Connect with us

बलिया

बलिया- बिजली कभी नहीं आई, लेकिन बिल आया 4 हजार रुपये

Published

on

बलिया की बांसडीह तहसील में शुक्रवार को एक गांव के लोग जब अपनी फरियाद लेकर पहुंचे तो वहां तैनात अधिकारी भी सन्न रह गए। इस गांव के लोगों की शिकायत थी कि उनके गांव में बिजली पहुंची ही नहीं है लेकिन घर पर बिजली मीटर लगाकर बिल भेज दिया गया है। गांव के लोग अपने साथ बिजली का बिल भी साथ लाए थे।

बता दें कि इस गांव का नाम मठिया है जोकि बांसडीह तहसील के अंतर्गत आता है। इस गांव में बिना बिजली कनेक्शन के ही आए बिजली बिल को देखकर अधिकारी भी चौंक गए। इस गांव में हजारों की आबादी है। सैकड़ों घरों में बिजली का मीटर जरूर लगा दिया गया है लेकिन बिजली कोसों दूर है। ग्रामीणों का आरोप है कि हर एक घर में बिजली का बोर्ड लगाया गया और कहा गया कि आपके गांव में लाइट आने पर बिजली बिल आएगा।

बिना बिजली के ही आ गया 3,793 रुपये का बिल
बांसडीह तहसील कार्यालय पर बिजली बिल लेकर पहुंचे आक्रोशित ग्रामीणों ने तहसीलदार से कहा, ‘साहब बिजली पहुंची नहीं और मीटर लगाकर बिजली भेज दिया। हम लोग क्या करें? आप ही बता दीजिए। बिजली का इस्तेमाल किए बिना ही 3793 रुपये का बिल कहां से आ गया?’ ग्रामीणों ने कभी जेई के यहां तो कभी प्रशासनिक लोगों के यहां दौड़ तक लगाई लेकिन समस्या का हल नहीं निकला सका।

आरोप है कि जेई ने गांववालों से कहा, ‘बिल आप लोगों को किसी भी हालत में देना ही पड़ेगा। चाहे आप लोग कुछ भी करें।’ यह सुनकर ग्रामीणों ने अपनी समस्या तहसीलदार महोदय के सामने रखी और उन्हें ज्ञापन भी सौंपा। तहसीलदार शिव सागर दुबे ने बिजली विभाग के अधिकारियों को फोन करके कहा, ‘जिस व्यक्ति ने बिजली कनेक्शन लिया है, वह व्यक्ति समय से बिल देता ही नहीं है। इन लोगों के यहां तो बिजली पहुंची ही नहीं है। यह लोग कैसे बिल देंगे? जितनी जल्दी हो सके इसकी जांच कर ली जाए और जल्द से जल्द इस बिल को माफ किया जाए।’

ग्रामीणों ने कहा- बिल भरने को मजबूर किया तो होगा प्रदर्शन
तहसीलदार ने बिजली विभाग के अधिकारियों से यह भी कहा कि ग्रामीणों के यहां जब बिजली पहुंचे, तब से ही बिल का निर्धारण किया जाए। ग्रामीणों ने खुली चेतावनी भी कि अगर बिल भरने के लिए मजबूर किया गया तो वे उग्र प्रदर्शन करने के लिए बाध्य होंगे।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

बलिया

बलिया के चन्द्रशेखर विश्वविद्यालय में आगजनी, लपटों से घिरा भवन

Published

on

बलिया के जननायक चंद्रशेखर विश्वविद्यालय बसंतपुर में प्रशासनिक भवन के पीछे आग लगने का मामला सामने आया है। घटना के बाद मौके पर पहुंची दमकल की टीम ने आग बुझाई। हालांकि तेज हवा चलने से आग पर काबू पाना मुश्किल हो गया था, लेकिन फायर ब्रिगेड के कर्मचारियों ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाने में सफलता हासिल की।

जननायक चंद्रशेखर विश्वविद्यालय के कुलपति संजीत कुमार गुप्ता ने बताया कि हम लोग प्रशासनिक भवन में काम कर रहे थे, तभी किसी ने आकर सूचना दिया कि प्रशासनिक भवन के पीछे आग लग गई है। हम लोग तत्काल मौके पर पहुंचे और अपने स्तर से आग बुझाने का प्रयास किया, लेकिन हवा के झोंके के कारण आग बुझाना एक बड़ी चुनौती बन गई थी। हवा की वज़ह से आग की लपटें काफी तेजी से आगे बढ़ रही थी।

