Connect with us

मनोरंजन

ड्रीमगर्ल और पावरस्टार की कैमिस्ट्री से आया तूफान, 11 करोड़ बार देखा जा चुका है यह सॉन्ग

Published

on

भोजपुरी सिनेमा के लोकप्रिय सॉन्ग ‘छलकत हमरो जवनिया’ का यूट्यूब पर दबदबा कायम है. पावरस्टार पवन सिंह और ड्रीमगर्ल काजल राघवानी स्टारर यह गाना सुप्रसिद्ध म्यूजिक कम्पनी वर्ल्डवाइड रिकार्ड्स भोजपुरी मई 2016 में यूट्यूब पर रिलीज किया था. अभी तक इस धमाल भरे गाने को 11.42 करोड़ बार देखा जा चुका है. गायिकी के सिरमौर पवन सिंह और पार्श्वगायिका प्रियंका सिंह की आवाज में गाये गए इस गीत के संगीतकार मधुकर आनंद और गीतकार आजाद सिंह हैं.

 

 

पवन सिंह और काजल राघवानी की लाजवाब परफॉर्मेंस वाला यह सुपरहिट सॉन्ग भोजपुरी फिल्म ‘भोजपुरिया राजा’ से है. पवन सिंह मूल रूप से बिहार के आरा के रहने वाले हैं और उन्होंने दर्जनों भोजपुरी फिल्मों और सैकड़ों एलबम में काम किया है. पवन सिंह हाल ही में भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए हैं.

पवन सिंह ने 6 मार्च को ही दूसरी शादी रचाई है. पवन सिंह की पहली पत्नी नीलम ने 8 मार्च 2015 को अपने घर में आत्महत्या कर ली थी. पवन सिंह की पत्नी ज्योति मूल रूप से बलिया की रहने वाली हैं. बज्योति बलिया के एक कॉलेज से ग्रेजुएशन कर रही है. 2008 में पवन सिंह का एल्बम ‘लॉलीपॉप लैगेलू’ काफी हिट रही थी इसके अलावा ‘सानिया मिर्जा कट नथुनिया’ गाना भी काफी पॉपुलर रहा था.

Continue Reading
Advertisement />
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

code

बलिया

बलिया में गायक पवन सिंह पर FIR की मांग, जानिए वजह

Published

on

बलिया। हिन्दू समाज पार्टी के कार्यकर्ताओँ ने अभिनेता पवन सिंह पर मुकदमा दर्ज करने के साथ ही बाढ़ से किसानों को हुए नुकसान का जल्द मुआवजा देने की मांग की। इतना ही नहीं कार्यकर्ताओँ ने मांग पूरी न होने पर अनशन पर बैठने की चेतावनी भी दी। अपनी मांगों को लेकर कार्यकर्ताओं ने एसडीएम को ज्ञापन सौंपा। और जल्द ही मांगों को पूरा करने की मांग की। हिन्दू समाज पार्टी के कार्यकर्ताओं ने एसडीएम को ज्ञापन देकर भोजपुरी गायक और अभिनेता पवन सिंह पर मुकदमा दर्ज करने की मांग की। पवन सिंह पर आस्था को अपमानित करने का आरोप लगाया है।

कार्यकर्ताओँ का कहना है कि भगवान शिव पर गाया उनका गीत शर्मसार करने वाला है। यह हिन्दू धर्मावलम्बियों का अपमान है। कार्यकर्ताओं ने बाढ़ से किसानों को हुए नुकसान की क्षतिपूर्ति करने की मांग भी की। पुष्कर राय मोनू ने कहा कि 17 अगस्त तक मांगे पूरी नहीं होने पर बेमियादी अनशन शुरू किया जाएगा। इस दौरान रितेश वर्मा, आशीष मिश्र, राजेश राय, गोल्डन राय, शैलेश सिंह, भागवत दुबे, राहुल गुप्ता, दीपक वर्मा, अनूप प्रसाद, विद्या सागर, बड़े लाल यादव, आशुतोष पटेल, सुनील पांडे, दीपक गुप्त, भोला पांडे, राहुल कन्नौजिया, सनोज कन्नौजिया आदि थे।

