Connect with us

बलिया

बलिया जेल में जहर खाने का मामला- महिला के अंतिम संस्कार की गुत्थी में उलझी पुलिस

Published

on

बलिया।  जिला कारागार में अपने पति से मिलने के दौरान जहर खाने वाली नीलम की आज मौत हो गई। उसकी मौत के बाद घटना से जुड़े कई राज दफन हो गए, जिनपर से पर्दा उठाना पुलिस के लिए काफी चुनौतीपूर्ण साबित होगा। इस मामले में पुलिस के सामने एक और मुश्किल है, वो है नीलम का अंतिम संस्कार। गुरवार को परिवार ने शव लेने से इनकार कर दिया, जिससे शव को पोस्टमार्टम भी नहीं हुआ। बता दें कि मृतका का दूसरा पति अभी वाराणसी में भर्ती है।
जानकारी के मुताबिक बुधवार को बांसडीह रोड़ थाना क्षेत्र निवासी नीलम अपने दूसरे पति सूरज साहनी से मिलने जिला कारागार गई।दोनों ने वहां जहर से सना बिस्कुट खा लिया। दोनों को गंभीर हालत में वाराणसी रेफर किया गया, इलाज के दौरान नीलम की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि 23 वर्षीय नीलम के पिता मनोज साहनी सराया गांव निवासी हैं. वह 25 सालों से अहमदाबाद रहकर नौकरी कर रहे थे। नीलम की परवरिश भी वहीं हुई। नीलम का ननिहाल हल्दी थाना क्षेत्र के हासनगर में है।
जहां उसका आना-जाना लगा रहता था।इस दौरान वहां रहने वाले सूरज से नीलम का प्रेम हो गया। परिजनों को पता लगा तो उन्होंने आज से करीब 9 साल पहले नीलम की शादी फेफना के तीखा गांव निवासी पप्पू साहनी से कर दी।शादी के 5 सालों तक नीलम पति के साथ रही लेकिन दोनों का विवाद चलता रहा। इसी बीच उसने पति को छोड़कर प्रेमी सूरज से शादी कर ली।लेकिन सूरज ने बारात में मोबाइल छिनने के विवाद में अपने चचरे भाई बादल साहनी की हत्या कर दी। इसमें उसके पिता और दो अन्य भाई भी आरोपी बने, जिसे पुलिस ने गिरफ्तार जेल भेज दिया और फिलहाल सभी जेल में बंद हैं।
नीलम की मौत के बाद पहले पति ने शव लेने से इनकार कर दिया। चाचा भी साफ मना कर चुके हैं।जांच पड़ताल की प्रक्रिया के बाद मिलाई के लिए बंदियों के परिजनों को मिलाई के लिए अंदर जाने की व्यवस्था होने के उपरांत भी अंदर खाद्य सामग्री(बिस्कुट) में विषाक्त पदार्थ मिलाकर सूरज की पत्नी नीलम द्वारा लेकर जाने की घटना को गंभीरता से लेते हुए जिलाधिकारी सौम्या अग्रवाल ने मामले की जांच के लिए कमेटी बनाई है।आखिर नीलम और उसके दूसरे पति ने जेल में जहर क्यों खाया। इस बात की चर्चा गांव में बनी हुई है। जहर सना बिस्किट नीलम लेकर आई थी लेकिन अब उसकी मौत के बाद घटना के राज दफ्न हो गए हैं। पूरी घटना को लेकर पुलिस उलझी नजर आ रही है।

बलिया

बलिया में कराटे कैम्प का आयोजन, जमुना राम मेमोरियल स्कूल में खिलाड़ियों की दिखी प्रतिभा

Published

on

बलिया में शोतोकान कराटे एसोसिएशन के तत्वाधान में एक दिवसीय कराटे कैम्प और कलर बेल्ट टेस्ट का आयोजन हुआ। जमुना राम मेमोरियल स्कूल चितबड़ागांव में इसका आयोजन किया गया। बेल्ट टेस्ट में स्कूल के ही छात्रों ने हिस्सा लिया। इस टेस्ट में कई छात्र पास हुए।
येल्लो बेल्ट में रौनक सिंह, आराध्या तिवारी, प्रिया यादव,श्रेयसी सिंह, आरुषि यादव, परिधि गुप्ता,वैष्णवी अनमोल, जय वीर, तनय,यश गुप्ता,अनड्रेव बघेल अमित देव राय,विश्वामित्र, ओमप्रकाश पास हुए। ऑरेंज बेल्ट में कृतिका, सम्पूनिता, स्मृति, रिया, दिव्यानी, नायशा पास हुई। ग्रीन बेल्ट में अंकित यादव कृष्णा यादव आदि पास हुए। लगभग 50 से ज्यादा हिस्सा लिया था।