विश्वविद्यालय के अधिकारी और कर्मचारी ने आग बुझाने की कोशिश की, दमकल के आने की बाद आग पर तेजी से काबू पाया गया। राहत की बात ये रही कि इस आग में कोई भी हताहत नहीं हुआ है।

Continue Reading

बलिया

अखिलेश यादव के नामांकन में पहुंचे बलिया के समाजवादी नेता

Published

on

सामाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और उत्तरप्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष अखिलेश यादव ने आज उत्तरप्रदेश की कन्नौज सीट से पर्चा दाखिल किया। इस दौरान उनके साथ कार्यकर्ताओं का हुजूम उमड़ा। अखिलेश यादव अपने समर्थकों के साथ कार्यालय पहुंचे और पर्चा भरा।

इस दौरान समाजवादी पार्टी से पूर्व मंत्री रामगोविन्द चौधरी और बलिया के वरिष्ठ नेता अवलेश सिंह भी शामिल रहे। मीडिया से चर्चा के दौरान जेडीयू छोड़ कर सपा में आए अवलेश सिंह ने कहा कि पूरे प्रदेश में समाजवादी पार्टी की लहर चल रही है। क्षेत्रीय जनता भी पार्टी पर भरोसा जता रही है। पार्टी के प्रत्याशी भी जनता की उम्मीदों पर खरा उतरने के काम करेंगे। इसके अलावा अवलेश सिंह ने अखिलेश यादव के समर्थन में वोट देने की अपील की।

गौरतलब है कि सपा ने दो दिन पहले तेज प्रताप यादव को कन्नौज सीट से उम्मीदवार घोषित किया था लेकिन कार्यकर्ताओं की मांग पर अखिलेश ने खुद कन्नौज के चुनाव मैदान में उतरने का एलान किया।

Continue Reading

बलिया

बलिया के बैरिया में बोलेरो ने बाइक सवारों को मारी टक्कर, 2 की मौत

Published

on

बलिया के बैरिया थाना क्षेत्र के NH-31 पर स्थित जयप्रभा सेतु पर बुधवार की सुबह दर्दनाक हादसा हो गया। यहां एक तेज़ रफ्तार बोलेरो ने 2 बाइक पर सवारों को जोरदार टक्कर मार दी। इस हादसे में बाइक पर सवार 3 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए थे। इसमें से एक की अस्पताल ले जाते वक्त रास्ते में मौत हो गई। जबकि दूसरे की इलाज के दौरान मौत हो गई।

बताया जा रहा है कि छपरा शहर के मंगाईडीह से लौट रही बारात में शामिल बोलेरो के सामने जयप्रभा सेतु पर ओवरटेक के दौरान अचानक 2 बाइक आ गई। इससे बोलेरो और बाइक की आपस में जोरदार टक्कर हो गई। टक्कर इतनी तेज़ थी कि बाइक सवार 3 लोग फिल्मी स्टाइल में हवा में उछलकर सेतु पर दूर जा गिरे। इसमें मांझी के जैतपुर उच्च विद्यालय में तैनात शिक्षक और बिहार प्रान्त के बक्सर जिले के रघुनाथपुर निवासी फहीमुद्दीन अहमद, बक्सर के मदहां गांव निवासी विनायक सिंह और दूसरी बाइक पर सवार सिवान के हुसेनगंज ब्लॉक में अमीन के पद पर तैनात व बक्सर निवासी सचिन कुमार साहनी गम्भीर रूप से जख्मी हो गए।

सूचना पर पहुंची माझी पुलिस ने तीनों घायलों को माझी सीएचसी उपचार के लिए ले जा रहे थे जिसमें फहीमुद्दीन अहमद की रास्ते में ही मौत हो गई। जबकि अस्पताल में इलाज के दौरान सचिन साहनी की भी मौत हो गई। माझी पुलिस ने दोनों साहू को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए छपरा भेज दिया

इधर सड़क हादसे के बाद बोलेरो में सवार बराती व चालक गाड़ी में ही सारा सामान छोड़कर भाग निकले। बराती व बोलेरो चालक सिताब दियारा के बताए जाते हैं। यूपी के बैरिया थाना के चौकी चांददीयर की पुलिस ने क्षतिग्रस्त दोनों बाइक व बोलेरो को कब्जे में ले लिया।

Continue Reading

TRENDING STORIES

error: Content is protected !!