Connect with us

बलिया

‘सत्ता में आए तो सिकंदरपुर को ट्रेन और सलेमपुर को मेडिकल कॉलेज देंगे’

Published

on

सलेमपुर लोकसभा सीट से सपा-बसपा गठबंधन के प्रत्याशी आरएस कुशवाहा ने बलिया ख़बर से खास बातचीत की। इस बातचीत में उन्होंने बताया कि अगर सलेमपुर की जनता उन्हें अपना सांसद चुनती है तो वह यहां रेलवे और स्वास्थ्य व्यवस्था पर विशेष ध्यान देंगे।

उन्होंने इलाके में रेलवे और स्वास्थ्य व्यवस्था की ख़राब स्थिति का ज़िक्र करते हुए कहा कि अगर वह सत्ता में आते हैं तो इसे सुधारने की दिशा में हर संभव प्रयास करेंगे। उन्होंने कहा कि आज़ादी के 70 साल बाद भी यहां की स्थिति बेहद खराब है, जिसमें सुधार की ज़रूरत है।

अगर केंद्र में गठबंधन की सरकार बनती है तो यहां की तस्वीर ज़रूर बदलेगी। जब उनसे पूछा गया कि यहां से दिल्ली-मुंबई के लिए सिर्फ एक ही ट्रेन चलती है, जिससे लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। आप इस स्थिति को सुधारने की दिशा में क्या कदम उठाएंगे? इसके जवाब में कुशवाहा ने कहा कि अभी कई ट्रेनें चल रही हैं, जो यहां रुकती नहीं। पहले हम इन ट्रेनों के ठहराव के लिए प्रयास करेंगे।

और निश्चित रूप से अगर केंद्र में गठबंधन की सरकार आती है तो यहां ट्रेनों की संख्या बढ़ाई जाएगी, जिससे यहां के लोगों को असुविधा न हो। उन्होंने कहा कि सिकंदरपुर में ट्रेन नहीं है, तो हमारा प्रयास होगा कि सिकंदरपुर भी रेलवे से जुड़ जाए। बेल्थरा में ट्रेनों की संख्या बढ़ाने के लिए भी हम प्रयास करेंगे।

इसके साथ ही आरएस कुशवाहा ने इलाके की स्वास्थ्य व्यवस्था पर बात करते हुए कहा कि सलेमपुर में मेडिकल कॉलेज नहीं है, अगर वह सांसद बनते हैं तो यहां मेडिकल कॉलेज की स्थापना के लिए भरपूर प्रयास करेंगे। जब उनसे मौजूदा सांसद के स्वास्थ्य व्यवस्था को लेकर किए जा रहे दावों के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि उनके दावों में कोई दम नहीं है।

उन्होंने कहा कि सलेमपुर के लिए मेडिकल कॉलेज स्वीकृत किया गया था। लेकिन मेडिकल यहां बनने के बजाए देवरिया में बना। अगर सांसद जी का लगाव यहां की जनता से होता तो वो मेडिकल कॉलेज यहां बनता। उन्होंने कहा कि सांसद जी के पास यहां के लोगों के लिए वक्त ही नहीं है। अगर वह चाहते तो यहां का विकास कर सकते थे, लेकिन उन्होंने तो यहां सांसद निधी का पैसा तक खर्च नहीं किया।

इसके बाद जब गठबंधन प्रत्याशी से पूछा गया कि आपकी नज़र में यहां सबसे बड़ी समस्या क्या है और आप सांसद बनने के बाद उस समस्या से किस तरह निपटेंगे? इसके जवाब में कुशवाहा ने कहा कि यहां मेडिकल कॉलेज की ज़रूरत है, सत्ता में आने के बाद वह यहां मेडिकल कॉलेज बनवाएंगे।

उन्होंने आगे कहा कि यहां रेलवे व्यवस्था को भी दुरुस्त किए जाने की ज़रूरत है, जिसे वह करेंगे। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि इलाके में पुलों की कमी है, जिसे वह बनवाएंगे। उन्होंने कहा कि यहां के गांवों में सड़कों का बुरा हाल है। गांव में सड़के की हालत यह है कि गांव के अंदर कार तक नहीं जा पाती, अगर वह सत्ता में आए तो गांव-गांव में अच्छी सड़कें बनवाएंगे, जिससे लोगों को परेशानी का सामना न करना पड़े।

