Connect with us

बलिया

3 मई को बलिया आएंगे सीएम योगी आदित्यनाथ, भाजपा प्रत्याशियों के समर्थन में करेंगे जनसभा

Published

on

बलियाः यूपी नगर निकाय चुनाव को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 3 मई को आजमगढ़, मऊ और बलिया में जनसभा को संबोधित करेंगे। मुख्यमंत्री के प्रस्तावित कार्यक्रम को लेकर जिला प्रशासन अलर्ट मोड़ पर है।

सीएम योगी बलिया के एससी कॉलेज के ग्राउंड में भाजपा प्रत्याशियों के समर्थन में जनसभा करेंगे। रैली को सफल बनाने के लिए भाजपा पदाधिकारियों ने ताकत झोंक दी है। सोमवार को भाजपा विधायक और सूबे के परिवहन राज्यमंत्री दयाशंकर सिंह ने जनसभा मैदान का निरीक्षण किया।

इस दौरान मंच, पार्किंग और सुरक्षा को लेकर रणनीति बनाई गई। पुलिस और प्रशासनिक अमला तैयारियों में जुटा है। भाजपा जिलाध्यक्ष जयप्रकाश साहू ने बताया कि सीएम योगी की जनसभा को लेकर मुकम्मल तैयारी की जा रही है। जनसभा में भाजपा के सभी प्रत्याशियों को बुलाया गया है।

बता दें कि बलिया नगर पालिका में हर दिन एक अलग सियासी तस्वीर नजर आ रही है। अभी कैडर वोट और जातीय समीकरणों के सहारे प्रत्याशी चुनावी मैदान में हैं। भाजपा से हरेराम चौधरी ही यहां कमल खिला सके हैं। पिछले निकाय चुनाव में भाजपा प्रत्याशी तीसरे नंबर पर थे। शहर सीट के लिए भाजपा प्रत्याशी संत कुमार उर्फ मिठाई लाल को सपा से लक्ष्मण गुप्ता टक्कर दे रहे हैं।

वहीं सपा के बागी उम्मीदवार संजय उपाध्याय लड़ाई को त्रिकोणीय बना रहे हैं। वो भी इस सीट पर दो बार काबिज रह चुके हैं। बसपा से सपा से बागी होकर चुनाव लड़ रहे निषिद्ध श्रीवास्तव भी जोर लगा रहे हैं। अब देखना होगा कि सीएम के आने से पूरे क्षेत्र की राजनीति पर क्या असर पड़ता है।

Advertisement  
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

बलिया

बलिया की लक्ष्मी बनी गृह मंत्रालय में स्टेटिसटिकल इन्वेस्टीगेटर

Published

on

बलिया के मझौवा की रहने वाली लक्ष्मी मिश्रा ने जनपद का नाम रोशन किया है। उन्होंने कर्मचारी चयन आयोग की CGL परीक्षा में सफलता हासिल की है। उनका चयन स्टेटिसटिकल इन्वेस्टीगेटर के पद पर हुआ है। इनकी इस सफलता से परिवार सहित पूरे डुमरांव में खुशी का माहौल है।

अब लक्ष्मी मिश्रा गृह मंत्रालय के साथ काम करेंगी। लक्ष्मी के पिता का नाम पुरुषोत्तम है। लक्ष्मी ने अपनी प्रारंभिक पढ़ाई पंचरूखिया के सिस्टर निवेदिता डे स्कूल से की। इसके बाद महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ से BSc की डिग्री हासिल की और बनारस हिंदू विश्वविद्यालय से स्टेटिसटिक्स विषय में MSc की।

लक्ष्मी ने सेल्फ स्टडी करते हुए परीक्षा दी और कामयाबी हासिल की। उनकी सफलता पर परिवार में हर्ष का माहौल है। लक्ष्मी अपने इस सफलता का श्रेय माता-पिता एवं गुरुजनों को देते हैं। उन्होंने कहा कि मेहनत का फल जरूर मिलता है। उन्हें यह उम्मीद थी कि एक न एक दिन सफलता प्राप्त होगी। इसलिए कभी मन को छोटा नहीं किया, जिससे आत्मविश्वास हमेशा बना रहा।

 

Continue Reading

featured

मंदिर की चल-अचल संपत्ति के फर्जीवाड़े के आरोप में रसड़ा चैयरमैन समेत 9 के खिलाफ केस दर्ज

Published

on

बलिया में रसड़ा कोतवाली पुलिस ने ठाकुर जी और महादेव जी मंदिर की चल और अचल संपत्ति के फर्जीवाड़े के आरोप में बड़ी कार्रवाई की है। पुलिस ने नगरपालिका अध्यक्ष विनय शंकर जायसवाल समेत 9 के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज किया है।

