Connect with us

बलिया

राज्यमंत्री ने जारी किया शेर-ए-बलिया के सम्मान में विशेष लिफाफा, जानें क्या है खास

Published

on

उत्तर प्रदेश सरकार में राज्यमंत्री और विधायक उपेंद्र तिवारी ने शेर-ए-बलिया चित्तू पांडेय के सम्मान में विशेष डाक लिफाफा जारी किया।

उत्तर प्रदेश सरकार में राज्यमंत्री और विधायक उपेंद्र तिवारी ने शेर-ए-बलिया चित्तू पांडेय के सम्मान में विशेष डाक लिफाफा जारी किया। भारतीय डाक विभाग राष्ट्रीय डाक सप्ताह के अंतर्गत आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है। इसी के तहत बलिया मंडल के डाकघर अधिक्षक द्वारा फिलेटरी दिवस मनाया गया। इस मौके पर कार्यक्रम के मुख्य अतिथि राज्यमंत्री उपेंद्र तिवारी ने स्वतंत्रता सेनानी चित्तू पांडेय के सम्मान में डाक लिफाफा जारी किया ।

बलिया जिले के फेफना विधानसभा सीट से भारतीय जनता पार्टी के विधायक उपेंद्र तिवारी ने कहा कि 1857 में देश की आजादी के लिए मंगल पांडेय ने जो चिंगारी जलाई वो चित्तू पांडेय के समय तक आंधी का रूप धर चुकी थी। चित्तू पांडेय देश की आजादी के लड़ाई के अमर सेनानी हैं। राष्ट्रीय डाक सप्ताह के अंतर्गत आयोजित इस कार्यक्रम में चित्तू पांडेय के प्रपौत्र जैनेंद्र पांडेय की विशेष मौजूदगी रही। जैनेंद्र पांडेय ने कार्यक्रम में आए लोगों को चित्तू पांडेय के जीवन के बारे में बताया।

डाक अधिक्षक संजय त्रिपाठी ने बताया कि कोई भी व्यक्ति सिर्फ ढ़ाई सौ रुपए भुगतान कर अपना फिलेटरी खाता खोलवा सकता है। जिसमें भारतीय इतिहास संबंधित डाक टिकट संग्रह के लिए उपलब्ध कराया जाएगा। बलिया में आयोजित इस कार्यक्रम में सेनानी राम विचार पांडेय और द्विजेंद्र मिश्र भी मौजूद रहे।

जानिए चित्तू पांडेय को: चित्तू पांडेय का जन्म बलिया जिले के रट्टूचक गांव में हुआ था। कहा जाता है कि चित्तू पांडेय ही वो शख्स थे जिन्होंने बलिया को देश की आजादी के पांच साल पहले ही आजाद करा लिया था। चित्तू पांडेय का जन्म 10 मई, 1865 को हुआ था। देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू और भारत की आजादी में महत्वपूर्ण योगदान देने वाले सुभाष चंद्र बोस ने चित्तू पांडेय को शेर-ए-बलिया कहा था।

1942 के अगस्त क्रांति के दौरान चित्तू पांडेय ने बलिया में अपनी सेना की एक टुकड़ी बनाकर अंग्रेजों को जिले से खदेड़ दिया था। लंबे समय तक बलिया में चित्तू पांडेय ने ब्रिटिश हुकूमत के सामानांतर अपनी सरकार चलाई थी। लेकिन फिर अंग्रेजों ने शासन हथिया लिया था। देश के आजाद होने से पहले ही 1946 में चित्तू पांडेय की मृत्यू हो गई थी।

बलिया

बलिया- बीजेपी के IT और सोशल मीडिया विभाग के विधानसभा प्रभारियों की सूची जारी, देखें लिस्ट

Published

on

बलिया। उत्तरप्रदेश में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर सभी पार्टियों ने तैयारी तेज कर दी है। बीजेपी भी हर जिले में संगठन को मजबूत करने में लगी है। पदाधिकारियों को नियुक्ति कर रही है। बलिया में भी भारतीय जनता पार्टी आईटी और सोशल मीडिया विभाग के विधानसभा प्रभारियों की सूची जारी कर दी है। सभी विधानसभा प्रभारियों को सोशल मीडिया के माध्यम से पार्टी को और मजबूत करने की जिम्मेदारी की गई है। ताकि सोशल मीडिया के माध्यम से भी संगठन का विस्तार किया जा सके।

भारतीय जनता पार्टी ने रसड़ा और बांसडीह विधानसभा की जिम्मेदारी आईटी विभाग के जिला संयोजक जयप्रकाश जायसवाल को दी गई है। बलिया सदर की जिम्मा आईटी विभाग के सहसंयोजक संजीव सिंह को दी है। इसके अलावा सोशल मीडिया विभाग के जिला संयोजक आशीष पांडेय राहुल को फेफना की जिम्मेदारी दी है। जबकि सिकंदरपुर और बैरिया विधानसभा की जिम्मा सोशल मीडिया विभाग के जिला सह संयोजक संतराज चौरसिया को दिया है। और बेल्थरारोड की जिम्मेदारी सोशल मीडिया विभाग के सह संयोजक अंकित सिंह को दी है।

