Connect with us

featured

सपा की जनचौपाल- पूर्व मंत्री बोले बलिया के विकास के लिए कुर्बानी देने के लिए तैयार हूं

Published

on

आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए समाजवादी पार्टी जनता के बीच अपनी पैठ मजबूत करने की कोशिश कर रही है। इसी के चलते पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देश पर विभिन्न जिलों में जनचौपाल कार्यक्रम चलाया जा रहा है। बलिया में सपा के वरिष्ठ नेता पूर्व मंत्री श्री नारद राय के नेतृत्व में यह कार्यक्रम चलाया जा रहा है। इसके तहत आज परमन्दापुर, उमरगंज, बहेरी में जन चौपाल का आयोजन किया गया। इस दौरान सपा के वरिष्ठ नेता जनता से रूबरू हुए।उमरगंज बहेरी में पूर्वमंत्री अंबिका चौधरी ने जनचौपाल को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि 2022 में उत्तर प्रदेश के होने वाले चुनाव लोकतंत्र के लिए बड़ा ही नाम होगा इसलिए प्रदेश की जनता को भाजपा सरकार को हटाने के लिए कड़ी सतर्कता बरतनी पड़ेगी। समाजवादी पार्टी के नेताओं एवं कार्यकर्ताओं को गांव गांव जाकर भाजपा सरकार की जन विरोधी कार्यों को बताना होगा। इस दौरान पूर्वमंत्री मौजूदा भाजपा सरकार को कोसते नजर आए। उन्होंने जनसमस्याओं पर सरकार की असंवेदनशीलता को लेकर तंज कसा।

उन्होंने कहा कि भाजपा के केंद्र और प्रदेश की सरकार ने जनता से वादाखिलाफी की है प्रदेश में महंगाई बेरोजगारी एवं भ्रष्टाचार फैला हुआ गुंडों और माफियाओं को सामने सरकार बेबस और लाचार है। प्रदेश में खासतौर पर बलिया में विकास कार्य रुक गया है जो काम माननीय अखिलेश यादव ने कार्यकाल में  नारद राय के आग्रह पर बलिया विधानसभा में शुरू कराया था उसे वर्तमान सरकार पूरा तक नहीं करा पाई।इस दौरान सपा के वरिष्ठ नेता पूर्व मंत्री मोहम्मद रिजवी भी मौजूद थे। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने विकास नहीं विनाश हुआ है।

पूरे प्रदेश में अराजकता का माहौल है लोगों को जाति के नाम से डराया जा रहा है श्री रिजवी ने कहा कि उत्तर प्रदेश के मुख्य मंत्री जिस तरह की भाषा का इस्तेमाल कर रहे हैं वो प्रदेश और देश की एकता अखंडता के लिए घातक है। मुख्यमंत्री के भाषण का जवाब जनता 2022 के विधानसभा चुनाव में देगी। उन्होंने कहा कि हो सकता है कोई अपराधी हो लेकिन उसके रिश्तेदार परिवार और बीवी बच्चे कहीं से दूरदराज के साथ रहने वालों का क्या दोष जिनकी संपत्ति मकान गिराए जा रही है। हम इस तरह की कार्रवाई का विरोध करते हैं और सरकार को समझाना चाहते हैं कि समय एक जैसा नहीं रहेगा। साथ ही उन्होंने सपा सांसद मोहम्मद आजम खान को बिना कारण जेल में बंद रखने की भी कड़ी निंदा की।इस दौरान उपस्थित पूर्व विधायक संग्राम सिंह यादव ने कहा कि 2022 में आपका आशीर्वाद एवं सहयोग मिला तो बलिया विधानसभा का समुचित विकास होगा और जिन कार्यों को माननीय अखिलेश यादव की सरकार में नारद राय के प्रयास से कराया गया उसे पूरा किया जाएगा। पूर्व मंत्री नारद राय ने कहा कि जिस तरह से जन चौपाल में जनता का सहयोग मिल रहा है उससे लगता है कि बलिया विधानसभा में भाजपा उम्मीदवार की जमानत नहीं बचेगी आज के जन चौपाल में आए हुए सभी लोगों का अभिनंदन किया और कहा कि जिंदगी भर आपकी सेवा करता रहूंगा आपके हक की लड़ाई लड़ता रहूंगा। सभा की अध्यक्षता घूरन प्रधान ने किया संचालन जिला उपाध्यक्ष जमाल आलम ने किया।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

code

featured

पुण्यतिथि विशेष: देश की आजादी से पहले शेर-ए-बलिया चित्तू पांडेय ने अंग्रेजों को खदेड़ा था

