Connect with us

बलिया

जिला अस्पताल की अव्यवस्था पर पूर्व विधायक रामइकबाल सिंह ने जिलाधिकारी को सौंपा ज्ञापन

Published

on

पूर्व विधायक रामइकबाल सिंह ने अपने ज्ञापन में बलिया जिला अस्पताल की दुर्व्यवस्था को लेकर शिकायत की है।

बलिया के पूर्व नगर विधायक रामइकबाल सिंह ने सोमवार को सचिवालय में जिलाधिकारी अदिति सिंह को ज्ञापन सौंपा। पूर्व विधायक रामइकबाल सिंह ने अपने ज्ञापन में बलिया जिला अस्पताल की दुर्व्यवस्था को लेकर शिकायत की है। उन्होंने जिला अस्पताल में कार्डयोलॉजिस्ट, न्यूरोलॉजिस्ट, दवाओं की उपलब्धता को लेकर ज्ञापन दिया है। साथ ही उन्होंने जिलाधिकारी से इस बात की भी शिकायत की है कि जिला अस्पताल की व्यवस्था ठीक करने को लेकर जिले के मुख्य चिकित्साधिकारी ने आश्वासन दिया था कि एक सप्ताह के भीतर सभी सुधार किए जाएंगे। लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई है।

भाजपा नेता रामइकबाल सिंह ने कहा है कि “जिला चिकित्सालय में कार्डियोलॉजिस्ट, न्यूरोलॉजिस्ट, दवाएं उपलब्ध कराने, एक्स-रे मशीन चलाने, चिकित्सकों के प्राइवेट प्रेक्टिस पर रोक लगाने सहित जनपद के समस्त सीएचसी और पीएचसी की स्वास्थ्य सुविधाओं में सुधार के लिये गत नौ अगस्त को मुख्य चिकित्सधिकारी से मिलकर ज्ञापन सौंपा था। जिस पर सीएमओ ने एक हफ्ते के अंदर सभी समस्याओं का समाधान करने का भरोसा दिलाया था। लेकिन सीएमओ का आश्वासन झूठा निकला। उनका इस तरह का गैर-जिम्मेदाराना हरकत निंदनीय है।”

पूर्व विधायक ने आरोप लगाया कि कटहलनाला की सफाई के नाम पर सरकारी धन की लूट हो रही है। जिसमें अधिकारी और ठेकेदार संलिप्त हैं। शहर भर में जगह-जगह मुख्य मार्गों पर गड्ढा है। इन गड्ढों के साथ-साथ मोहल्लों में जलजमाव जैसी स्थिति बनी हुई है। इन सब के बाद रामइकबाल ने कहा कि “28 नवंबर 2019 को चितबड़गांव में एक महिला के साथ जीवन बीमा अभिकर्ता ने बलात्कार किया था। लेकिन आज तक पीड़िता को न्याय नहीं मिला और अपराधी बेखौफ बाहर घूम रहा है।”

जिलाधिकारी को दिए अपने ज्ञापन में पूर्व विधायक ने सभी मांगों को तत्काल पूरा करने की मांग की है। जिलाधिकारी को ज्ञापन देते वक्त विनोद तिवारी, गीताशरण सिंह, राधेश्याम यादव, भूपेंद्र सिंह, डब्लू सिंह, श्रीभगवान राजभर व अन्य लोग मौजूद रहे।

बलिया

बलिया- बीएसए को हटाने का मंत्री से मिला आश्वासन, शिक्षकों का धरना स्थगित

Published

on

बलिया। बेसिक शिक्षा अधिकारी के खिलाफ 21 अक्टूबर से धरना कर रहे शिक्षकों ने बेसिक शिक्षा मंत्री से आश्वासन मिलने के बाद दिवाली तक धरना स्थगित कर दिया है। बेसिक शिक्षा मंत्री ने शिक्षकों को जांच कराकर एक सप्ताह में कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है। उन्होंने कहा कि त्योहार का मौका है ऐसे में धरना खत्म कर दीजिए। जिसके बाद शिक्षकों ने धरना स्थगित करने का फैसला लिया। बता दें शिक्षकों ने बेसिक शिक्षा अधिकारी पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं, जिसके चलते कार्रवाई की मांग की जा रही है।

