Connect with us

सिकंदरपुर

नामांकन में सिकंदरपुर विधायक संजय यादव ने दिखाई अपनी सियासी ताकत!

Published

on

बलिया। उत्तरप्रदेश में चुनावी दंगल में सभी दिग्गज अपनी ताकत झोंक रहे हैं। बलिया में भी आज नामांकन के तीसरे दिन सिकन्दरपुर से भाजपा प्रत्याशी और निवर्तमान विधायक संजय यादव ने सियासी दम दिखाया। उन्होंने हजारों सर्मथकों के साथ आज नामांकन पत्र दाखिल किया। इस दौरान समर्थकों ने संजय यादव के समर्थन में जमकर नारेबाजी की। और संजय यादव ने विपक्ष पर हमला बोला साथ ही बीजेपी की सरकार बनने का दावा किया।

सिकंदरपुर सीट से विधानसभा चुनाव के लिए नामांकन भरने पहुंचे संजय यादव के साथ हजारों समर्थकों की भीड़ मौजूद थी। जिन्होंने संजय यादव के समर्थन में नारेबाजी कर उनका हौसला अफजाई किया। नामांकन दाखिल करने के बाद संजय यादव ने कहा कि सभी वर्ग के लोग बीजेपी के साथ हैं। विपक्ष के लोगों को जनता बखूबी जानती है। विधानसभा चुनाव में नतीजा देखने को भी मिलेगा। और भारी बहूमत के साथ बीजेपी की सरकार बनेगी।

सिकंदरपुर में कड़ा मुकाबला- बता दें सिकंदरपुर में एक बार फिर काटे की टक्कर होने वाली है। सपा से पूर्व मंत्री मोहम्मद रिजवी मैदान में हैं। हालांकि 2017 के विधानसभा चुनाव में संजय यादव ने मोहम्मद रिजवी को भारी बहुमत से हराया था। वहीं एक बार फिर विकासकार्यों के दम पर निर्वतमान विधायक और बीजेपी प्रत्याशी संजय यादव जीत का दावा कर रहे हैं।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

code

featured

सिकंदरपुर चेयरमैन पद पर होगी पुनर्मतगणना, साढ़े चार साल पुराने मामले में कोर्ट ने सुनाया फैसला

Published

on

सिंकदरपुर के चेयरमैन पद की दोबारा मतगणना की जाए, यह आदेश अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीन हुसैन अहमद अंसारी ने जिला निर्वाचल अधिकारी को दिए हैं। उन्होंने अधिकारी को 15 दिनों के भीतर पुनर्मतगणना करा कर सफल प्रत्याशी की घोषणा करते हुए इसकी आख्या अदालत में पेश करने के निर्देश दिए हैं।

मामला लगभग साढ़े चार साल पुराना है। जहां नगर पंचायत चेयरमैन का चुनाव 26 नंवबप 2017 को हुआ था और मतगणना 1 दिसंबर को हुई थी। इसमें भाजपा प्रत्याशी डॉक्टर रविंद्र प्रसाद वर्मा विजयी घोषित किए गए थे, दूसरे स्थान पर सपा के उम्मीदवार भीष्म यादव सिर्फ 10 मतों से हारे थे। उस समय भीष्म यादव की तरफ से दोबारा मतगणना की मांग की गई थी। लेकिन आरोप है कि रिटर्निंग अधिकारी ने उनकी मांग को खारिज कर दिया था।जिसके बाद भीष्य यादव ने अदालत का दरवाजा खटखटाया। उन्होंने मतगणना में धांधली का आरोप लगाकर याचिका दायल किया। उन्होंने अदालत में कारण स्पष्ट किये बगैर 533 मतों को अवैध घोषित करने और 115 मतों को मतगणना में शामिल न किए जाने के आरोप लगाए थे। अदालत में मामले की सुनवाई हुई जिसमें साक्ष्यों को सही पाया गया। इसके बाद कोर्ट ने दोबारा मतगणना के आदेश दिया है।

