Connect with us

बलिया

बलिया में बना प्रदेश का पहला कोविड केयर सॉफ्टवेयर, जानिए इसकी खासियत

Published

on

बलियाः कोरोना की दूसरी लहर ने पूरे देश में जबरदस्त तबाही मचाई। अस्पतालों में मरीजों की भीड़, दवाईयां- वेंटिलेटर को तड़पते मरीज और ऑक्सीजन की कमी से दम तोड़ते लोगों की खौफनाक तस्वीरें आज भी लोगों के ज़ेहन में जिंदा है। अब महामारी की तीसरी लहर आने की आशंका है, जिसको लेकर सरकार सतर्क हो गई है।

बलिया प्रशासन भी कोरोना की तीसरी लहर को लेकर सजन है। महामारी से जंग के लिए आधुनिक इंतजाम किए जा रहे है। इसके लिए जिला प्रशासन ने माइक्रोसॉफ्ट (चेन्नई) कंपनी से अनुबंध कर एक्सपर्ट की मदद से बलिया कोविड केयर नामक वेब सॉफ्टवेयर तैयार कर लिया है। इसके लिए गुरुवार को स्वास्थ्य विभाग एक दर्जन सरकारी व प्राइवेट अस्पतालों को प्रशिक्षित किया गया।

बता दें कि प्रदेश का पहला सॉफ्टवेयर है जिसके जरिए प्रशासन अस्पताल में बेड, ऑक्सीजन, वेंटिलेटर, दवाएं व कोविड सुरक्षा किट के स्टॉक व मांग पर नजर रख सकेगा। माइक्रोसॉफ्ट चेन्नई की टीम ने इसे बनाया है। सॉफ्टवेयर पर हर संक्रमित मरीज की पूरी मेडिकल रिपोर्ट अपलोड होगी, ताकि विशेषज्ञ चिकित्सकों की मदद से इलाज में पूरी सुविधा दी जा सके। इसके साथ ही उच्चाधिकारियों को भी अवगत कराया जा सके

मानव संसाधन प्रबंधन के नोडल अधिकारी डॉ. जिआउल हुदा ने बताया कि सॉफ्टवेयर तैयार हो चुका है। उन्होंने बताया कि केरल राज्य में दूसरी लहर के दौरान इसी सॉफ्टवेयर के जरिए कोरोना से लड़ने में सफलता मिली थी। इसलिए केरल के डॉक्टरों की सलाह भी इसे तैयार करने के लिए ली गई। वहीं प्रोजेक्ट के नोडल अधिकारी और सीडीओ प्रवीण कुमार वर्मा ने बताया कि बलिया कोविड केयर सॉफ्टवेयर जिले की स्वास्थ्य सुविधाओं को एक नेटवर्क से जोड़ेगी। इसमें बेड के साथ ही ऑक्सीजन, वेंटिलेटर से लेकर अन्य सारी जानकारी अपलोड रहेगी। इससे टीम को निर्णय लेने में कोई दिक्कत नहीं होगी। यह सॉफ्टवेयर स्वास्थ्य के क्षेत्र में काफी काम आने वाला है। इससे अस्पताल की व्यवस्था व दवाई-ऑक्सीजन के स्टॉक पर भी मॉनिटरिंग करने में मदद मिलेगी।

Continue Reading
Advertisement />
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

code

बलिया

बलिया- लेखपाल संघ ने 6 सूत्रीयों मांगों को लेकर खोला मोर्चा

Published

on

बलिया। उत्तर प्रदेश लेखपाल संघ ईकाई रसड़ा ने अपनी मांग तेज कर दी है। जहां उन्होंने 6 सूत्रीय मांगों को लेकर अपनी आवाज बुलंद कर दी है। और अपनी मांगों को लेकर लेखपाल संघ ईकाई ने धरना प्रदर्शन दिया। 6 सूत्रीय मांगों में संघ लेखपाल चतुरी सिंह का निलंबन तत्काल वापस करने, लेखपालों के बार-बार स्थानांतरण को संशोधित करने, अतिरिक्त कार्यभार से हटाने, आय, जाति एवं निवास का मानदेय तत्काल देने, अन्य बकाया एरियर का तत्काल भुगतान करने की मांग शामिल है।

