Connect with us

बेल्थरा रोड

नीतीश-तेजस्वी के नारों के बीच सपा ने बेलथरा रोड में मनाया जश्न

Published

on

बलिया। बिहार में महागठबंधन की सरकार बन गयी है। नीतीश कुमार ने आठवीं बार बिहार के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ (CM Nitish Kumar) ली है। तेजस्वी यादव एक बार फिर उपमुख्यमंत्री बने हैं। जदयू आरजेडी के समर्थकों का खुशी का ठीकाना नहीं है। बलिया की सड़कों पर नीतीश-जदयू  के नारे गूंज रहे हैं। बेलथरा रोड में समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने एकदूसरे को मिठाई बांटकर खुशी का इजहार किया। आरजेडी -जदयू कार्यकर्ताओं के साथ साथ  समाजवादी पार्टी के कार्यकर्तों के बीच भी  जश्न का माहौल है।

इस मौके पर समाजवादी पार्टी के नेताओं ने नीतीश के सीएम और तेजस्वी यादव के उपमुख्यमंत्री बनने पर कार्यकर्ताओं के साथ मिठाई बांट कर खुशी का इजहार किया। इस मौके पर सपा के अल्पसंख्यक विभाग के जिला अध्यक्ष मतलूब  अख्तर ने कहा कि आज बिहार की जनता के लिए बहुत बड़ा दिन है। सभी के लिए खुशी की बात है।

इस मौके पर कार्यकर्ताओं ने एक दूसरे को अबीर-गुलाल लगाकर बधाईयां दी। इस दौरान मतलूब अख्तर
अमरजीत चौधरी, हरेराम साधु, अमानुल हक़ अब्बासी, शाहिद इलियास, मोईद अहमद नन्हें, राशिद कमाल पाशा, संजय यादव, शकील अहमद, नंद लाल लोहिया, शोएब शीबू मौजूद रहे।

Advertisement src="https://kbuccket.sgp1.digitaloceanspaces.com/balliakhabar/2022/10/12114756/Mantan.jpg" alt="" width="1138" height="1280" class="alignnone size-full wp-image-50647" />  
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

code

बलिया

बलिया- पीएम आवास योजना में फर्जीवाड़ा, पूर्व प्रधान और बीजेपी नेता को जेल

Published

on

बलिया में पीएम आवास योजना में लगातार फर्जीवाड़ा सामने आने के बाद अब कार्रवाई की गई है। सीयर ब्लॉक के शाहपुर अफगा गांव में आवास का पैसा गबन करने के मामले में कोर्ट ने पूर्व प्रधान और बीजेपी के पूर्व मंडल अध्यक्ष को जेल भेज दिया। आरोपी पूर्व प्रधान आशा कुशवाहा, उनके पति और बीजेपी नेता रणजीत कुशवाहा ने कोर्ट में अग्रिम जमानत अर्जी डाली थी। जिसे खारिज कर दिया।  

मामला 2015 का बताया का है। जिन पर कूटरचना के तहत फर्जी नाम पर आवास का लाखों रुपया गबन का आरोप है। गांव के एक ही एक  व्यक्ति मुन्ना की लिखित शिकायत पर कोर्ट के निर्देश के तहत उभांव थाना में 2017 में नामजद मुकदमा दर्ज किया गया था। बीजेपी नेता रणजीत कुशावाहा पार्टी के मंडल अध्यक्ष भी रहे है। मामले में तत्कालीन सचिव और संबंधित एसबीआई बैंक के उपशाखा के प्रबंधक भी आरोपी हैं।

उभांव थाना में तत्कालीन प्रधान आशा कुशवाहा, उनके पति और भाजपा नेता रणजीत कुशवाहा, तत्कालीन सचिव चैथी राम और एसबीआई उपशाखा के प्रबंधक के खिलाफ संबंधित गबन और धांधली की धाराओं में मुकदमा दर्ज हुआ था। आरोप था कि प्रधान, प्रधान प्रतिनिधि, सचिव और बैंक प्रबंधक की मिलीभगत से फर्जी नाम से कूटरचित दस्तावेज के आधार पर सत्र 2012-13 के आवास आवंटन का पैसा आहरण कर गबन किया गया था।

Continue Reading

featured

बेल्थरा रोड: नगर पंचायत चुनाव जीतने के लिए बीजेपी का मास्टर प्लान ये है?

Published

on

बेल्थरा रोड नगर पंचायत चुनाव के लिए दावेदार तैयार

उत्तर प्रदेश में इन दिनों उपचुनाव की चर्चाएं तेज हैं. मैनपुरी, रामपुर और खतौली में होने वाले उपचुनाव को लेकर सियासी पारा हाई है. लेकिन नेपथ्य में निकाय चुनाव की जमीन तैयार हो रही है. निकाय चुनाव को लेकर 29 नवंबर यानी कल का अपडेट ये है कि सीटों की आरक्षण सूची मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सामने पेश किया जा चुका है. सीएम योगी से हरी झंडी मिलने के बाद आरक्षण सूची जारी होने की संभावना है. बहरहाल, निकाय चुनाव स्पेशल में यहां हम बात करेंगे बलिया ज़िले के बेल्थरा रोड नगर पंचायत की. जहां जीत के लिए के लिए बीजेपी ने एक मास्टर प्लान तैयार किया है. तो दूसरी पार्टियां भी राजनीतिक समीकरण साधने की कवायद में जुटी हैं.

