Connect with us

बलिया

बलियाः जिला अस्पताल में स्टाफ की कमी, बिना रिलीवर के कार्यमुक्त नहीं होंगे चिकित्सक

Published

on

बलिया जिला अस्पताल में चिकित्सकों का अभाव है। अस्पताल में स्टाफ की कमी के चलते मरीजों को ठीक से इलाज नहीं मिल पा रहा है। स्टाफ के अभाव में खून की जांच, एक्स रे, सिटी स्कैन आदि जांचे नहीं हो पा रही। ऐसे में सीएमएस डॉक्टर दिवाकर सिंह का कहना है कि अब बिना रिलीवर आए चिकित्सक और स्वास्थ्यकर्मी को कार्यमुक्त नहीं किया जाएगा।

CMS का कहना है कि सीमित संसाधनों में अस्पताल आने वाले मरीजों को बेहतर इलाज दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जिन लोगों का अन्य जनपदों के लिए स्थानांतरित किया गया है, जब तक रिलीवर नहीं आएंगे, तब तक उन्हें कार्यमुक्त नहीं किया जाएगा।

बता दें कि जनपद स्तरीय स्वास्थ्य केंद्रों पर सम्बद्ध चिकित्सकों को उनके पूर्व के स्थान पर स्थानांतरित किया जा रहा है। इसे अस्पताल के लिए आवश्यक मानव संपदा को देखते हुए क्रियान्वित किया जाएगा। जिला अस्पताल के 21 चिकित्सा अधिकारियों का स्थानांतरण हो गया है। लेवल वन के 156 डॉक्टरों के सामने 68 चिकित्सा अधिकारियों के पद खाली हैं, लेवल दो के 17 चिकित्सा अधिकारियों में तीन चिकित्सा अधिकारियों का स्थानांतरण हो गया है। एल 3 के 34 चिकित्सा अधिकारियों के सापेक्ष मात्र आठ चिकित्सा अधिकारी हैं। 26 पद रिक्त पड़े हुए हैं।

कुछ ऐसे ही हालत एल 4 लेवल के 14 पदों के सापेक्ष पांच चिकित्सा अधिकारी कार्यरत हैं। इस लेवल के नौ चिकित्सा अधिकारियों के पद रिक्त चल रहे हैं। ऐसे में मरीजों को ठीक से इलाज नहीं मिल पा रहा है।

बलिया

बलियाः फोरलेन लिंक रोड के लिए 238 फुट चौड़ी जमीन का होगा अधिग्रहण

Published

on

बलियाः ग्रीनफील्ड एक्सप्रेस वे के नए अलाइनमेंट के लिए 238 फुट चौड़ी जमीन अधिगृहित की जाएगी। इसको लेकर किसान काफी परेशान हैं क्योंकि फोरलेन का निर्माण होने से कई खेतों के दो टुकड़े हो जाएंगे। ऐसे में किसानों की खेती प्रभावित होगी।

वहीं खेत कटने से सड़क के दूसरे ओर जाना भी मुश्किल होगी। दूसरी ओर 100 से अधिक पेड़ भी काटने होंगे। इस एक्सप्रेस वे के बनने से गड़हांचल के भरौली, बघौना, एकौनी, टुटुवारी आदि गांवों के किसानों की चिंता भी बढ़ गई है। बघौना गांव के किसानों का कहना है कि कई जमीनें के आधे से अधिक हिस्सा अधिग्रहण के दायरे में आ रहे हैं ऐसे में शेष जमीनों पर खेती करना काफी मुश्किल होगा।

क्योंकि खेतों दो टुकड़ों में बंट जाएंगे। किसानों के खेत के बीच से सड़क गुजरेगी। चकमार्ग और नाली भी खत्म हो जाएंगे। इसके अलावा भरौली से करीमुद्दीनपुर तक बनने वाले फोरलेन के बीच 100 से अधिक पुराने पेड़ों को काटना भी पड़ेगा।