बता दें कि सलेमपुर लोकसभा सीट के लिए सातवें यानी आखिरी चरण में चुनाव होने हैं। इस सीट पर सपा-बसपा गठबंधन के प्रत्याशी आरएस कुशवाहा का मुकाबला बीजेपी के मौजूदा सांसद रविंद्र कुशवाहा और कांग्रेस उम्मीदवार डॉ. राजेश कुमार मिश्र से है।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

बलिया

एयरपोर्ट की तर्ज पर विकसित होगा बलिया का रेलवे स्टेशन

Published

on

बलिया विकसित जिला बनने की दिशा में लगातार अग्रसर है। जिले में अलग-अलग विकास कार्यों के जरिए सुविधाओं का विस्तार किया जा रहा है। इसी कड़ी में अब बलिया के रेलवे स्टेशन को एयरपोर्ट की तरह विकसित किए जाने की तैयारी की जा रही है। बलिया के स्टेशन पर वो सारी सुविधाएं मिलेंगी, जो वाराणसी, गोरखपुर, दिल्ली व मुंबई जैसे बड़े स्टेशनों पर मौजूद रहती है। विकास कार्य पूरा होने पर जिले के रेलवे स्टेशन पर एयरपोर्ट की झलक दिखेगी।

यह सब कुछ सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त की मेहनत से संभव हो पाया है। सांसद ने बताया कि बलिया रेलवे स्टेशन के निकट रेलवे के जमीन पर व सुरेमनपुर रेलवे स्टेशन पर रेलवे के जमीन पर शापिंग कांप्लेक्स बनाया जाएगा। जहां अन्य सामग्रियों के साथ-साथ मोटे अनाजों के सरकारी विक्रय केंद्र स्थापित किए जाएंगे।

सांसद ने जोर देकर कहा कि आचार संहिता के पहले ही आरा से बैरिया को जोड़ने के लिए दो लेन की सड़क व महुली घाट पर सड़क पुल के निर्माण के लिए धन अवमुक्त होगा। इसकी सारी प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। सांसद में स्पष्ट किया कि उक्त सड़क पुल बन जाने के बाद पटना से डेढ़ घंटे में बैरिया व 2 घंटे में बलिया आराम से पहुंचा जा सकेगा। इससे जिलेवासियों को काफी फायदा होगा।

वीरेंद्र सिंह मस्त ने कहा कि बकुलहा में रेलवे यार्ड बनाने का प्रस्ताव रेलवे बोर्ड व रेल मंत्री के समक्ष मैंने रखा है। फिलहाल इसकी मंजूरी प्राप्त नहीं हो सकी है। आने वाले दिनों में वह भी स्वीकृत होगा।

इसके अलावा अच्छी खबर ये भी है कि जल्द ही बलिया से पटना व बलिया से वाराणसी के लिए नई मेमो गाड़ी का परिचालन शुरू होगा। इसकी तिथि तत्काल रेल अधिकारियों से वार्ता करके घोषित किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि दो साल कोरोना ने बर्बाद कर दिया है। बावजूद इसके मैने अपने स्तर से हर संभव विकास कार्य करने का प्रयास किया है। कुछ विकास कार्य हुआ है। कुछ आगे होगा। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया है कि जो भी प्रस्ताव मैंने अपने निधि से सत्संग भवन, सामुदायिक भवन, विद्यालय मे व्यायामशाला के लिए प्रस्ताव दिया है। वह तत्काल शुरू कराया जाए।

उन्होंने सख्त लहजे में कहा कि इसमें कोई हीला हवाली बर्दाश्त नहीं की जाएगी। गर्मी से पूर्व सभी रेलवे स्टेशनों पर पेयजल की समुचित व्यवस्था करने का निर्देश भी पत्रकारों के सामने फोन करके रेल के अधिकारियों को संसद ने दिया।

Continue Reading

बलिया

बलिया: जमुनाराम मेमोरियल स्कूल में हुआ ट्रेनिंग कैम्प और कलर बेल्ट टेस्ट का आयोजन

Published

on

बलिया के चितबड़ागांव के जमुना राम मेमोरियल स्कूल में विभिन्न तरह के कार्यक्रमों का आयोजन कर विद्यालय में पढ़ रहे छात्रों को जागरूक किया जाता है। इसी कड़ी में आज स्कूल में एक दिवसीय कराटे ट्रेनिंग कैम्प और कलर बेल्ट टेस्ट का आयोजन किया गया। ये आयोजन द शोतोकान स्पोर्ट्स कराटे फेडरेशन उत्तर प्रदेश के तत्वाधान में हुआ। इस मौके पर फेडरेशन उत्तर प्रदेश के महासचिव सेंसई एलबी रावत नेशनल रेफ्री कराटे इण्डिया ऑर्गनाइजेशन की उपस्थिति रही।

