अमृतसर रेल हादसे का शिकार हुआ बलिया का युवक, गाँव में मचा कोहराम

0

बलिया- अमृतसर में शुक्रवार की शाम को दशहरा समारोह के दौरान तेज गति ट्रेन की चपेट में आए ज्यादातर लोग उत्तर प्रदेश और बिहार के प्रवासी कामगार थे. वहीँ सिकंदरपुर थाना क्षेत्र के बसारीखपुर निवासी 45 वर्षीय युवक भी घटना का शिकार हो गया।

घटना की सूचना गांव  मिलते ही पूरे गांव में कोहराम मच गया। उनके परिजन दहाड़े मारकर चिल्लाने लगे। खबर के मुताबिक क्षेत्र के बसारीखपुर निवासी दिनेश राम (45) पुत्र मंगल राम अमृतसर मे रह कर  कई सालों से राजमिस्त्री का काम करते थे।

वहां इन के साथ रह रहे गांव के ही कुछ युवकों ने जब इनको अपने बीच नहीं पाया तो खोजबीन चालू किया बाद में उनका शव मिला। जिस पर गांव के युवकों ने शनिवार की सुबह इनके परिजनों को सूचना दिया। परिजनों को सूचना मिलते ही घर में कोहराम मच गया।

बता दें की  इस हादसे में अब तक 61 लोगों की मौत हो चुकी है जिसमें से अधिकारी 39 शवों की पहचान कर चुके है. जिला प्रशासन में एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि उत्तर प्रदेश और बिहार के ज्यादातर प्रवासी कामगार दुर्घटनास्थल से कुछ ही दूरी पर एक औद्योगिक क्षेत्र में काम करते थे और निकटवर्ती क्षेत्र में रहते थे. उन्होंने कहा कि शुक्रवार की शाम को दशहरा समारोह में इन दो राज्यों से संबंध रखने वाले लोग अच्छी खासी संख्या में जुटे थे.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here