दैनिक अखबार हिंदुस्तान की एक रिपोर्ट के  मुताबिक रसड़ा निवासी रौखीलाल ने कोर्ट में धारा 156 (3) के तहत वाद दाखिल किया था। उन्होंने बताया कि मेरे पूर्वजों की ओर से 24 अक्तूबर, 1897 को ठाकुरबाड़ी व मंदिर के बावत एक रजिस्टर्ड न्यास नाम तैयार किया गया।

इसमें ठाकुर जी और मंदिर के नाम से चल-अचल संपत्ति को व्यवस्था के लिए सर्वाकार की नियुक्ति होती रहेगी। स्वर्गीय विश्वनाथ प्रसाद श्री ठाकुर जी, महादेव जी मंदिर तथा उनके नाम की सभी चल-अचल संपत्ति के सर्वाकार नियुक्त हुए थे। उन्होंने अपनी पुत्रियों सरस्वती व सुमित्रा को सर्वाकार नियुक्त कर दिया था। बिना किसी को सर्वाकार नियुक्त किए ही सुमित्रा का निधन हो गया।

दूसरी बेटी सरस्वती ने अपने चार पुत्रों में दो शंभूनाथ व रोखीलाल उर्फ ऋषिलाल को सर्वाकार नियुक्त कर दिया। इसमें शंभूनाथ ने भी अपने पुत्र राजेश, रितेश व दिनेश को सर्वाकार नियुक्त कर दिया। वादी पक्ष ने कोर्ट में बताया कि कुछ लोगों ने साजिश व षड़यंत्र के जरिये रसड़ा तहसील के कर्मचारियों के साथ मिलकर अवैध तरीके से ट्रस्ट को जमीन पर परशुराम का नाम अंकित कराकर सात जनवरी, 2017 को कवाला करा लिया।

इसके बाद न्यायालय में सुनवाई हुई और पुलिस ने हनुमान गली ब्रह्मस्थान निवासी परशुराम, शंकर राम का हाता ठाकुरबाड़ी निवासी चेयरमैन विनय कुमार उर्फ विनय शंकर जायसवाल, थाना रोड निवासी कैलाश प्रसाद उर्फ मुन्ना, केशव उर्फ जुन्या हिता के पुरा निवासी ललिया उर्फ रामदुलारी (मृतक ठाकुरबाड़ी निवासी अभिषेक दुबे, रसड़ा कस्बा के जवाहर लाल हिता के पुरा निवासी रामआशीष यादव पर धारा 419 व 420 में केस दर्ज किया गया है। रसड़ा कोतवाल हिर्मेंद्र सिंह ने बताया कि जांच की जा रही है। उधर, चेयरमैन विनय शंकर जायसवाल ने बताया कि मुकदमा दर्ज होने की जानकारी नहीं है।

Continue Reading

बलिया

बलिया में जल्द लगेगी वीर सपूत महाराणा प्रताप की प्रतिमा, शासन ने दी मंजूरी – मंत्री दयाशंकर सिंह

Published

on

बलिया। परिवहन मंत्री और नगर विधायक दयाशंकर सिंह की कोशिश से जल्द ही वीर सपूत महाराणा प्रताप की आदमकद प्रतिमा लगाई जाएगी। शासन से प्रतिमा लगाने की मंजूरी मिल गई है। जगह चिह्नित करने का काम हो रहा है। फिलहाल स्टेडियम तिराहे पर ही सहमति बनी है। आगे की कार्रवाई के लिए प्रशासन को निर्देश दिए हैं।

मंत्री दयाशंकर सिंह ने कहा कि प्रतिमा पूरी तरह से धातु की होगी। अनावरण के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ या फिर डिप्टी सीएम आदि किसी बड़े मानिंद व्यक्ति को आमंत्रित किया जाएगा। काफी दिनों से जिले के लोग नगर में महाराणा प्रताप की प्रतिमा लगाने की मांग कर रहे थे। ऐसे में इसका कार्यक्रम काफी भव्य तरीके से किया जाएगा।


साथ ही कहा कि राजस्थान के उदयपुर, मेवाड़ में सिसोदिया राजवंश में जन्मे महाराणा प्रताप का इतिहास काफी गौरवशाली रहा है। ऐसे में उनके गरिमा के अनुरूप ही उनकी प्रतिमा लगेगी। महाराणा प्रताप का नाम इतिहास में वीरता, शौर्य, त्याग, पराक्रम और दृढ प्रण के लिए अमर है। उन्होंने कभी भी मुगल बादशाह अकबर की अधीनता स्वीकार नहीं की और कई सालों तक लगातार संघर्ष करते रहे।

Continue Reading

TRENDING STORIES

error: Content is protected !!