Published

on

शेर-ए-बलिया चित्तू पांडेय

हिंदुस्तान ने आजादी हासिल की थी 15 अगस्त, 1947 को। लेकिन इतिहास कहता है कि उत्तर प्रदेश का एक जिला 1947 से पांच साल पहले ही गुलामी की बेड़ियों को तोड़ चुका था। 1942 के अगस्त क्रांति के दौरान ही उस जिले के लोगों ने अंग्रेजों को रखेद दिया था। जिले का नाम है बलिया। जिसे लोग बागी बलिया कहते हैं। बलिया की आजादी के नायकों में से एक चित्तू पांडेय की छह दिसंबर यानी आज पुण्यतिथि है।

शेर-ए-बलिया चित्तू पांडेय। कौन नहीं जानता है ये नाम। 1857 के प्रथम स्वतंत्रता संग्राम के आठ साल बाद विद्रोह की मशाल लिए पैदा हुए चित्तू पांडेय। उनका जन्म 10 मई, 1865 को बलिया के रट्टूचक गांव में हुआ था। पूरा जीवन देश की आजादी के आंदोलन में झोंक देने का प्रण कर कूद पड़े मैदान में। चित्तू पांडेय ने ब्रिटिश हुकूमत के खिलाफ बलिया जिले के लोगों में क्रांति का संचार किया।

1942 का साल था। भारत की आजादी के लिए दिल्ली में महात्मा गांधी ने अंग्रेजों भारत छोड़ो का नारा दिया। देशभर के लोग महात्मा गांधी के आह्वान पर हिंदुस्तान की आजादी के लिए आंदोलन में शामिल हो गए। इस आंदोलन से बागी बलिया भी कैसे अछूता रह सकता था। वो भी तब जब बलिया में क्रांति की कमान चित्तू पांडेय के हाथ में ही थी।

चित्तू पांडेय ने बलिया के लोगों की फौज बना दी थी। जो इस आंदोलन में अंग्रेजों के खिलाफ कूद पड़े। अंग्रेजी पुलिस ने चित्तू पांडेय समेत बलिया के कई आंदोलनकारियों को गिरफ्तार कर लिया। लेकिन आजादी के लिए जो आग चित्तू पांडेय जला गए थे उसकी धधक कहां कम होने वाली थी। लोगों ने बलिया के सरकारी कार्यालयों पर कब्जा कर लिया। पुलिस स्टेशन से लेकर डाकघर तक से अंग्रेजों को खदेड़ दिया गया।

जिला कारागार का फाटक खोलकर कैद किए गए क्रांतिकारियों को आजाद कराया गया। इसी के साथ बलिया भी आजाद हो गया। बलिया जिले की कमान चित्तू पांडेय ही को सौंपी गई। उनके नेतृत्व में बलिया में स्थानीय सरकार का गठन हुआ। हालांकि बाद के दिनों में अंग्रेजों ने दोबारा बलिया पर कब्जा जमा लिया था।

बलिया को 1942 में ही अंग्रेजी सत्ता से मुक्ति दिलाने वाले चित्तू पांडेय पूरे देश को आजाद होते नहीं देख सके। भारत की स्वतंत्रता से एक साल पहले ही चित्तू पांडेय का निधन हो गया। 6 दिसंबर, 1946 को चित्तू पांडेय ने अंतिम सांस ली।

Continue Reading

featured

बलिया में एक बार फिर 9 अभियुक्तों पर जिला बदर की कार्रवाई, तीन के शस्त्र लाइसेंस भी निरस्त

Published

on

बलियाः जिला मजिस्ट्रेट अदिति सिंह ने गुण्डा एक्ट अधिनियम के तहत 9 लोगों को छह महीने के लिए जिला बदर किया है। वहीं 5 लोगों पर इस अधिनियम के तहत कार्यवाही करने के लिए जारी कारण नोटिस वापसी की कार्यवाही की है।

जिलाधिकारी ने विरेन्द्र सोनी उर्फ पप्पू निवासी घोडहरा थाना दुबहड, विशाल पटेल उर्फ पिन्टू निवासी पिलुई थाना मनियर, अशोक चौहान निवासी रामपुर बर्रेबोझ थाना रसडा, मारकण्डेय मिश्रा निवासी भेडौरा थाना उभांव, अविनाश सिंह उर्फ सिंकू निवासी डुमरिया थाना सहतवार, रामाकान्त सिंह निवासी सरदासपुर थाना रसडा, खुर्शीद निवासी वार्ड नम्बर 10 कस्बा रेवती थाना रेवती, रोहित यादव निवासी शाहपुर आंफगा थाना उभांव, सुदामा यादव निवासी टघरौली थाना बांसडीह रोड को जिला बदर किया है। वहीं आफताब अली, मोहम्मद अली हुसैन व

