Connect with us

बलिया स्पेशल

बलिया- स्ट्रांग रूम की निगरानी के लिए तैनात रहेंगे टीमें, 8-8 घंटे की शिफ्ट में अधिकारी रखेंगे नजर

Published

on

बलिया में कल मतदान होना है। ऐसे में तमाम प्रशासनिक अमला निष्पक्ष और सुरक्षित मतदान करवाने की तैयारियों में जुटा है। मतदान के बाद ईवीएम और वीवीपैट मशीनों व गोपनीय अभिलेखों की सुरक्षा के मद्देनजर 24 घंटे निगरानी की जाएगी। इसके लिए अधिकारी चौबीसों घंटे स्ट्रांग रुम पर तैनात रहेंगे।जिला निर्वाचन अधिकारी इन्द्र विक्रम सिंह ने इसके लिए 4 से 10 मार्च तक आठ-आठ घण्टे की तीन शिफ्ट में अधिकारियों की तैनाती की है।

इन अवधि में सुबह 6 बजे से दोपहर 2 बजे तक बाढ़ खण्ड के अधिशासी अभियंता संजय कुमार मिश्र व निर्माण खण्ड के अधिशासी अभियंता संजीव कुमार सिंह, दोपहर 2 बजे से रात 10 बजे तक उप्र राज्य सेतु निगम के परियोजना प्रबन्धक संतराज व उप मुख्य पशु चिकित्साधिकारी नरेन्द्र प्रताप सिंह तथा रात्रि 10 बजे से सुबह 6 बजे तक ड्रेनेज मण्डल के अधीक्षण अभियंता भानु प्रताप सिंह व उप मुख्य पशु चिकित्साधिकारी संजय श्रीवास्तव को लगाया गया है।

वहीं इसके अलावा मतदान दिन के अगले दिन प्रारूप् 17ए (मतदान दिवस के दिन पीठासीन के द्वारा दी गयी मतदान से जुड़ी सूचना सम्बन्धी) की स्क्रुटनी होगी। इस पूरे कार्य के लिए अधिकारियों-कर्मचारियों को विशेष दिशा निर्देश जारी किए हैं। उप जिला निर्वाचन अधिकारी ने समस्त रिटर्निंग आसिसर को निर्देशित किया है कि समस्त उम्मीदवारों को मतदान दिवस के अगले दिन सुबह 11 बजे मण्डी समिति में उपस्थित रहने की सूचना जारी कर दें।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

code

featured

NH-31 का काम लगभग 80 प्रतिशत पूरा, तीन साल तक निर्माणाधीन कंपनी करेगी मेंटेनेस

Published

on

बलिया:  जर्जर सड़क से परेशान लोगों को NH-31 का काम लगभग 80 फीसदी पूरा होने से राहत मिली है। भरौली से मांझी तक सड़क की मरम्मत से लोग खुश भी हैं। हालांकि अभी मरम्मत का काम जारी है। अधिकारियों का कहना है कि निर्माणाधीन कंपनी सड़क की 3 साल तक देखरेख करेगी। इस बीच सड़क उखड़ती है तो तत्काल निर्माण कंपनी मरम्मत भी करेगी। साथ ही कंपनी ने उखड़ी हुई सड़क की मरम्मत करा कर फोटो भी जारी की है। अधिकारियों ने बताया की अभी सड़क का फाइनल कोट और पेंटिंग बाकी है जिसका काम जून तक पूरा हो जाएगा। तेजी से काम किया जा रहा है।

3 साल तक कंपनी की देखरेख की जिम्मेदारी– NHAI के परियोजना निदेशक श्रीप्रकाश पाठक ने बताया कि 3 साल तक सड़क की निगरानी कार्यदायी कंपनियों को करनी है। इस बीच जहां भी सड़क खराब होगी, उसकी मरम्मत करनी होगी। सड़क की दोनों ओर की  पटरियों को भी ठीक करना है। गाजीपुर से लेकर मांझी घाट तक की सड़क सदैव बेहतर हाल में रहेगी। अभी निर्माण चल रहा है। दूसरे लेयर का काम भी जारी है। फाइनल मेन्टेनस जून तक पूरा हो जाएगा।
जून में बन दौड़ेगा NH-31– बता दें जून 2022 तक काम पूरा करने का वक्त निर्धारित है। कार्य की लागत तकरीबन 80 करोड़ रुपए है। 7 मीटर पर चौड़ाई में सड़क पर दूसरे लेयर का कार्य और सड़क की पटरियों को भी ठीक करना है। दूसरे लेयर का कार्य भी गतिशील है। जून तक सड़क लगभग बनकर तैयार हो जाएगी। कंपनी का दावा है कि निर्माण के दौरान जहां से भी सड़क उखड़ने की खबर मिल रही है वहाँ तत्काल काम करा दिया जा रहा है।