Continue Reading

featured

बलिया के डॉ. सागर ने लिखा रैप सांग ‘बंबई में का बा’, देश भर में मचा रहा धूम

Published

on

बलिया डेस्क :  बलिया में जन्में डॉ. सागर का नया भोजपुरी सांग ‘बंबई में का बा’ इस वक्त काफी चर्चा में है। ये सांग इसलिए भी चर्चा का विषय है क्योंकि पहली बार ‘रैप’ भोजपुरी जबान में गाया गया है और इसमें अनुभव सिन्हा व मनोज बाजपेयी ने 26 साल बाद साथ काम किया है। ये सांग अनुभव सिन्हा के निर्देशन में फिल्माया गया है।

वहीं एक्टर मनोज बाजपेयी ने इसपर परफार्म करते हुए इसे खुद गाया भी है। इसका प्रोडक्शन टी-सीरीज़ और बनारस बीट के बैनर तले किया गया है। ऐसा पहली बार हो रहा है कि किसी भोजपुरी सांग के लिए इतने नामी-गिरामी कलाकार एक साथ काम कर रहे हैं। मनोज बाजपेई का कहना है कि ये सांग लोगों की जिंदगी को छूता है। उन्होंने कहा कि इसे पढ़कर ऐसा लगा जैसे उनकी ही बात हो रही है।

ये रैप उन प्रवासियों की ज़िंदगी को लेकर लिखा गया है, जो मुंबई में रह रहे हैं। इस पूरे रैप में बार-बार ‘बंबई में का बा?’ यानी मुंबई में क्या है, पूछा गया है। डॉ. सागर ने अपने इस रैप के ज़रिए ये बताने की कोशिश की है कि मुंबई में रहने वाले प्रवासी अपने गांव को छोड़कर इसलिए आए हैं ताकि वह दो वक्त की रोटी का इंतेज़ाम कर सकें। इसके सिवा उनके लिए मुंबई में कुछ नहीं रखा।

उन्होंने रैप में लॉकडाउन के पलायन की पीड़ा को भी बेहद खूबसूरत अंदाज़ में पेश किया है। सवालों के ज़रिए उन्होंने पलायन के गुस्से को व्यक्त करने की कोशिश की है। रैप में डॉ. सागर ने बेहद सटीक शब्दों में ये बताने की कोशिश की है कि यूपी और बिहार के लोग मुंबई में क्या करते हैं।

कौन हैं डॉ. सागर? बलिया  के नगरा से ताल्लुक रखने वाले डॉ. सागर ने अपनी पी.एचडी जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय से की है। डॉ. सागर को शुरू से ही शायरी में दिलचस्पी रही है, इसी दिलचस्पी के कारण वह शायर बने और अपने हुनर को फिल्मों में आजमाया और उन्हें कामयाबी भी मिली। ‘लव यू सोनियो’ और ‘मैं और चार्ल्स’ फिल्म के उनके गाने काफी सुने गए। दिलचस्प बात ये है कि भोजपुरी फिल्मों में गीत लिखने वाले डॉ. सागर बॉलीवुड में भी अपनी कलम का लोहा मनवा चुके हैं।

Continue Reading

featured

VIDEO – कभी मोदी तो कभी योगी बन जाते हैं निलेश, बलिया को मिला नया आर्टिस्ट

Published

on

बिल्थरा रोड डेस्क : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हो या कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ , सदाबहार राजनेता बिहार के भूतपूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव से लेकर सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव , बॉलीवुड तथा भोजपुरी फिल्मों के सुपरस्टार की हूबहू आवाज निकालते हैं निलेश मद्धेशिया दीपू । दीपू की आवाज का नकल करने के अंदाज को सोशल नेटवर्किंग साइट से लेकर यूट्यूब व विभिन्न चैनलों पर खूब पसंद किया जा रहा है ।