कोर्ट ने अपने फैसले में कहा कि बिना किसी पुख्ता वजह के कुल 648 मतों की हेराफेरी मतगणना की शुचिता पर सवाल खड़े करता है। स्पष्टतः यह निष्पक्ष एवं पारदर्शी मतगणना के उद्देश्य को पूर्णत: विफल कर रहा है। जो याची को पुनर्मतगणना का हकदार बनाता है। वहीं इस पुनर्मतगणना में किसकी जीत होगी, यह आने वाले समय में पता चलेगा। वहीं इस फैसले को लेकर सपा प्रत्याशी ने संतोष जाहिर किया है।

Continue Reading

बलिया

सिकंदरपुर के अब भी ‘सिकंदर’ हैं संजय यादव! होली मिलन समारोह में उमड़ी भीड़

Published

on

बलिया : यूपी विधानसभा चुनाव में भले ही सिकंदरपुर में संजय यादव को हार मिली हो, लेकिन उनकी लोकप्रियता बिल्कुल भी कम नहीं हुई है। जिसका उदाहरण होली मिलन समारोह में देखने को मिला। जहां बड़ी संख्या में लोग होली मिलन समारोह में शामिल हुए। सभी ने अबीर-गुलाल लगाकर खुशी से त्योहार मनाया। वहीं जनता और कार्यकर्ताओं से मिले इस प्रेम को लेकर पूर्व विधायक संजय यादव ने धन्यवाद दिया।
बता दें सिकंदरपुर के गांधी इंटर कॉलेज परिसर में रविवार को पूर्व विधायक संजय यादव के नेतृत्व में होली मिलन समारोह का आयोजन किया गया था। इस आयोजन में बड़ी संख्या में बीजेपी कार्यकर्ताओं के साथ ही जनता भी शामिल हुई। कार्यकर्ताओं ने अबीर-गुलाल लगाकर प्रदेश में पूर्ण बहुमत की सरकार बनने पर बधाई दी।

वहीं एक पूर्व विधायक के होली मिलन समारोह में उमड़ी भीड़ होकर चर्चाओं का बाजार भी गर्म हो गया। लोगों का तो यह तक कहना था कि इतनी भीड़ तो यहाँ से जीते हुए विधायक की रैली में भी देखने को नहीं मिलती है, जितना ही संजय यादव के होली मिलन समारोह में देखने मिली। वहीं पूर्व विधायक संजय यादव ने कार्यकर्ताओं और जनता के प्रेम को लेकर धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि जनता इस अभूतपूर्व स्नेह और प्रेम के लिए मैं आभार व्यक्त करता हूं।

Continue Reading

featured

सिंकदरपुर से सपा प्रत्याशी की धमकी, जो भाजपा का झंडा लगा रहा, उसे नहीं मिलेगा लोहिया आवास

Published

on

बलिया में चुनावी माहौल गर्म है। यहां की 7 विधानसभा सीटों पर जीत हासिल करने के लिए नेता जोर- आजमाईश कर रहे हैं। तबाड़तोड़ प्रचार कर रहे हैं। तो वहीं कुछ नेताओं के बिगड़े बोल भी सामने आ रहे हैं।

इसी बीच सिकंदरपुर से सपा प्रत्याशी जियाउद्दीन रिजवी का वीडियो वायरल हो रहा है। जिसमें वह खुलेआम भाजपा का झंड़ा लगाने वालों को सरकार बनने पर लोहिया आवास की सचूी से नाम हटाने की धमकी देते हुए नजर आ रहे हैं।

इस वीडियो में जियाउद्दीन रिजवी कह रहे हैं कि प्रधान जी जो भी भाजपा का झंड़ा लगा रहे हैं उनकी सूची बना लीजिए, संजय यादव तो हारने वाले हैं। इसलिए इनकी सूची बना लीजिए, लोहिया आवास में इनके नाम बिल्कुल भी नहीं होने चाहिए। इनको लोहिया आवास का लाभ नहीं मिलने वाला है।

अब प्रत्याशी का यह वीडियो जमकर वायरल हो रहा है। सरकार बनने पर खुलेआम धमकी दे रहे प्रत्याशी का यह अंदाज लोगों को पसंद नहीं आ रहा है और प्रत्याशी की जमकर आलोचना हो रही है।

Continue Reading

TRENDING STORIES

error: Content is protected !!