कर्नाटक : येदुरप्पा कुर्सी सम्हा’लते ही एक्शन में, ब’करा ई’द लेकर दिया बड़ा आ’देश…

0

जैसे-जैसे बकरीद करीब आ रही है वैसे-वैसे लोगों में एक भय बना हुआ है कि कहीं बकरा ईद को लेकर कोई विवाद ना हो जाए । दोस्तों पिछले कुछ समय से देश में चल रहे पशुओं को लेकर विवाद ने एक बड़ा रूप ले लिया है । जहां एक तरफ पशुओं को काटने पर प्रतिबंध लगाया गया था वहीं दूसरे तरफ अब बकरा ईद के मौके पर पशुओं को काटने पर बड़े विवाद के होने की संभावना जताई जा रही है। इसलिए बकरीद को लेकर प्रदेश में सुरक्षा इंतजाम किए जा रहे हैं।

उधर यूपी में भी मुख्यमंत्री आदित्यनाथ द्वारा कड़े निर्देश दिए गए हैं तो वहीं कर्नाटक में बकरा ईद के लिए कांग्रेस एमएलए ने मुख्यमंत्री से कड़ी सुरक्षा के इंतजाम मांगे हैं । दोस्तों कर्नाटक के विधायक तनवीर सैट ने प्रदेश सरकार येदियुरप्पा को पत्र लिखकर उनसे बकरा ईद पर पुलिस की सुरक्षा की मांग की है । तनवीर सैत ने पत्र में लिखा था कि “बकरा ईद के कारण जानवरों को एक स्थान से दूसरे स्थान पर ले जाया जाएगा ऐसे में हमें पुलिस सुरक्षा की आवश्यकता है क्योंकि जानवरों को लेकर इससे पहले भी बहुत बड़े बड़े विवाद हो चुके हैं “.

तनवीर सैत के इस पत्र के जवाब में येदुरप्पा ने भी बड़प्पन दिखाते हुए कहा कि “हम त्योहार का समर्थन और सम्मान करते हैं अतः सरकार पुलिस सुरक्षा जरूर देंगी”। दोस्तों कर्नाटक में येदुरप्पा सरकार बनते ही वह विपक्ष की आलोचना का शिकार बन गए थे। येदुरप्पा ने कर्नाटक की कन्नड़ और संस्कृतिक समाज को टीपू सुल्तान की जयंती मनाने पर प्रतिबंध लगा दिया था . वैसे तो यह फैसला कैबिनेट बैठक के दौरान लिया गया था लेकिन विपक्ष ने इसका फायदा उठाते हुए येदुरप्पा सरकार को निशाने पर ले लिया ।

इससे पहले जब कर्नाटक में कांग्रेस सरकार थी तब वहां पर टीपू सुल्तान की जयंती को खूब धूमधाम से मनाया जाता था इस मुद्दे को लेकर कांग्रेस नेता ने बीजेपी पर वार करते हुए यह भी कहा था कि हम तो बस वही कर रहे हैं जो बरसों से होता चला आ रहा है”. कर्नाटक में टीपू सुल्तान जयंती को लेकर मामला गर्म ही था कि अब बकरा ईद का मुद्दा सामने आ गया इसलिए येदुरप्पा के लिए यही सही था कि वह त्यौहार का पूरा समर्थन करें ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here