होनहार बिरवान के होत न चिकने पात की कहावत को चरितार्थ करते जिले के बिल्थरा रोड नगर पंंचायत के निवासी नीलेश दीपू देश के जाने माने राजनेताओं, फिल्म हस्तियों, विभिन्न गाड़ियों, कार्टूनों और जानवरों की आवाज निकाल आयेदिन शोहरत बटोर रहे हैं । 26 वर्ष के वय में दीपू के उपनाम से चर्चित नीलेश आवाज निकालने की अपनी अदा से न सिर्फ अपनी एक अलग पहचान बनाते नजर आ रहे हैं ,बल्कि हर उम्र के लोगों के चहेते बन गए हैं । जिले के विभिन्न क्षेत्रों से लेकर पड़ोसी जनपदों में दीपू किसी न किसी कार्यक्रम की शोभा बढ़ाते नजर आते हैं ।

हर जगह बढ़ रही लोकप्रियेता

इनकी लोकप्रियता का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि इनकी मिमिक्री को सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक, व्हाट्सएप व यूट्यूब पर काफी पसंद किया जा रहा है । आवाज के बेताज बादशाह नीलेश दीपू के कंठ में ऐसी कला है , जो किसी को भी हैरान कर देती है । तकरीबन 9 साल की उम्र में ही दीपू ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा के दौरान अपने शिक्षकों व दोस्तों के आवाज की नकल करना शुरू कर दिया । वह न्यूजट्रैक से बातचीत में कहते हैं कि पहले तो उनके सहपाठी उसकी इस अदा पर हँसते थे लेकिन समय के साथ उनकी मिमिक्री को पसंद किया जाने लगा। वह बताते हैं कि उनके गुरुजनों व दोस्तों ने उनका काफी उत्साहवर्धन किया ।

एक मध्यमवर्गीय परिवार से जुड़े दीपू के बड़े भाई अवधेश केंद्रीय विद्यालय में शिक्षक हैं तथा मझले भाई कमलेश विभिन्न प्रतियोगिताओं की तैयारी कर रहे हैं । वह बताते हैं कि प्रारम्भिक शिक्षा के दौरान मिले उत्साहवर्धन की ही देन है कि उन्होंने लगातार जीतोड़ कोशिश किया । यह जुनून उनको सोने नही देता था । आवाज की नकल निकालने के जज्बे ने दीपू को आज प्रसिद्धि के मुकाम पर पहुँचा दिया है । उनसे किसी प्रसिद्ध कलाकार के आवाज की फरमाइश की होड़ सी मची रहती है ।

कई हस्तियों की आवाज़ निकाल लेते है

दूसरों की आवाज की कॉपी करने में महारत हासिल करने वाले दीपू प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लेकर सोनिया गांधी ,राहुल गांधी, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ,पूर्व मुख्यमंत्री मायावती,पूर्व पीएम डॉ मनमोहन सिंह, पूर्व सी एम मुलायम सिंह यादव, पूर्व सी एम अखिलेश यादव आदि के अलावा राजनेता फिल्म हस्तियों शाहरुख खान अक्षय, कुमार ,अमिताभ बच्चन, आमिर खान, नाना पाटेकर ,रवि किशन, राजकुमार ,दिनेश लाल यादव निरहुआ की हुबहू आवाज निकाल लेते हैं ।

रामायण व महाभारत के प्रमुख पात्रों के डायलॉग निलेश को कंठस्थ है । नीलेश के मिमिक्री के बहुतेरे वीडियो मार्केट में भी आ चुके हैं । फेसबुक व यूट्यूब पर इनके सब्सक्राइब फॉलोअर्स लगातार बढ़ रहे हैं । हाल ही में एक निजी चैनल पर इनके प्रसारित वीडियो को 1 दिन में 12 लाख लोगों ने देखा व पसंद किया ।

विडियो हुआ वायरल

दीपू ने हाल ही में कोविड -19 पर आधारित एक बचाव संदेश मिमिक्री जारी किया है । इसका वीडियो अनेक चैनल पर वायरल हुआ है। इसमे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तथा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आवाज को हूबहू दर्शाया गया है। आजमगढ़ के एक निजी विद्यालय से बी टी सी दीपू के वीडियो को बहुतेरे लोग भावविभोर होकर देख व सुन रहे हैं । अपने तीन भाइयों में सबसे छोटे नीलेश बताते है कि वह किसी भी समय दो सौ से अधिक लोगो की मिमिक्री कर सकते हैं ।

रिपोर्ट- अनूप कुमार हेमकर 

Continue Reading

TRENDING STORIES

error: Content is protected !!