समशुददीन निवासी छोटकी सेरिया थाना बांसडीह, पवन कुमार सिंह पुत्र विक्रम सिंह निवासी मरौटी भैसंहा थाना रेवती, शिवम चौधरी पुत्र अवधेश चौधरी निवासी कस्बा रेवती थाना रेवती के खिलाफ जारी कारण बताओ नोटिस वापस लेने का निर्णय जिला मजिस्ट्रेट अदिति सिंह ने लिया है।

तीन शस्त्र लाइसेंस निरस्त, दो वाहन जब्त

जिला मजिस्ट्रेट ने तीन अभियुक्तों का शस्त्र लाईसेंस निरस्त किया है। अजीमुल्लाह पुत्र सफिउल्लाह निवासी बहेरी थाना कोतवाली, सुशील कुमार सिहं उर्फ झाबर निवासी फेफना थाना फेफना, हरिन्द्र यादव पुत्र मुसाफिर यादव निवासी बिलारी थाना सुखपुरा के शस्त्र लाइसेंस को निरस्त कर दिया है। वहीं दो गोवध अधिनियम के अन्तर्गत सद्दाम कुरैशी निवासी उमरगंज थाना कोतवाली बलिया, रविन्द्र कुमार निवासी गनेश धर्मकाटा तरना शिवपुर वाराणसी के वाहन को जब्त करने की कार्रवाई की है।

Continue Reading

featured

जल्द पूरा हो चौकिया-तेंदूआ मार्ग निर्माण, वरना अनशन पर बैठूंगा: पूर्व विधायक

Published

on

बेल्थरारोडः कई आंदोलनों और लंबी जंग के बाद चौकिया-तेंदूआ मार्ग का निर्माण शुरु हुआ था। लेकिन अब मार्ग की मरम्मत का काम रुक गया है। अधूरे मार्ग निर्माण ने लोगों की परेशानी और भी बढ़ा दी है। मार्ग पर जगह जगह गिट्टी-मिट्टी, कीचड़ से राहगीर परेशान हो रहे हैं।

नागरिकों की इन्हीं समस्या को देखते हुए अब समाजवादी पार्टी से पूर्व विधायक गोरख पासवान ने आवाज उठाई है और मार्ग निर्माण शुरु न होने पर आमरण अनशन की चेतावनी दी है। पूर्व विधायक ने बलिया ख़बर से बातचीत के दौरान कहा कि चौकिया-तेंदूआ मार्ग की चार किलोमीटर की रोड सालभर से अधूरी पड़ी है। निर्माण कार्य ठप्प है।

इस रोड़ पर पानी गिरने से कीचड़ हो जाता है और धूल-मिट्टी से राहगीर परेशान होते हैं। लेकिन काम कराने के बजाए जनता को कभी रोलर दिखा दिया जाता है, कभी जेसीबी, पर असल में काम नहीं होता। पूरे मार्ग में धूल उड़ती है। जिससे लोग बीमार हो रहे हैं। स्वशन संबंधी दिक्कतें हो रही हैं। हादसे हो रहे हैं। लेकिन सुनवाई नहीं की जा रही।

ऐसे में पूर्व विधायक ने सरकार को चेतावनी दी है कि यदि सोमवार 13 तारीख तक रोड़ नहीं बनाई गई तो सपा पार्टी के लोग मंडी पर इकट्ठा होंगे और जुलूस के माध्यम से एसडीएम को ज्ञापन देंगे और उसी दिन से मैं चरणसिंह की मूर्ति पर अनशन करूंगा। विधायक का कहना है कि अनशन के 3 दिन बाद तक भी कोई सुनवाई नहीं होगी तो वह मार्ग बनने तक आमरण अनशन करेंगे।

विधायक का कहना है कि जनता रोज चिल्लाती है। व्यापार-आवागमन सब प्रभावित हुआ है। आसपास के लोग परेशान होकर सरकार से आग्रह कर रहे हैं। सपा भी कई बार ज्ञापन दे चुकी है। लेकिन अभी तक कोई सुनवाई नहीं हुई। इसलिए अब लड़ाई आर-पार की होगी। अगर सरकार नहीं मानती है तो सपा उग्र आंदोलन करेगी।

Continue Reading

TRENDING STORIES

error: Content is protected !!