवादी पार्टी में पारिवारिक कलह की वजह से उन्होंने अपनी नई पार्टी बना ली। हालांकि प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) बनने के बाद ये पहला ही विधानसभा चुनाव होने जा रहा है उत्तर प्रदेश में। अपने पहले ही चुनाव में शिवपाल सिंह यादव सपा से गठबंधन की बात कर रहे हैं। यही नहीं अपनी इसी यात्रा के दौरान पहले ही शिवपाल ये संकेत दे चुके हैं कि सपा में उचित सम्मान मिलने पर वो अपनी पार्टी का विलय भी सपा में कर देंगे।

अब सवाल है कि आखिर शिवपाल सिंह यादव कौन सा सम्मान चाहते हैं? सियासत में सम्मान का मतलब सीटों की संख्या से लेकर सरकार बनने पर कायदे के मंत्री पद तक होता है। जाहिर है शिवपाल यादव हर तरह का सम्मान चाहते हैं सपा में। इसी सम्मान का गणित था कि वो सपा से अलग हो गए थे। बलिया में कुल सात विधानसभा सीटें हैं।

सपा और ओमप्रकाश राजभर की सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के गठजोड़ के बाद पहले ही बलिया की कुछ सीटों का समीकरण बदल चुका है। शिवपाल सिंह यादव ने बलिया में अपने पार्टी के प्रदेश महासचिव नीरज सिंह गुड्डू को चुनाव लड़ाने की बात कह गए। बलिया में आज अपनी यात्रा में जुटी भीड़ को देखकर शिवपाल सिंह यादव ये हामी भर गए हैं।

सवाल है कि क्या ये भीड़ मतदाता बनकर उनके लिए वोट करेगी। प्रचार गाड़ी और अखबारों में विज्ञापने के जरिए रैलियों और जनसभाओं में भीड़ तो बुलाई जा सकती है। लेकिन इससे वोट मिलने की गारंटी नहीं मिलती है। रैलियों में लोगों को बड़ी संख्या में कैसे इकट्ठा किया जाता है ये हर किसी को मालूम है। लेकिन यही लोग चुनाव के दिनों में वोट करेंगे ये तय नहीं होता है।

बलिया

बलिया के दो अपराधियों को डीएम ने किया जिला बदर, क्या है वजह?

Published

on

रविवार को बलिया के दो अपराधियों को जिलाधिकारी अदिति सिंह के आदेश से जिला बदर किया गया है। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर जिला प्रशासन पूरी तरह सतर्क हो गया है।

अपराधियों और संदिग्धों के खिलाफ प्रशासन सख्ती दिखाने में देरी नहीं कर रही है। बलिया पुलिस ने दोकटी के रहने वाले दो लोगों को आज जिला बदर किया है।

दलकी नंबर एक के रहने वाले सुखारी पासवान और दलकी नंबर दो के रहने वाले संजय सिंह पर पुलिस ने गुंडा एक्ट के तहत कार्रवाई की है। जिस पर जिलाधिकारी ने दोनों को जिला बदर कर दिया है।

बता दें कि दोनों को अगले छह महीने के लिए जिला बदर किया गया है। आज पुलिस ने मुनादी कराकर दोनों अभियुक्तों के घर पर नोटिस चस्पा कर दिया है।

Continue Reading

बलिया

बलिया – RTI पर सूचना उपलब्ध नहीं करवाने वाले बीडीओ से अर्थदंड की वसूली का निर्देश

Published

on

बलिया के एक बीडीओ ने चार साल पहले आरटीआई के तहत किए गए आवेदन पर कोई भी सूचना उपलब्ध नहीं कराई। जिस कारण 1 वर्ष पूर्व बीडीओ पर 10 हजार का अर्थदंड लगाया गया था। लेकिन 2020 में लगे अर्थदंड का भुगतान बीडीओ ने नहीं किया। जिसके बाद अब राज्य सूचना आयोग ने सीडीओ को अर्थदंड की वसूली के निर्देश दिए हैं।

बता दें कि रेवती निवासी रवि महर्षि ने बताया कि 27 फरवरी 2018 को ग्राम सभा भोपतपुर के विकास कार्य के आय-व्यय का विवरण मांगा था। लेकिन कोई जानकारी नहीं मिली। जिसके बाद प्रथम अपील 29 मार्च के बाद 8 जून को राज्य सूचना आयोग में अपील की। मामले में लापरवाही बरतने वाले बीडीओ पर आयोग ने वर्ष 2020 में 10 हजार का जुर्माना लगाया लेकिन बीडीओ ने अभी तक जुर्माना राशि का भुगतान

नहीं किया। अब मामले में फिर से सुनवाई करते हुए राज्य सूचना आयोग ने 15 नवम्बर 2021 को सीडीओ को निर्देशित किया है कि बीडीओ के वेतन से अर्थ दण्ड की वसूली की जाए।

Continue Reading

बलिया

एनसीसी दिवस पर केपी मेमोरियल में हुआ खास आयोजन, NCC कैडेट्स ने की परेड

Published

on

बलिया में राष्ट्रीय कैडेट कोर यानि एनसीसी दिवस को लेकर कई तरह के आयोजन हो रहे हैं। इसके तहत जनपद के कपिल देव परेश्वरी मेमोरियल महाविद्यालय, सुहवाँ रतसर के प्रांगड़ में एनसीसी दिवस मनाया गया और विशेष कार्यक्रम रखा गया।

एनसीसी दिवस पर आयोजित हुए कार्यक्रम में एनसीसी कैडेट्स ने शानदार परेड का प्रदर्शन किया। परेड की सलामी महाविद्यालय के प्रबंधक अमित कुमार यादव ने ली।  कार्यक्रम के दौरान एनसीसी कैडेट्स ने अपनी कला का प्रदर्शन किया।

जिससे खुश होकर प्रबंधक अमित कुमार ने सबका परिचय लेते हुए उनकी हौसलाफजाई की। और कहा कि देश में जब भी आवश्यकता महसूस हुई, एनसीसी कैडेट्स ने अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया, चाहे वह कोई जागरूकता अभियान हो या सैन्य सहयोग से जुड़ा मामला हो। उन्होंने कहा कि शारीरिक श्रम के साथ ही बौद्धिक स्तर पर निर्णय लेने की क्षमता, सुदूर क्षेत्रों में जीवन की कठिनाइयों, टीम वर्क के साथ विशिष्ट लक्ष्य को प्राप्त करने में एनसीसी प्रशिक्षण सहायक होती है।

उन्होंने आगे कहा कि परेड में कैडेट्स का जो उत्साह दिख रहा है, यह उत्साह और मेहनत उनके वैयक्तिक विकास में भी सहायक होगी। इस अवसर उन्होंने सभी कैडेट्स को मेडल देकर सम्मानित करते हुए उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की। इस अवसर पर आदर्श महाविद्यालय, हरिहा कला के प्रबंधक जितेंद्र यादव, जयराम सहित कालेज के छात्र-छात्राएं मौजूद थे।

Continue Reading

TRENDING STORIES

error: Content is protected !!