Connect with us

Uncategorized

बलिया के दो पूर्व और वाराणसी बीएसए पर हो सकती है कार्यवाही, जांच शुरु

Published

on

बलिया जिले के तीन बेसिक शिक्षा अधिकारियों के ऊपर कार्यवाही की तलवार लटकी हुई नजर आ रही है। हाईकोर्ट के आदेश के बाद एब उत्तरप्रदेश स्कूल शिक्षा महानिदेशक ने तीनों बीएसए के खिलाफ जांच रिपोर्ट संयुक्त शिक्षा निदेशक आजमगढ़ मंडल को सौंपी है।

जानकारी के मुताबिक मामला वर्ष 2011 से संबंधित है। जहां कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालयों में कार्मिकों की नियुक्ति में अनियमितता बरतने के साथ ही कार्मिकों के आवेदन पत्र, अभिलेखों को सुरक्षित न रखने और सम्बन्धित बोर्ड से शैक्षिक अभिलेखों के सत्यापन कराये बिना सम्बन्धित कार्मिकों मानदेय का भुगतान करने सम्बन्धी अनियमितताओं का मामला सामने आया है। इस मामले को लेकर स्कूल शिक्षा के महानिदेशक ने तत्कालीन बीएसए रमा शंकर राम के खिलाफ कार्यवाही के लिए मंडलीय संयुक्त शिक्षा निदेशक को जांच सौंपी थी

आगे जांच में अन्य अधिकारियों के नाम भी सामने आए। नियुक्ति अनियमितता के मामले में तत्कालीन बेसिक शिक्षा अधिकारी बलिया मनोहर प्रसाद के खिलाफ भी अनुशासनिक कार्यवाही करने की जिम्मेदारी मंडलीय संयुक्त शिक्षा निदेशक को शासन ने दी है। वहीं वर्ष 2015-16 में जिले में चर्चित बीएसए रहे राकेश सिंह पर भी कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालयों में कार्मिकों की नियुक्ति में अनियमितता बरतने एवं कार्मिकों के आवेदन पत्र व अभिलेखों को सुरक्षित नहीं रखने और मानदेय भुगतान मे अनियमितता बरतने के आरोप है। वर्तमान में वाराणसी बीएसए राकेश सिंह के खिलाफ अनुशासनिक कार्रवाई के लिए मंडलीय संयुक्त शिक्षा निदेशक आजमगढ़ पदेन जांच अधिकारी नामित किया है।

Uncategorized

बलिया डीएम और एसपी ने किया जिला कारागार का औचक निरीक्षण, दिए ये निर्देश!

Published

on

बलिया। जिला अधिकारी इन्द्र विक्रम सिंह और पुलिस अधीक्षक राजकरण नैयर ने जिला कारागार का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने सभी बैरकों की साफ सफाई देखी और वहां रहने वाले कैदियों से हालचाल पूछा। बातचीत के दौरान उन्होंने कैदियों से उन्हें मिलने वाले भोजन और उनके स्वास्थ्य के संबंध में जानकारी ली।जिलाधिकारी के साथ पुलिस अधीक्षक ने जिला कारागार में अस्पताल का निरीक्षण किया और अस्पताल में भर्ती मरीजों से बातचीत की। इसके अतिरिक्त उन्होंने कैदियों को दिए जाने वाले भोजन का निरीक्षण किया और उसकी साफ-सफाई तथा गुणवत्ता का निरीक्षण किया। जिलाधिकारी ने उन्होंने जेल अधीक्षक लाल रत्नाकर सिंह को निर्देश दिया कि जेल में साफ सफाई पर विशेष ध्यान दिया जाए ताकि बारिश के समय जेल में किसी प्रकार का जलभराव ना होने पाए बताते चलें कि पिछले वर्ष जेल में जलभराव होने के कारण कैदियों को आजमगढ़ और मऊ जेल में शिफ्ट किया गया था।

Continue Reading

Uncategorized

86 लाख की लागत से गंगा कटान से बचाव की तैयारी, बनिया और सोनारटोला में होंगे रिवेटमेंट कार्य

Published

on

बलिया के गंगा किनारे बसे गांवों में बारिश के समय हालात काफी खराब हो जाते हैं। गंगा का तेज बहाव मैदानी इलाकों को काटने लगता है। कटान से रामगढ़ इलाके के बनिया और सोनार टोला गांव सबसे ज्यादा प्रभावित होते हैं। ऐसे में अब विभाग ने इन गांवों को गंगा की कटान से बचाने के लिए तैयारी शुरु कर दी है।

