Connect with us

Uncategorized

बलिया में बाढ़ की मार के बाद जनप्रतिनिधियों का सौतेला व्यवहार, राशन को तरस रहे हैं गांव वाले!

Published

on

बलिया जिले के लोग बाढ़ की समस्या से त्रस्त हैं।

बलिया जिले के लोग बाढ़ की समस्या से त्रस्त हैं। जिले के कई इलाकों में बाढ़ का पानी भरा हुआ है। जिसकी वजह से आम लोगों का जीवन दुभर हो गया है। इसके बावजूद क्षेत्र के जनप्रतिनिधि नदारद हैं। बाढ़ में डूबे सदर तहसील के ग्राम पंचायत गंगहरा और सागरपाली कोलहवा बाबा और मिनी स्टेडियम के नजदीक बसे लोग सरकार से मदद की आस लगाए बैठे हैं। लेकिन अब तक कोई सरकारी सहायता नहीं पहुंची है।

बीते अगस्त महीने में इसी गांव से कुछ दूरी पर स्थित नागाजी सरस्वती विद्या मंदिर पर आकर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हैबतपुर गांव में राहत सामग्री बांटा था। लेकिन सागरपाली के लोग इससे वंचित रह गए। गांव के लोग इसके लिए क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि को दोषी मानते हैं।

सागरपाली के बगल के गांव थमहनपुरा, इंदरपुर, अंजोरपुर, कोट, भिखारीपुर, मझरिया, चेरूइया, छोटकी नरहीं में प्रदेश के खेलकूद, युवा कल्याण एवं पंचायत राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) उपेंद्र तिवारी ने बाढ़ पीड़ितों के बीच राशन वितरण किया। लेकिन इस बार भी सागरपाली के लोगों को लाभ नहीं मिल सका। मदद से वंचित रहे लोगों का कहना है कि पूर्व की सपा सरकार में ऐसा नहीं होता था।

गांव के ही निवासी अच्छे लाल ने कहा कि पहले बाढ़ आता था तब मदद होती थी। लेकिन अब कोई नहीं पूछता है। विजय गोंड और रामवदन खरवार क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों पर आरोप लगाया कि इस तरह का सौतेला व्यवहार योगी सरकार को जमीन पर बदनाम करने के लिए किया जा रहा है।

बलिया में गंगा नदी का जलस्तर पिछले कई हफ्तों से बढ़ा हुआ है। जिसके चलते जिले के कई इलाकों में बाढ़ आ गई है। सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ ने बीते दिनों बलिया का दौरा भी किया था। जहां उन्होंने बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों का हाल देखा था। मुख्यमंत्री ने बाढ़ पीड़ितों में राशन सामग्री का वितरण भी किया था। लेकिन राशन सामग्री और अन्य सरकारी सहायता मुहैया कराने में घोर असमानता देखने को मिल रही है।

Uncategorized

बलिया- दबंगों से परेशान नौजवान ने गंगा में लगाई झलांग, पुलिस की मुस्तैदी से बची जान !

Published

on

बलिया। जनेश्वर मिश्र सेतु से कूदकर एक युवक ने आत्महत्या करने की कोशिश की। गनीगत रही कि पीकेट पर तैनात दुबहर थाने की पुलिस ने युवक को देख लिया और तत्काल नौकायान करते मल्लाहओ के सहयोग से उसे बाहर निकाल लिया। वहीं युवक का कहना है कि वह एक जन्मदिन में पार्टी में गया। जहां उसके साथ मारपीट की गई। जिससे आहत होकर उसने आत्महत्या करने का फैसला लिया। मामले में पुलिस ने परिजनों को युवक की जानकारी दी और युवक को उन्हें सौंप। फिलहाल पुलिस को मामले में कोई शिकायत नहीं मिली है।

जानकारी के मुताबिक शहर के कृष्णा नगर जापलीन गंज थाना कोतवाली निवासी रोहित कुमार पाण्डेय (18 साल) पुत्र परमात्मा नंद पांडे शुक्रवार की शाम लगभग 5 बजे जनेश्वर मिश्र सेतु पर पहुंचा और गंगा नदी में छलांग लगा दी। उसे छलांग लगाता देख पास ही पिकेट पर तैनात दुबहर थाने के सिपाही ने देख लिया। शोर मचाते हुए नदी में नौका पर सवार मल्लाहो को घटना की जानकारी दी। मल्लाहों ने तुरन्त युवक को नदी से बाहर निकालने में जुट गए । तत्काल ही रोहित को बाहर निकाला गया। तब तक दुबहर थाने के थानाध्यक्ष राजकुमार सिंह दल बल के साथ घटनास्थल पर पहुंच गए।