3 एजेंसियों बना कर रही NH-31– गाजीपुर से बिहार की सीमा पर स्थित चांददियर तक करीब 150 किमी लंबे NH-31 की मरम्मत का टेंडर 3 भाग में बांटा गया है। गाजीपुर से फेफना तक 60 किमी का काम SRSC इंफ्रा प्राइवेट लिमिटेड, फेफना से चिरैया मोड़ तक 45 किलोमीटर महादेव कंस्ट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड और चिरैया मोड़ से मांझी घाट के जयप्रभा सेतु तक 16 किलोमीटर जगदंबा इंटरप्राइजेज को सौंपा गया है।

Continue Reading

featured

Ballia- फर्जी प्रमाणपत्र के आधार पर ली नौकरी, बीएसए ने जारी किया नोटिस

Published

on

बलिया में बेसिक शिक्षा विभाग में फर्जी प्रमाणपत्र के आधार पर नियुक्ति का मामला सामने आने के बाद बीएसए ने शिक्षा क्षेत्र गड़वार के प्रधानाध्यापक को नोटिस जारी किया है। बताया जा रहा है कि प्रधानाध्यापक के द्लवारा दूसरे व्यक्ति के अंक पत्र और फर्जी निवास पत्र के आधार पर नियुक्ति ली गई है। जानकारी के मुताबिक बीएसए ने गड़वार शिक्षा क्षेत्र के प्राथमिक विद्यालय सरभारी कला के प्रधानाध्यापक देवेंद्र यादव पुत्र चंद्रिका प्रसाद को नोटिस जारी किया है।

बताया जा रहा है कि देवेंद्र यादव पुत्र चंद्रिका यादव, सहायक अध्यापक उच्च प्राथमिक विद्यालय मढि़या अमीरनगर विकास खंड कुंभी, जिला लखीमपुरखीरी के शैक्षिक दस्तावेजों में अंकित नाम, पिता का नाम, जन्मतिथि, अनुक्रमांक, पूर्णांक और प्राप्तांक एक समान है। इसके अलावा उनके मूल निवास जनपद महाराजगंज के उप जिलाधिकारी सदर की ओर से बताया गया है कि बलिया में तैनात प्रधानाध्यापक देवेंद्र यादव का निवास प्रमाणपत्र गलत और फर्जी है।

ऐसे में अब प्रधानाध्यापक के उपर कार्यवाही की तलवार लटकी नजर आ रही है। शासन के स्पेशन टॉस्फ फोर्स ने जांच की है। साथ ही देवेंद्र यादव को नोटिस जारी कर एक हफ्ते के अंदर जबाव मांगा गया है। इस बाबत बीएसए शिवनारायण सिंह ने कहा कि इस मामले में शिक्षक को नोटिस जारी कर पक्ष प्रस्तुत करने का निर्देश दिया गया है। जबाव न देने पर ऐसा उनके खिलाफ विभागीय कार्रवाई की जाएगी।

Continue Reading

featured

UP- बिहार को सौगात, आरा-बक्सर-हरदिया-बलिया तक बनेगा ग्रीन फील्ड कॉरिडोर

Published

on

बलिया। उत्तरप्रदेश और बिहार के लोगों को जल्द ही एक और सौगात मिलने जा रही है। जिसका लाभ बलिया वासियों को मिलेगा। बिहार की राजधानी पटना से आरा-बक्सर-हरदिया-बलिया तक ग्रीन फील्ड कॉरिडोर बनेगा। 4 लेन में इसकी लंबाई 118 किमी होगी और इस पर 8500 करोड़ रुपये खर्च होंगे। इसका निर्माण 4 फेज में होगा।

जो पूर्वांचल एक्सप्रेस से भी जुड़ेगा। इसके बाद पटना और आरा से दिल्ली की दूरी आधी हो जायेगी। आरा रिंग रोड भी ग्रीन फील्ड कॉरिडोर से जुड़ेगा। इसके लिए 381 करोड़ की लागत से 21 किमी कनेक्टिंग रोड बनाया जायेगा। बता दें केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने पटना-बक्सर फोरलेन को जोड़ने वाले कोईलवर सोन नदी में 266 करोड़ रुपए की लागत से बनकर तैयार सिक्स लेन पुल की डाउन स्ट्रीम थ्री लेन (दूसरी लेन) का शनिवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से लोकार्पण किया।

इसके साथ ही यह पुल जनता के लिए खोल दिया गया। इस मौके पर केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि बिहार में 3 साल में अमेरिका की सड़क के बराबर रोड बनाएंगे। बिहार में 8 ग्रीन फील्ड कॉरिडोर पर एक लाख करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे।

Continue Reading

TRENDING STORIES

error: Content is protected !!