यह बेल्ट टेस्ट द स्पोर्ट्स शोतोकान फेडरेशन उत्तर प्रदेश के सचिव और बलिया शोतोकान कराटे के मुख्य प्रशिक्षक सेंसई एलबी रावत की देखरेख में हुआ। इस कराटे बेल्ट टेस्ट में कराटे की बारीकीयों के साथ सेल्फ डिफेन्स की भी ट्रेनिंग दी गई इनके। जहां स्कूल के प्रधानाचार्य आबरी के. बी और कोच सुनील यादव आदि मौजूद रहें।

Continue Reading

featured

एक्शन में बलिया CDO, कस्तूरबा गांधी आवासीय स्कूल की वार्डन की लगाई क्लास!

Published

on

बलिया में प्रशासन लगातार अलर्ट मोड पर नजर आ रहा है। जहां मुख्य विकास अधिकारी प्रवीण कुमार वर्मा ने सोमवार को सुखपुरा स्थित कस्तूरबा गांधी आवासीय स्कूल का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान स्कूल में छात्राओं की कम उपस्थिति और साफ-सफाई के साथ ही फाइलों के रख-रखाल को लेकर नाराजगी जताई।
उन्होंने वार्डन पुष्पा गुप्ता को जमकर फटकारा। इतना ही नहीं मुख्य विकास अधिकारी प्रवीण कुमार वर्मा ने फटकार लगाते हुए खंड शिक्षा अधिकारी से कारण बताओ नोटिस जारी करने को भी कहा। इसके अलावा सीडीओ ने पूर्व माध्यमिक स्कूल का भी निरीक्षण किया। हालांकि यहां बच्चों की उपस्थिति और साफ-सफाई को लेकर संतोष जताया।

मुख्य विकास अधिकारी सुखपुरा में बन रहे कूड़ा निस्तारण केंद्र पर भी गए। ग्राम पंचायत अधिकारी भरत सिंह को मानक के अनुसार कार्य करने का निर्देश दिया। इस दौरान जिला समन्यवक(निर्माण) सत्येंद्र राय, एसपीआरओ श्रवण कुमार आदि मौजूद रहे।

Continue Reading

बलिया

बलिया में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए शुरू हुई नई पहल!

Published

on

बलिया में पर्यटन स्थलों को बढ़ावा देने के लिए लगातार काम किए जा रहे हैं। इसी कड़ी में गोयल सर्विसेज के द्वारा एक उत्कृष्ट पहल की गई। जिलाधिकारी सौम्या अग्रवाल ने इसका शुभारंभ किया।

गोयल सर्विसेज़ के द्वारा केवल 999 रुपए प्रति व्यक्ति के खर्च पर बलिया के 12 पर्यटन स्थलों का भ्रमण कराया जाएगा साथ ही एक समय का भोजन भी उपलब्ध कराया जाएगा। किसी भी समय कोई भी व्यक्ति गोयल सर्विसेज़ द्वारा जो की सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त ट्रैवल एजेंसी है से 9838452577 पर बुकिंग करा कर इन दर्शनीय स्थलों का भ्रमण करने का लाभ ले सकता है।

जिन 12 स्थानों का भ्रमण कराया जाएगा। उनमें भृगु मंदिर, बालेश्वर मंदिर, चौक शहीद पार्क, कारो धाम, ख़ाकी बाबा टेम्पल खानवर, जनेश्वर मिश्र पार्क, सुरहा ताल, चितेश्वर नाथ मंदिर, गायत्री शक्ति पीठ, चैन राम बाबा समाधि स्थल, माँ मंगला भवानी और श्री नाथ बाबा रसड़ा आदि शामिल है।इसी क्रम में जिस गाड़ी को ज़िलाधिकारी द्वारा हरी झंडी दिखा कर रवाना किया गया उसमें मनीष केशरी, गोयंक गोयल, अनिल वर्मा, विशाल गुप्ता यात्री मौजूद थे।

इस अवसर पर ज़िलाधिकारी ने बताया कि यह एक शुरुआत है। धीरे धीरे बलिया के सभी पर्यटन स्थलों को इसमें जोड़ा जाएगा और बलिया के एवं बलिया के बाहर से आने वाले यात्रियों को एक सुरक्षित माहौल में पर्यटन कराया जाएगा। इस अवसर पर ज़िलाधिकारी के लघु सिंचाई के श्याम सुंदर, पर्यटन सूचना अधिकारी रवि शंकर त्रिपाठी जी व गोयल सर्विसेज़ के रजत अग्रवाल व रजनीकांत सिंह, प्रदीप वर्मा, सौरभ अग्रवाल आदि लोग उपस्थित रहे।

Continue Reading

TRENDING STORIES

error: Content is protected !!