विभाग के द्वारा 86 लाख खर्च कर कटान से बचाव किया जाएगा। इसके तहत पिछले साल के कटान में धाराशायी 100 मीटर लंबाई के बीच रिवेटमेंट कार्य किए जाएंगे। इसकी प्रकिया शुरु कर दी गई है। अधिकारियों के अनुसार कार्य अल्पकालीन निविदा के तहत होगा, यानि कि ठेकेदार को तय समय में ही कार्य पूरा करना होगा, ऐसा नहीं होने पर उसके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी।

वहीं बाढ़ खंड के अवर अभियंता प्रशांत गुप्ता ने बताया, बनिया व सोनार टोला के पास पिछले वर्ष कटान में क्षतिग्रस्त कार्य के पुनर्निर्माण के लिए टेंडर डाले जा चुके हैं। यहां करीब 86 लाख की लागत से अल्पकालीन निविदा के तहत बचाव कार्य कराए जाएंगे। टेंडर खुलने के साथ ही बचाव कार्य शुरू करा दिया जाएगा।

बता दें कि बलिया में बारिश के समय लोगों का काफी ज्यादा परेशानी होती है। जरा सी ही बारिश में शहरों के अंदर पानी भर जाता है, तो वहीं नदियां भी रौद्र रुप में नजर आती है। ज्यादा बारिश होने पर बाढ़ की स्थिति बन जाती है। करीब 4 महीनों में हर साल बाढ़ और कटान से लोगों को काफी नुकसान होता है। फसलें चौपट हो जाती हैं तो वहीं कई जगह खेत तक बह जाते हैं। इन परेशानियों को देखते हुए इस बार विभाग ने बचाव कार्य शुरु कर दिया है।

Continue Reading

Uncategorized

बलियाः पेपर लीक कांड में आरोपी शिक्षक पर लगी रासुका

Published

on

बलिया पेपर लीक मामले में बड़ी कार्यवाही हुई है। पुलिस ने आरोपी शिक्षक पर रासुका लगाई है। मामले में अब तक 5 आरोपियों के खिलाफ रासुका की कार्यवाही की जा चुकी है। सभी आरोपी जेल में है। वहीं मामले में उच्च अधिकारियों की टीम लगातार जांच कर रही हैं।

जानकारी के मुताबिक नगरा पुलिस ने रसड़ा कोतवाली क्षेत्र के छिब्बी निवासी अविनाश गौतम पर रासुका की कार्रवाई की है। अविनाश, सुभाष इंका ताड़ीबड़ा गांव में अंग्रेजी के शिक्षक थे। आरोपी ने अंग्रेजी का पेपर साल्व किया था। इस मामले में पुलिस ने मां लचिया देवी मूरत यादव इंटर कालेज पशुहारी के केंद्र व्यवस्थापक अक्षयलाल यादव के साथ ही मास्टर माइंड समेत चार आरोपितों पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) लगाया गया था।

इसमें मास्टर माइंड महराजी देवी स्मारक इंटर कालेज भीमपुरा के प्रबंधक निर्भय नारायण सिंह व नकल माफिया राजू प्रजापति निवासी मऊ, रविद्र नाथ सिंह पुत्र स्व. रामाधार सिंह निवासी अवराई खुर्द थाना भीमपुरा के खिलाफ रासुका की धारा में बढ़ाई जा चुकी है। अब अविनाश गौतम पर भी रासुका लगाई गई है। जिसके बाद संख्या पांच हो गई है।

पेपर लीक कांड में कुल 52 लोगों को गिरफ्तारी हुई थी जिसमें डीआईओएस ब्रजेश मिश्रा भी शामिल थे। कुछ आरोपियों को जमानत मिल चुकी हैं। वहीं अन्य आरोपियों के खिलाफ कार्यवाही जारी है। बता दें कि 30 मार्च को भीमपुरा थाना के किड़िहरापुर स्थित परीक्षा केंद्र महाराजी देवी स्मारक इंटर कालेज के प्रबंधक ने ही प्रश्नपत्र को समय से पहले ही निकाल लिया। कंप्यूटर कार्य करने वाले राजू प्रजापति ने फोटो कापी कर अंग्रेजी शिक्षक अविनाश गौतम तक पेपर पहुंचाया। अविनाश ने पेपर हल कर वापस निर्भय सिंह को उपलब्ध कराया था।

Continue Reading

TRENDING STORIES

error: Content is protected !!