बेल्थरा रोड से फिल्हाल दिनेश कुमार गुप्ता नगर पंचायत अध्यक्ष हैं. एक बार फिर दिनेश कुमार गुप्ता चुनावी मैदान में उतरने की तैयारी में हैं. दिनेश कुमार गुप्ता भाजपा से पीछली बार नगर पंचायत अध्यक्ष बने थे. उनके सामने प्रवीण नारायण गुप्ता, लखी गुप्ता, भगवती राजभर,
मनीष जायसवाल, कालिका प्रसाद गुप्ता, अवधेश यादव, शेख ऐजाजुद्दीन दावेदारी करते दिख सकते हैं.

बात करें बेल्थरा रोड नगर पंचायत की जनसंख्या की. यहां करीब 20 हजार से ज्यादा की आबादी रहती है. इसमें करीब 73 फीसदी जनसंख्या हिंदु समुदाय की है. तो वहीं करीब 26 फीसदी मुस्लिम समुदाय के लोग हैं. मुस्लिम समुदाय की जनसंख्या हिंदुओं की अपेक्षा जरूर कम है. लेकिन हर बार इस वर्ग के मतदाता हार-जीत के बीच खड़े होते हैं. सियासी भाषा में कहें तो किंग मेकर की भूमिका निभाते हैं.

भाजपा का मास्टर प्लान:

बलिया ज़िला पूर्वांचल का हिस्सा है. निकाय चुनाव को जब 2024 लोकसभा चुनाव के लिहाज से देखा जाता है तो इसकी अहमियत बढ़ जाता है. हालांकि निकाय चुनाव को लेकर भाजपा ने अब तक उम्मीदवारों के पत्ते नहीं खोले हैं. सूत्र भाजपा के एक आंतरिक सर्वे के हवाले से बताते हैं कि बलिया और खासकर बेल्थरा रोड की लड़ाई इस बार भाजपा के लिए आसान नहीं है. स्थानीय स्तर पर पार्टी की गुटबाजी, एंटी इनकम्बेंसी, बड़ी संख्या में बगावत ने भाजपा की राहों में कांटे बिछा दिए हैं.

बीते महीने यूपी भाजपा अध्यक्ष भूपेंद्र चौधरी भी बलिया के दौरे पर आए थे. इसके अलावा यूपी सरकार में मंत्री दानिश आजाद अंसारी कई बार बलिया के दौरे पर आ चुके हैं. पसमांदा मुसलमानों को रिझाने के लिए दानिश आजाद अंसारी को आगे किया जा रहा है. दानिश आजाद अंसारी का गृह जिला भी बलिया ही है. भाजपा से जुड़े सूत्रों का कहना है कि नगर पंचायत अध्यक्ष के पद पर पार्टी किसी मुसलमान प्रत्याशी को बैकडोर से मैदान में उतार या सपोर्ट कर सकती है. ताकि मुख्य प्रत्याशी की जीत के लिए मुस्लिम वोट के समीकरण को साधा जा सके.हालांकि मुस्लिम मतदाताओं के प्रभाव को कम करने के लिए भाजपा बलिया की कुछ और सीटों पर यहीं रणनीति अपनाने वाली है. वजह साफ स्थानीय स्तर पर पार्टी के नेतृ्त्व से मुस्लमान समुदाय के मतदाताओं में नाराज़गी है. देखना दिलचस्प होगा कि भाजपा समेत दूसरे दल बेल्थरा रोड से किन प्रत्याशी पर दांव लगाते हैं. साथ ही भाजपा स्थानीय स्तर के आक्रोश और सत्ता विरोधी लहर को कम करने के लिए क्या रणनीति अपनाती है?

Continue Reading

बलिया

बलिया में रंगदारी न देने पर पत्रकार के भाई पर हमला, एक गिरफ्तार, 2 की तलाश जारी

Published

on

बलिया में बदमाशों के हौसले बुलंद हैं। बेल्थरारोड क्षेत्र में एक पत्रकार के भाई पर हमला होने का मामला सामने आया है। जहां 3 हमलावारों ने पत्रकार के भाई पर जानलेवा हमला किया। प्राथमिक उपचार के बाद उन्हें जिला अस्पताल रेफर किया गया। जहां उनका इलाज जारी है।

घटना बेल्थरारोड नगर की अति व्यस्त मोबाइल मार्केट बस स्टेशन गली की है जहां रविवार की दोपहर करीब 1.30 बजे अचानक 3 हमलावर बाइक से आ धमके और दुकानदार से रंगदारी में मोबाइल मांगने लगे। दुकानदार के अनभिज्ञता जाहिर करने पर हमलावर आग बबुला हो गये और हमलाकर बुरी तरह जख्मी कर दिया।

हमलावरों की इस हरकत से आस पास के दुकानदारों में खलबली मच गई और हमलावरों को पकड़ने की कोशिश भी की इस बीच हमलावर ने अपने बचाव में एक मकान की छत पर चढ़ने की कोशिश की लेकिन धरो पकड़ो की माहौल में आम जनता की गिरफ्त में आ गया। एक हमलावर की राहगिरों नें जमकर धुनाई की और सीयर पुलिस चौकी के हवाले कर दिया।

चोटिल हमलावर को स्थानीय पुलिस सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सीयर उपचार के लिए लाई। साथ ही घटना के बाद स्थानीय पुलिस मामले की छानबीन और फरार 2 हमलावरों की तलाश में जुट गई है। बताया जा रहा है कि पत्रकार ने कोई ख़बर चला दी थी जिसके को लेकर इस घटना को अंजाम दिया गया। हालांकि जांच के बाद ही स्पष्ट हो पाएगा। वहीं व्यापारियों में भी नाराजगी देखने को मिल रही है।

Continue Reading

TRENDING STORIES

error: Content is protected !!