इस बेल्ट टेस्ट में कराटे की अलग अलग तकनीकों के बारे में बताया गया, इसमें येल्लो बेल्ट
ओम प्रकाश शर्मा, रजनीश गुप्ता, वेद गुप्ता, अमृतेश सिंह, शिव प्रकाश, प्रियल तिवारी, देवाशीष भूषण, अनुपमाराय, रणबीर कुमार, अनूप यादव, संध्या कुमारी पास हुए।

इसके अलावा ऑरेंज बेल्ट एन्डरीव बघेल, तनय यादव,अनमोल गुप्ता, श्रेयशी सिंह, जयवीर सिंह, ग्रीन बेल्ट स्मृति पाठक, अमित विक्रम मिश्रा, ब्लू बेल्ट अंकित यादव हुए पास हुए खिलाड़ियों कों विद्यालय के प्रधानाचार्य ऐब्री बघेल और विद्यालय के प्रबंध निदेशक तुषार नन्द सभी पास हुए।

इस दौरान विद्यालय के प्रबंधक डॉक्टर धर्मात्मा नन्द जी ने बताया कि बालिकाओं को कराटे एवं सेल्फ डिफेन्स की ट्रेनिंग लेना बहुत जरुरी है, इससे वे खुद को आत्मनिर्भर बना सकती है। इस मौक़े पर विद्यालय के कराटे कोच सुनील यादव ने महासचिव एल बी रावत का स्वागत अभिनन्दन किया। इस मौके अपर वरिष्ठ खेल प्रशिक्षक सरदार मुहम्मद अफजल, आनन्द मिश्रा, अरविन्द चौबे आदि उपस्थित रहे।

Continue Reading

बलिया

बलिया: ठेकेदार की लापरवाही! बिना सुरक्षा के काटा गया पेड़ घर पर गिरा, 2 महिलाएं घायल

Published

on

बलिया में ठेकेदारों और कर्मचारियों द्वारा लापरवाही का बडा मामला सामने आया है। यहां पेड़ काटने के दौरान कर्मचारियों ने मानकों का पालन नहीं किया और पेड़ अचानक से एक घर पर जा गिरा। इससे घर में खाना बना रही 2 महिलाएं गम्भीर रूप से घायल हो गई। पेड़ गिरने से पूरा घर जर्जर हो गया है।

अगर ठेकेदार और कर्मचारी सही तरीके से काम करते तो इस हादसे को होने से बचाया जा सकता था। इधर हादसे के बाद स्थानीय लोगों का गुस्सा भी फुट पड़ा और उन्होंने संबंधित ठेकेदार पर कड़ी कार्रवाई की मांग की। घटना बलिया के जलालपुर एनएच-31 की है।

बताया जा रहा है कि गुरुवार सुबह बिना किसी सूचना व सेफ्टी के मजदूर सड़क किनारे सेमर के पेड़ की जड़ से कटाई करवा रहे थे। अचानक पेड़ पूरब पटरी पर स्थित दुर्गावती राय के रिहायशी मकान के प्रथम तल स्थित किचन पर धराशायी होकर गिर पड़ा। किचन में खाना बना रही दुर्गावती की दो बहुएं बबिता राय और पूनम राय गंभीर रूप से घायल हो गईं। घटना के बाद पेड़ कटाई काम करने वाले मजदूर व ठेकेदार वाहन छोड़ भाग खड़े हुए।

आसपास के लोगों ने घायल महिलाओं को उपचार को जिला अस्पताल पहुंचाया। चिकित्सकों ने यहां से ट्रामा सेंटर में भर्ती कर लिया। इस घटना से इलाके के लोगों का गुस्सा फुट पड़ा और उन्होंने कार्रवाई की मांग की। सूचना पर कोतवाल संजय सिंह दलबल के साथ मौके पर तैनात रहे। सिटी मजिस्ट्रेट आईके द्विवेदी व एसडीएम आत्रेय मिश्रा ने घटना स्थल का जायजा ले ट्रामा सेंटर में भर्ती घायलों का हाल जाना। उन्होंने पूरी तरह मदद का भरोसा जताया।

Continue Reading

TRENDING STORIES

error: Content is protected !!