Connect with us

बलिया स्पेशल

अजब कहानी- क्या बेल्थरा रोड तय करता हैं यूपी में किसकी होगी सरकार ?

Published

on

राजनीति की नर्सरी कही जाने वाले यूपी के बलिया ज़िले में बेल्थरा रोड निर्वाचन क्षेत्र की अजब कहानी है । इसे संयोग कह सकते हैं लेकिन फ़िलहाल तो ये हकीक़त है कि यहाँ जिस पार्टी का उम्मीदवार इस निर्वाचन क्षेत्र से चुनाव जीतता हैं, वह पार्टी ही लखनऊ में सरकार बनाती है।

बलिया को यूपी का सबसे पिछड़ा जिला भी माना जाता है और शायद इस कारण से किसी भी पार्टी या नेता ने इस पर कोई ध्यान नहीं दिया है। घाघरा नदी के किनारे स्थित दो जिलों की सीमाओं के निकट बेल्थरा रोड (आरक्षित) विधानसभा क्षेत्र की कहानी अजीब है।

1977 के बाद से विधानसभा चुनावों के नतीजे के अनुसार जनता पार्टी के पहले मुस्लिम उमीदवार मुहम्मद रफीउल्ला ने 1977 में इस निर्वाचन क्षेत्र से चुनाव जीता और जनता पार्टी ने इस राज्य में सरकार बनाई, हालांकि 1985 में परिणाम प्रतिकूल था।

1980 के चुनावों में जब कांग्रेस पार्टी ने सरकार बनाई थी, इस राज्य में इसके उम्मीदवार बब्बन सिंह इस सीट से जीते थे। 1984 में इंदिरा गांधी की मौत के बाद, पूरे देश में कांग्रेस लहर थी, लेकिन इसके बावजूद लोक दल के शारदनंद अंचल ने इस निर्वाचन क्षेत्र से चुनाव जीता, हालांकि कांग्रेस ने सरकार बनाई। 1989 में शारदानंद ने फिर से जनता दल के टिकट पर जीता लेकिन इस बार मुलायम सिंह ने सरकार बनाई।

1991 में जब बीजेपी के हरि नारायण राजभर ने इस सीट से चुनाव जीता तब भाजपा ने राज्य में सरकार बनाई। 1993 में शारदानंद अंकल ने फिर से इस क्षेत्र से एसपी टिकट पर जीता और इस बार समाजवादी पार्टी ने राज्य में सरकार बनाई।

1996 में हरि नारायण राजभर ने फिर से भाजपा टिकट पर यह सीट जीती और बीजेपी ने राज्य में सरकार बनाई, इसके बाद 2002 में शारदानंद अंचल एसपी से जीते, इस पार्टी ने सरकार बनाई।

2007 में केदार नाथ शर्मा ने बीएसपी टिकट पर चुनाव जीता तो बीएसपी ने राज्य में सरकार बनाई।  इसके बाद  2012 के नये परिसीमन सीयर विधान सभा को सुरक्षित कर इसका नाम बिल्थरारोड विधान सभा कर दिया गया था तब सपा के गोरख पासवान विधायक बने और प्रदेश में सपा की सरकार बनी.

वहीँ जब 2017  में भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी धनंजय कन्नौजिया विजय प्राप्त करने में सफल रहे तो प्रदेश में बीजेपी की सरकार बनी ।

1977 से पहले और स्वतंत्रता के बाद लगातार तीन बार 1952, 1957, 1962 में और फिर 1974 में भी जिस पार्टी के उम्मीदवार ने इस सीट से जीत हासिल की उसी पार्टी की यूपी में सरकार बनी है।

बलिया स्पेशल

बलिया में प्रेमिका के घर गये प्रेमी युवक की हत्या, युवती के भाई के खिलाफ केस दर्ज

Published

on

बलिया। जिले के चितबड़ागांव क्षेत्र में प्रेमिका से मिलने गये प्रेमी युवक की हत्या किए जाने का मामला प्रकाश में आया है। थाना प्रभारी निरीक्षक राकेश कुमार सिंह के अनुसार नगपुरा गांव निवासी नंदलाल राम ने सोमवार सुबह चितबड़ागांव थाने में सूचना दी कि उसका पुत्र 19 वर्षीय चंदन कुमार बेहोशी की हालत में गांव के निवासी हरिशंकर राम के घर पड़ा है।

उन्होंने बताया कि सूचना पर पुलिस घटनास्थल पर पहुंची तो उस समय युवक की मृत्यु हो चुकी थी।  पुलिस ने शव को बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मारे गए युवक के पिता की तहरीर पर पुलिस ने प्रेमिका के साथ ही उसकी मां व भाई के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। पुलिस का कहना है कि मामले की छानबीन की जा रही है।