घटना के कारण के बारे में रोहित ने दुबहर थानाध्यक्ष सिंह को बताया कि वह एक युवक के घर जन्मदिन की पार्टी में गया था। जहां अकारण उसकी बेल्ट से पिटाई की गई। इससे दुःखी होकर उसने आत्महत्या करने का फैसला लिया और उसने गंगा नदी में छलांग लगा दी। पुलिस ने युवक के परिजनों को सूचना देकर बुलाया और युवक को सौंप दिया। इस सम्बंध में पुलिस को कोई तहरीर नहीं मिली है।

Continue Reading

Uncategorized

चाय समोसे की दुकान पर अवैध शराब की बिक्री! पुलिस ने दबिश देकर तस्कर को पकड़ा

Published

on

बेलथरा रोड। अवैध शराब के परिवहन और बिक्री पर लगाम लगाने के लिए बलिया पुलिस लगातार कार्यवाही कर रही है। इसी बीच पुलिस ने सुबह बड़ी कार्यवाही करते एक चाय-नाश्ते की दुकान पर दबिश दी और अवैध शराब तस्कर को गिरफ्तार किया।

बताया जा रहा है कि पुलिस ने तस्कर के पास से कई शराब की बोतलें की बरामद की हैं। उभांव थाने के प्रभारी निरीक्षक ज्ञानेश्वर मिश्र और आबकारी निरीक्षक विनोद कुमार एवं निर्मल श्रीवास्तव ने पूरी कार्यवाही की।

अधिकारियों ने कार्यवाही करते हुए अखोप चट्टी नहर के पास स्थित चाय-समोसे की दुकान पर दबिश दी। तो दुकान में मौजूद एक व्यक्ति झोले को छुपाने का प्रयास करने लगा। टीम ने झोले सहित व्यक्ति को पकड़ लिया गया। जब झोले को खोला गया तो उसमें से कुल 28 शीशी बंटी-बबली लाइम ब्रांड देसी शराब बरामद हुई।

हालांकि वो अंग्रेजी ठेके के शराब से भिन्न पाई गई। अभियुक्त सतीश कुमार मौर्या पुत्र रामनयन मौर्या निवासी अखोप चट्टी को जेल भेज दिया गया। फिलहाल पूरे मामले में कार्यवाही जारी है।

Continue Reading

Uncategorized

बलिया- प्रधानाध्यापक सस्पेंड, सरकारी काम में बाधा डालना बनी वजह

Published

on

बलिया। काम में लापरवाही बरतने और मनमानी करने के साथ ही अभद्र व्यवहार करने के आरोप में उच्च प्राथमिक स्कूल अमहर के प्रधानाध्यापक नमो नारायण सिंह को सस्पेंड कर दिया गया है। खंड शिक्षा अधिकारी रसड़ा की संस्तुति के आधार पर बीएसए शिवनारायण सिंह ने निलंबन की कार्रवाई की है। निलंबन में खण्ड शिक्षा अधिकारी नगर बशीधर श्रीवास्तव को जांच अधिकारी नामित करते हुए बीएसए ने निर्देशित किया है कि आरोप पत्र अनुमोदित कराकर जांच की कार्रवाई 15 दिन में पूरी कर ली जाए। वहीं, निलंबन अवधि में प्रधानाध्यापक को कम्पोजिट स्कूल चिलकहर पर संबद्ध किया है। हालांकि निलंबन अवधि में जीवन निर्वाह भत्ता देय होगा।

दरअसल प्रधानाध्यापक पर आरोप है कि शासन/विभाग की शीर्ष प्राथमिकता की योजना डीबीटी के माध्यम से छात्र-छात्राओं को उनके अभिभावकों के खातों में यूनिफार्म, जूता-मोजा, बैग की धनराशि स्थानान्तरित की जानी थी। जिसके लिए आयोजित बैठक में डीबीटी का काम प्रारम्भ न करने का कारण पूछे जाने पर अभद्रता से जबाब दिया गया, जो अध्यापक आचरण नियमावली के विपरीत होने के साथ सार्वजनिक रूप से उक्त कार्य में बाधा उत्पन्न करने की श्रेणी में आता है। साथ ही अपने मूल कर्तव्यों के प्रति स्वेच्छाचारिता का आचरण करना और अध्यापक आचरण के संगत प्रावधानों का उलंघन करने का भी आरोप लगा है।

और शासन की शीर्ष प्राथमिकता योजना में यह कहना कि समय मिलने पर डीबीटी का काम करूंगा, जो करना है कर दिया जाय। सभी कुछ कदाशयता की श्रेणी में है। इससे स्पष्ट है वह जनहित का काम नहीं करना चाहते, और इन्हीं सब आरोपों को ध्यान में रखते हुए कार्रवाई की गई है। और प्रधानाध्यप को सस्पेंड कर दिया है। मामले में जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Continue Reading

TRENDING STORIES

error: Content is protected !!