Connect with us

featured

हत्या के झूठे केस में 14 साल से जेल में बंद थे बलिया के मुकेश, हाईकोर्ट ने किया बरी

Published

on

बलिया डेस्क : हत्या के आरोप में आजीवन कारावास की सजा भुगत रहे बलिया के एक कैदी को इलाहाबाद हाईकोर्ट से बड़ी राहत मिली है। कोर्ट ने उसे केस में बरी कर दिया है। वो इस केस में 14 साल से जेल में बंद था। हत्या के इस मामले में कोर्ट ने दो अन्य आरोपियों भी बरी किया है। हालांकि ये दोनों जेल में नहीं थे, इन्हें पहले ही ज़मानत मिल चुकी थी। कोर्ट ने ये फैसला घटना के समय चश्मदीद गवाहों की मौजूदगी को संदेहास्पद करार देते हुए सुनाया।

न्यायमूर्ति मनोज मिश्र और न्यायमूर्ति एसके पचौरी की खंडपीठ ने मुकेश तिवारी, इंद्रजीत मिश्र और संजीत मिश्र की आपराधिक अपील को स्वीकार करते हुए यह फैसला दिया। पीठ ने कहा कि अभियोजन संदेह से परे आरोप साबित करने मे नाकाम रहा है और सत्र न्यायालय ने साक्ष्यों को समझने मे ग़लती की है।

कोर्ट ने कहा कि पूरे मामले को देखकर कहा जा सकता है कि हत्या को लेकर काल्पनिक कहानी गढ़ी गई। इस मामले में कई ऐसे बिंदु हैं जिनपर विचार ही नहीं किया गया। कोर्ट ने कहा कि घटना की प्राथमिकी देरी से दर्ज की गई। जबकि पीड़ित दो बार थाने गए, अस्पताल जाते समय व अस्पताल से लौटते समय वे एफआईआर दर्ज करा सकते थे।

इसके अलावा मजरूबी चिट्ठी लिखे जाने का दिन व समय स्पष्ट नहीं है। बयान भी विरोधाभाषी है। आरोपियों के खिलाफ ठोस सबूत नहीं है। इससे पता चलता है कि हत्या को लेकर जो कहानी बताई गई वो काल्पनिक है। कोर्ट ने सत्र न्यायालय की सज़ा रद्द कर दी है और आरोपियों को बरी करने का आदेश दिया है।

featured

बलिया के शिशिर सिंह को मिली बड़ी कामयाबी, यूपी पीसीएस में हासिल की चौथी रैंक

Published

on

बलिया।  यूपी पीसीएस 2020 का अंतिम परिणाम जारी कर दिया है। यूपीपीएससी पीसीएस 2020 परीक्षा में दिल्ली की संचिता ने किया टॉप है। जबकि टॉप-10 में बलिया  के शिशिर कुमार सिंह ने परचम लहराया है।

कौन हैं शिशिर सिंह

बलिया शहर के हरपुर मोहल्ला निवासी ने अपनी कड़ी  मेहनत  से पीसीएस परीक्षा में चौथी रैंक लाकर जिले का नाम रोशन किया है। इससे जिले में ख़ुशी की लहर दौड़ गई है। शिशिर सिंह के पिता मेडिकल रिप्रेजेंटेटिव का कार्य करते हैं।

बलिया केंद्रीय विद्यालय में दसवीं तक की पढ़ाई करने वाले शिशिर ने डीपीएस बोकारो से भी पढाई की है। वहां पर 10वीं और 12वीं परीक्षा पास करने के बाद एसएन आईआईटी में दाखिला ले लिया।  इसके बाद पीसीएस की तैयारी में लग गये। पहली कोशिश में ही वे टॉप टेन में आ गए। उन्होंने बताया कि रिजल्ट से ज्यादा ध्यान तैयारी पर युवाओं का होना चाहिए। रिजल्ट आने के बाद सबको खुशी होती है लेकिन आगे प्रशासनिक सेवा में बेहतर काम करने के बाद बधाई मिले तो उसे ही असली खुशी माना जाता है। ऐसा भी होता है की  रिजल्ट में कामयाब नहीं होने वाले बेहतर प्रशासक हो सकते हैं।

यहां देखें टॉप-10 परीक्षार्थियों के नाम-

1. संचिता (नई दिल्ली)
2.  शिवाक्षी दीक्षित (लखनऊ)
3.  मोहिर रावत ( हरियाणा)
4.   (बलिया)
5. उदित पनवार (मेरठ)
6. ललित कुमार मिश्रा (प्रयागराज)
7. प्रतीक्षा सिंह सिंह (गाजियाबाद)
8.  महीमा (अमरोहा)
9. सुधांशु नायक (गोरखपुर)
10. नेहा मिश्रा (बाराबंकी)

Continue Reading

featured

बलिया में टूटे सारे रिकॉर्ड, पहली बार 24 घंटे में 216 नए केस, एक की मौत

Published

on

बलिया डेस्क : बलिया में कोरोना वायरस की रफ्तार बेकाबू हो गई है. जिले में पहली बार 24 घंटे के भीतर 216 कोरोना वायरस के केस दर्ज किए गए हैं. वहीँ आज 1 मरीज की मौत भी हुई है. जिले में इस बीमारी से अबतक 117 लोग जान गवा चुके हैं.

जारी आकड़ों के मुताबिक जिले में आज 216 नए मामले सामने आये हैं. जिले में राज्य में कोरोना संक्रमण  के मद्देनज़र जिले में नाईट कर्फ्यू भी लगाया  गया है.

वहीं जिले में अबतक कुल 117 की जान इस बीमारी से चली गई.  जिले में अब कुल कोरोना केसों का नंबर 9118 हो गया है.  कुल केसों में से 2048 लोग कोरोना से ठीक हो चुके हैं.  879 केस फिलहाल ऐक्टिव हैं.

Continue Reading

featured

CM योगी का आदेश, बलिया में वेंटिलेटर, L-3 बेड्स की सुविधा उपलब्ध कराई जाए

Published

on

 बलिया । कोरोना से लोगों के बचाव को लेकर उप्र की योगी सरकार अलर्ट मोड़ पर है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कोरोना संक्रमण से लोगों को बचाने के लिए सूबे में किए गए चिकित्सा प्रबंधों की रोज समीक्षा कर रहे हैं।

राज्य में रोजाना कितने लोग कोरोना की चपेट में आ रहे हैं और उनके इलाज के लिए जिलों में क्या क्या कदम उठाये जा रहे है  तथा प्रदेश में प्रतिदिन कितने लोगों ने टीकाकरण कराया, मुख्यमंत्री इसकी भी समीक्षा  रोज कर रहे हैं।

वहीं बलिया को लेकर सीएम योगी खास निर्देश दिया है सीएम ऑफिस के आफिसियाल ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया गया है कि बलिया में वेंटिलेटर व HFNC को फंक्शनल किया जाए तथा एल-3 बेड्स की सुविधा उपलब्ध कराई जाए।  बात दें की बलिया में कोरोना के रोज औसतन 100 मरीज मिल रहे हैं , इसी को देखते हुए स्वास्थ विभाग को अलर्ट किया गया है ।

Continue Reading

TRENDING STORIES