बता दें कि बिहार से यूपी को जोड़ने के लिए यह कवायद शुरु हुई है। पहले गंगा पुल के बाद भरौली से हैदरिया तक फोरलेन लिंक रोड बनाकर पूर्वांचल एक्सप्रेस वे से जोड़ने की तैयारी थी लेकिन अब भरौली से फोरलेन लिंक रोड ग्रीनफील्ड से जोड़ने की तैयारी है। इसके लिए कुल 8 लेन बननी है, इसमें 238 फुट चौड़ाई में जमीन अधिग्रहण होगा। हालांकि अभी इसका खुलासा विभाग की ओर से नहीं किया जा रहा है।

Continue Reading

featured

बलिया में सनसनीखेज वारदात, थप्पड़ मारने पर युवती की हत्या, आरोपी ने किया सरेंडर

Published

on

बलिया की कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत बहेरी में युवती की चाकू मारकर हत्या का मामला सामने आया है। जहां 19 वर्षीय सोनू उर्फ दिलशाद ने युवती को मौत के घाट उतार दिया। हत्या करने के बाद आरोपी खुद कोतवाली पहुंच गया और पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया। आरोपी सनकी दिमाग का बताया जा रहा है। पुलिस के सभी आलाधिकारी घटनास्थल पर पहुंचे और मामले की छानबीन में जुट गए है।

जानकारी के मुताबिक घटना रविवार अलसुबह की है। बहेरी का रहने वाला सोनू पुलिस भर्ती की तैयारी कर रहा था। लेकिन युवती ने उसको थप्पड़ मारकर मुकदमे में फंसा कर जीवन खराब करने की धमकी दी थी। तभी से युवक युवती की हत्या की फिराक में था।

रविवार सुबह सोनू ने युवती की चाकू घोंपकर हत्या कर दी और खुद कोतवाली पहुंच गया। यहां उसने पुलिस वालों से कहा कि वह हत्या करके आया है। जिसके बाद कोतवाली में हड़कंप मच गया। आलाधिकारियो को सूचना देने के साथ ही शहर कोतवाल घटना स्थल पर पहुंचने के बाद जिला अस्पताल पहुंच गये। सीओ सिटी प्रीति त्रिपाठी और अपर पुलिस अधीक्षक डीपी त्रिपाठी भी जिला अस्पताल पहुंच गये। आरोपी युवक से पूछताछ की जा रही है।

Continue Reading

बलिया

बलिया- केपी मेमोरियल महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं एवं एनसीसी कैडेट्स ने निकाली तिरंगा यात्रा

Published

on

बलिया: आजादी का अमृत महोत्सव के अंतर्गत केपी मेमोरियल महाविद्यालय, सुहवां रतसर की ओर से शनिवार तिरंगा यात्रा निकाली गई। प्रबंधक अमित कुमार यादव के नेतृत्व में महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं और एनसीसी कैडेट्स ने उत्साह से हाथ में तिरंगा लिए इस यात्रा में प्रतिभाग किया। देशभक्ति नारे के उद्घोष के साथ पूरे रतसर कस्बे में भ्रमण किया गया।

प्रबन्धक अमित यादव ने कहा कि पूरा देश आजादी का अमृत महोत्सव बना रहा है। यह सौभाग्य की बात है कि हम सब स्वतंत्रता सप्ताह और हर घर तिरंगा अभियान के माध्यम से हम आजादी की लड़ाई में बलिदान हुए अमर सेनानियों व वीर सपूतों को याद करते हुए उनको सच्ची श्रद्धाजंलि अर्पित कर रहे हैं। इस अवसर पर एनसीसी कैडेट्स ऑफिसर मो.असलम, धर्मेंद्र यादव, सोनू यादव, जयराम सहित सभी स्टाफ शामिल थे।

Continue Reading

TRENDING STORIES

error: Content is protected !!