दरअसल प्राथमिक शिक्षक संघ के बैनर तले 21 अक्टूबर से बेसिक शिक्षा अधिकारी के कार्यालय पर शिक्षकों ने बेमियादी धरना शुरू किया था। सोमवार को अध्यक्ष जितेंद्र सिंह के नेतृत्व में शिक्षक और शिक्षा मित्र स्कूल बंदकर धरने में शामिल हुए। बीएसए के खिलाफ नारेबाजी शुरू हो गई। दोपहर बाद धरना स्थल पर मंत्री आनंद स्वरूप शुक्ल और बैरिया के विधायक सुरेंद्र सिंह भी पहुंचे। मंत्री ने कहा कि बेसिक शिक्षा मंत्री से हो चुकी है। बीएसए को यहां से हटाया जाएगा। मंत्री के मोबाइल पर ही बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश द्विवेदी ने शिक्षकों को संबोधित किया। कहा कि जांच कराकर एक सप्ताह में कार्रवाई की जाएगी। बेसिक शिक्षा मंत्री के आश्वासन के बाद शिक्षकों ने दिवाली तक धरना स्थगित कर दिया।

धरनारत शिक्षकों ने आरोप लगाया कि बीएसए अपने चहेते के माध्यम से गाड़ी के नाम पर करोड़ों का भुगतान किए हैं। कंप्यूटर खरीद में घपला हुआ है। धन उगाही के लिए शिक्षकों का निलंबन और वेतन रोका जा रहा है। धरना को कलेक्ट्रेट मिनिस्ट्रीयल एसोसिएशन के अध्यक्ष अर्जुन गुप्ता, सत्या सिंह, सुशील त्रिपाठी, वेदप्रकाश पांडेय व सुशील पांडेय ने समर्थन दिया। जितेंद्र प्रताप सिंह, अनिल पांडेय, डा. राजेश पांडेय, अजय मिश्र, शशि ओझा, संतोष सिंह व पंकज सिंह मौजूद रहे। अध्यक्षता जितेंद्र सिंह और संचालन सुनील सिंह ने किया।

वहीं संघ के अह्वान के बाद भी हनुमानगंज शिक्षा क्षेत्र के पकड़ी, बघेजी सहित कई प्राथमिक विद्यालय खुले रहे। शिक्षकों के धरना के संबंध में महिला शिक्षक संघ की ब्लॉक अध्यक्ष अन्नू सिंह ने कहा कि कोरोना के कारण पहले ही बच्चों की पढ़ाई बाधित हो चुकी है। अब आए दिन निजी और छोटी बातों को लेकर वेवजह स्कूल बंद कर धरना देने से बच्चों की पढ़ाई पर असर पड़ेगा। स्कूल बंद कराकर धरना प्रदर्शन करना हमारे संगठन की सोच के विपरीत है।

Continue Reading

बलिया

बलिया के तीन भाजपा नेताओंं को मिली गोरक्ष प्रांत कार्यकारिणी में ये जिम्मेदारी

Published

on

भाजपा गोरक्ष प्रांत के क्षेत्रीय कार्यकारिणी में बलिया के तीन युवा नेताओं को जगह मिली है। (फोटो साभार: हिंदुस्तान टाइम्स)

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को प्रदेश की सत्तारूढ़ दल भारतीय जनता पार्टी अपनी संगठन मजबूत करने में लगी है। संगठन को मजबूत करने के लिए भाजपा ने गोरक्ष प्रांत की नई क्षेत्रीय कार्यकारिणी घोषित की है। इस क्षेत्रीय कार्यकारिणी में बलिया जिले के तीन युवा नेताओं को जगह मिली है। जिले की सुनीता श्रीवास्तव, साकेत सिंह सोनू और आशुतोष सिंह को कार्यकारिणी में जगह मिली है।