Continue Reading

बलिया

त्योहार पर हर वक्त रोशन रहेगा बलिया, 24 घंटे बिजली सप्लाई करने की ‘प्लानिंग’

Published

on

बलिया। त्योहारों में जिलेवासियों के लिए खुशखबरी है। जहां दिवाली से लेकर छठ पूजा तक निर्बाध बिजली सप्लाई करने की तैयारी में बिजली विभाग जुटा है। लोगों को त्योहार के समय बिना किसी बाधा के बिजली मिल सके इसके लिए बिजली विभाग के अफसर अभी से तैयारियों में जुट गए हैं। सब स्टेशनों पर अफसरों की जिम्मेदारी तय की गई है। अधिकारी व कर्मचारी पूरी तरह से मुस्तैद रहेंगे। त्योहारों में बिजली के बढ़ते लोड को देखते हुए विभाग ट्रांसफार्मरों के मरम्मत के साथ कमजोर तारों को बदलने और हल्की कमियों को दूर करने में जुटा है।

दरअसल दीपावली में अधिकांश घरों पर झालरों की सजावट होती है। लोड बढ़ने से कटौती होती है। कर्मचारी अभी से ट्रांसफार्मरों के लोड चेक करने के साथ ही उसकी कमी को दुरूस्त करने में जुट गए हैं। ट्रांसफार्मरों में फ्यूज तार और ऑयल लेवल भी चेक किया जा रहा है। कोई ट्रांसफार्मर लीकेज मिलता है तो उसका टॉपअप करके लीकेज बंद किया जा रहा है। लूज एलटी और एचटी लाइनों का खिचाव भी किया जा रहा है। अधीक्षण अभियंता आरके जैन ने पेट्रोलिग का निर्देश दिया है।

वहीं विद्युत वितरण खंड द्वितीय के अधिशासी अभियंता चंद्रेश उपाध्याय ने बताया कि त्योहारों को लेकर विभाग की तैयारी पूरी है। दीपावली से लेकर छठ पूजा तक उपभोक्ताओं को निर्बाध बिजली सप्लाई की जाएगी। इस दौरान उन्होंने बिजली उपभोक्ताओं से भी अपील की। कहा कि उपभोक्ता भी बिजली बचत पर ध्यान दें।

Continue Reading

featured

प्रदेश में चला तबादला एक्सप्रेस, बदल गए बलिया के ASP और DSP

Published

on

प्रदेश में चला तबादला एक्सप्रेस, बदल गए बलिया के ASP और DSP

बलिया जिले के प्रशासनिक महकमे में बड़ा फेरबदल हुआ है। जिले के अपर पुलिस अधीक्षक और पुलिस उपाधीक्षक बदल दिए गए हैं। बलिया में तीन साल से अपर पुलिस अधीक्षक संजय कुमार गुरूवार यानी आज तबादला हो गया है। संजय कुमार के स्थान पर यह जिम्मेदारी विजय त्रिपाठी को सौंपी गई है। विजय त्रिपाठी बलिया जिले के नए अपर पुलिस अधीक्षक बनाए गए हैं।

पुलिस अधिक्षक के साथ ही बलिया के पुलिस उपाधीक्षक भी बदल दिए गए हैं। बलिया के पुलिस उपाधिक्षक अशोक कुमार त्रिपाठी का तबादला हरदोई जनपद में कर दिया गया है। बता दें कि हरदोई जनपद के पुलिस उपाधिक्षक शिवराम कुशवाहा को बलिया भेजा गया है। अब बलिया जनपद के नए पुलिस उपाधीक्षक शिवराम कुशवाहा हैं।

बता दें कि बलिया जनपद के नए अपर पुलिस अधीक्षक विजय त्रिपाठी पीपीएस अधिकारी हैं। इससे पहले उनकी तैनाती वाराणसी में उप सेनानायक 36 वीं वाहिनी पीएसी के पद पर थी। वाराणसी से उन्हें बलिया में अपर पुलिस अधीक्षक पद का कमान संभालने भेजा गया है।

देखना होगा कि दोनों नए अधिकारियों के आने से बलिया के माहौल पर क्या फर्क पड़ता है? पुलिस विभाग के अन्य अधिकारी भी अपने नए अपर पुलिस अधीक्षक और पुलिस उपाधीक्षक उत्साहित हैं। गौरतलब है कि आज उत्तर प्रदेश में शासन की ओर से तबादला एक्सप्रेस दौड़ाया गया था। जो प्रदेश के कई जनपदों से होकर गुजरा है। इस रूट में बलिया का भी नाम आ गया। जिसके चलते अपर पुलिस अधीक्षक और उपाधीक्षक का तबादला हो गया।

Continue Reading

TRENDING STORIES

error: Content is protected !!