बता दें शनिवार को 6 सूत्रीय मांगों को लेकर लेखपाल संघ ईकाई रसड़ा तहसील मुख्यालय पर धरना-प्रदर्शन किया। संघ लेखपाल चतुरी सिंह का निलंबन तत्काल वापस करने, लेखपालों के बार-बार स्थानांतरण को संशोधित करने, अतिरिक्त कार्यभार से हटाने, आय, जाति एवं निवास का मानदेय तत्काल देने, अन्य बकाया एरियर का तत्काल भुगतान करने आदि मांग को लेकर आंदोलित हैं।

धरना-प्रदर्शन में अजीत कुमार, रामवृक्ष चौहान, दीपक श्रीवास्तव, दिलशान अख्तर, अमीरचंद, बलवीर सिंह, मार्कंडेय, चौधरी विजय कुमार सिंह, देवेंद्र नाथ राय आदि दर्जनों लेखपाल शामिल थे।

Continue Reading

बलिया

बलिया- ब्रेक फेल होने से पलटी कार, हादसे में गाजीपुर के 4 लोग घायल

Published

on

बलिया। कोतवाली थाना क्षेत्र में एक कार सड़क हादसे का शिकार हो गई। इस दौरान हादसे में 4 लोग घायल हो गए। जिन्हें इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। बताया जा रहा है कि कार की रफ्तार ज्यादा होने की वजह से हादसा हुआ। सभी घायल गाजीपुर जिले के बताए जा रहे हैं। गनीमत रही कि हादसा ज्यादा बड़ा नहीं हुआ। फिलहाल घायलों का इलाज जारी है। और उनकी हालत भी खतरें से बाहर बताई जा रही है।

दरअसल पिडहरा के पास शनिवार की शाम को ब्रेक फेल होने से कारण कार सड़क किनारे पलट गई। इसमें सवार गाजीपुर जिले के सदानन्द, दीपक, मोतीचंद और भानु प्रताप गंभीर रूप से घायल हो गए। इन सभी को इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। बताया जा रहा है कि पिडहरा से कार तेज गति से शहर की तरफ जा रही थी। इसी बीच अचानक अनियंत्रित होकर सड़क किनारे गड्ढे में पलट गई। आसपास के लोगों ने घायलों को निकाल कर अस्पतला भेजवाया। जहां उनका इलाज जारी है।

Continue Reading

बलिया

बलिया: गंभीर रूप से घायल दो सिपाहियों को भेजा गया वाराणसी, कैसे हुई दुर्घटना?

Published

on

प्रतिकात्मक तस्वीर

बलिया में घटी दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल हल्दी थाना के दो सिपाहियों को वाराणसी रेफर कर दिया गया है। 22 वर्षीय श्रवण कुमार और 25 वर्षीय प्रमोद कुमार यादव बीती रात हल्दी थाना क्षेत्र के जबही ग्राम सभा में गश्त के दौरान एक दुर्घटना के शिकार हो गए थे। गश्त के दौरान ही अचानक एक नीलगाय उनके सामने आ गई थी। दुर्घटना के बाद आसपास के लोगों ने दोनों को आननफानन में दोनों सिपाहियों का प्राथमिक उपचार कराया। स्थिति गंभीर होने की वजह से दोनों को जिला अस्पताल में रेफर कर दिया गया था।

बलिया जिला अस्पताल ने दोनों की हालत बिगड़ते देख वाराणसी रेफर कर दिया। हल्दी थाना के उप निरिक्षक शैलेन्द्र पांडेय दोनों सिपाहियों के साथ वाराणसी भेजे गए हैं। जानकारी के मुताबिक इनमें से एक सिपाही की स्थिति नाजूक है। बता दें कि शुक्रवार की रात दस बजे विजयदशमी के मौके पर दोनों सिपाही गश्त पर निकले थे। इसी दौरान यह दुर्घटना हो गई।

Continue Reading

TRENDING STORIES

error: Content is protected !!