भाजपा गोरक्ष प्रांत के क्षेत्रीय कार्यकारिणी में सुनीता श्रीवास्तव और साकेत सिंह सोनू को उपाध्यक्ष मनोनीत किया गया है। तो वहीं आशुतोष सिंह को क्षेत्रीय कार्यसमिति का सदस्य बनाया गया है। क्षेत्रीय अध्यक्ष डॉ. धर्मेंद्र सिंह ने सुनीता श्रीवास्तव, साकेत सिंह सोनू और आशुतोष सिंह को नई जिम्मेदारी मिलने पर बधाई दी है।

बता दें कि सुनीता श्रीवास्तव इससे पहले भाजपा महिला मोर्चा की क्षेत्रीय अध्यक्ष का पद संभाल चुकी हैं। क्षेत्रीय कार्यकारिणी के सदस्य बने आशुतोष सिंह युवा मोर्चा के महामंत्री रहे हैं। आशुतोष सिंह इसके साथ ही घोसी विधानसभा के प्रभारी की भी जिम्मेदारी संभाल रहे हैं।

सुनीता श्रीवास्तव, साकेत सिंह सोनू और आशुतोष सिंह के मनोनयन पर जिलाध्यक्ष जयप्रकाश साहू ने खुशी जाहिर करते हुए बधाई दी। तीनों युवा नेताओं ने कहा है कि “जब पार्टी की ओर से हम पर भरोसा जताया गया है और इतनी बड़ी जिम्मेदारी दी गई है तो हम पूरी कोशिश करेंगे की पार्टी के हित में काम करें।” सुनीता श्रीवास्तव ने कहा है कि “विधानसभा का चुनाव नजदीक आ चुका है। हमलोग पूरी मेहनत के साथ दिन-रात पार्टी के लिए काम करेंगे।” कार्यकारिणी के सदस्य बनाए गए आशुतोष सिंह ने मीडिया से बातचीत में कहा कि “क्षेत्रीय अध्यक्ष ने हम जैसे युवाओं को जगह दिया है। शीर्ष नेतृत्व की ओर से जो भी निर्देश होगा उसके हिसाब से हम काम करेंगे।”

Continue Reading

बलिया

तृतीय राष्ट्रीय स्तर प्रतियोगिता में बलिया के लाल का कमाल, दौड़ में हासिल किया पहला स्थान

Published

on

बलियाः मध्यांचल यूनिवर्सिटी भोपाल में आयोजित तृतीय राष्ट्रीय स्तर 1500 मीटर की दौड़ में जनपद के प्रदीप कुमार ने पहला स्थान हासिल किया। उनकी सफलता से पूरे क्षेत्र में हर्ष का माहौल है। प्रदीप चिलकहर के अंतर्गत पहाड़पुर गांव के निवासी है। जिन्होंने दौड़ प्रतियोगिता में शानदार प्रदर्शन करते हुए जीत हासिल की।

आपको बता दें कि 21,22,23 अक्टूबर को मध्यांचल यूनिवर्सिटी भोपाल में तृतीय राष्ट्रीय स्तर प्रतियोगिता का आयोजन हुआ। जिसमें पहाड़पुर निवासी प्रदीप कुमार यादव पुत्र श्याम नारायण यादव ने पहला स्थान प्राप्त कर जीत का परचम लहराया। प्रदीप कुमार को सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन पर गोल्ड मेडल दिया गया।

वहीं गोल्ड मेडल जीतने के बाद प्रदीप कुमार यादव का चिलकहर में जोरदार स्वागत हुआ। इस दौरान मानसिंह सेंगर, लक्ष्मी राम यादव मुद्रिका यादव ग्राम प्रधान अभय कुमार कौशल कामेश्वर यादव अभिषेक यादव रामाश्रय यादव सहित सैकड़ों क्षेत्र वासी उपस्थित रहे। उनकी जीत के बाद से ही गांव में खुशी का माहौल है, प्रदीप कुमार के घर पर बधाई देने वालों का तांता लगा हुआ है।

Continue Reading

TRENDING STORIES

error: Content is protected !!