बता दें कि नगपुरा निवासी 18 वर्षीय चंदन का गांव के ही एक युवती से लंबे समय से प्रेम प्रसंग चल रहा था। बताया जाता है कि रविवार की रात प्रेमिका ने फोन कर उसे अपने घर बुलाया। इस बीच, घर में उसके भाई ने उसे पकड़ लिया। आरोप है कि युवती के भाई ने कुल्हाड़ी से बहन के प्रेमी की हत्या कर दी। सोमवारसुबह जब चंदन घर में नहीं मिला तो उसके पिता नंदलाल राम ने मामले से पुलिस को सूचना दी।

संदेह के आधार पर पुलिस चंदन की प्रेमिका के घर पहुंची तो उसका शव बरामद हुआ। इस संबंध में चितबड़ागांव के एसओ राकेश कुमार सिंह का कहना है कि नंदलाल की तहरीर पर चंदा, उसकी मां अनिता व भाई सूरज के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है। सारे आरोपित फरार हैं। उनकी तलाश जारी है।

Continue Reading

बलिया स्पेशल

बलिया- अब होम आइसोलेशन के मरीजों के लिये उपलब्ध होगा आक्सीजन सिलेण्डर

Published

on

बलिया: जिलाधिकारी आदिति सिंह के निर्देश पर औषधि निरीक्षक मोहित कुमार दीप ने सहायक आयुक्त औषधि निरीक्षक आजमगढ़ मंडल आजमगढ़ से वार्ता कर होम आइसोलेशन मे रह रहे मरीजों के लिए ऑक्सीजन सिलेण्डर की व्यवस्था कर दी है। श्री दीप ने बताया कि जिलाधिकारी के निर्देश पर बलिया आयरन स्टोर बहेरी में 40 बड़े सिलेंडर और 10 छोटे सिलेंडर की व्यवस्था करा दिया गया है।

होम आइसोलेशन मे रहे मरीज, जिनको ऑक्सीजन सिलेण्डर की जरूरत है, वे मरीज का टेस्ट रिपोर्ट, डॉक्टर का पर्चा वह आधार कार्ड ले जाकर ऑक्सीजन सिलेण्डर क्रय कर सकता है। आक्सीजन सिलेण्डर लेने के लिये खाली सिलेण्डर देकर व निर्धारित शुल्क के साथ सिलेण्डर लिया जा सकता है। जिनके पास खाली सिलेण्डर नही है वे भी ऑक्सीजन सिलेण्डर क्रय कर सकता है।

उन्होंने बताया कि पॉलिटेक्निक रोड पर स्थिति अशर्फी हॉस्पिटल का भी निरीक्षण किया गया। यहां 15 बेड की व्यवस्था करा दिया गया है जहाँ कोविड के मरीज एडमिट हो सकते हैं। यहां भी 15 बड़े आक्सीजन सिलेण्डर उपलब्ध करा दिया गया है। पाईप के माध्यम से सभी 15 बेड तक ऑक्सीजन की सप्लाई होगी। इसके अलावा तीन वेंटीलेटर उपलब्ध करवा दिया गया है, जो कार्यशील है। निरीक्षण के समय रविशंकर पाण्डेय उपस्थित रहे।

Continue Reading

featured

बलिया- मुख्यमंत्री के आने की भनक से अलर्ट मोड में प्रशासन !

Published

on

बलिया  डेस्क :  उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कोरोना संक्रमण संबंधी स्थिति का जायजा लेने के इन दिनों लगातार विभिन्न जिलों का दौरा कर रहे हैं। उनके बलिया दौरे का रविवार की शाम तक आधिकारिक रूप से कोई कार्यक्रम तो नहीं आया लेकिन उनके आने की भनक मात्र से जिला प्रशासन से लेकर स्वास्थ्य महकमा पूरी तरह अलर्ट मोड में आ गया है।

शहर से सटे पांच गांवों में खास तैयारी के साथ ही जिला अस्पताल व कोविड सेंटर भी चौकन्ना हो गया है। अस्पताल में टूटी दीवारों की मरम्मत व रंगाई-पुताई के साथ ही अन्य तैयारियों को दुरुस्त करने में महकमा रविवार को जुटा हुआ था। एक दिन पहले एसपी विपिन ताडा ने भी खुद कोविड कमांड सेंटर आदि का निरीक्षण कर जायजा लिया था।

इस बीच, अनुमान यह भी लगाया जा रहा है कि मुख्यमंत्री किसी गांव में निरीक्षण के लिए भी जा सकते हैं। इसे देखते हुए जिला प्रशासन शहर से सटे पांच गांवों में विशेष तैयारी कर रहा है। विभागीय सूत्रों की मानें तो शहर से सटे सागरपाली, सहरसपाली, मिड्ढा, ब्रह्माईन व हैबतपुर गांव में खास तैयारी हो रही है। जिलाधिकारी के इन गांवों में खुद जाकर तैयारियों का जायजा लेने की भी सूचना है।

Continue Reading

TRENDING STORIES