घोसी से सांसद अतुल राय ने नहीं किया आत्मसमर्पण, 4 जून को अगली सुनवाई

दुष्कर्म के मामले में आरोपित घोसी से नवनिर्वाचित सांसद अतुल राय ने शनिवार को कोर्ट में आत्मसमर्पण नहीं किया। अधिवक्ता के निधन पर शोक में न्यायिक कार्य से विरत रहने के कारण कोर्ट ने अगली सुनवाई के लिए चार जून की तारीख तय की गई।

मामले के अनुसार लंका थाने में यूपी कॉलेज की पूर्व छात्रा ने अतुल राय पर दुष्कर्म समेत कई धाराओं में केस दर्ज कराया है, जिसमें गिरफ्तारी वारंट जारी है। गिरफ्तारी से बचने के लिए अतुल राय ने सुप्रीम कोर्ट तक गुहार लगायी, लेकिन कहीं से राहत नहीं मिली। इसके बाद बनारस कोर्ट में हाजिर होने के लिए अर्जी दाखिल की। अदालत ने लंका पुलिस से आख्या मांगी थी, जो पुलिस ने प्रस्तुत कर दी।

शनिवार को अतुल राय की ओर से उनके वकील ने प्रार्थना पत्र दिया। इसमें कहा गया कि अतुल राय को शनिवार को कोर्ट में हाजिर होना था, लेकिन अधिवक्ताओं के न्यायिक कार्य से विरत रहने के चलते आत्मसमर्पण के लिए और वक्त दिया जाए। अदालत ने प्रार्थना पत्र पर सुनवाई करते हुए सरेंडर के लिए चार जून की तिथि नियत की।

उधर, कचहरी परिसर में एसटीएफ समेत क्राइम ब्रांच के कई पुलिसकर्मी सादे कपड़े में मौजूद रहे। ऐसे में आशंका है कि गिरफ्तारी से बचने के लिए अतुल राय ने सरेंडर नहीं किया होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here